ध्वनि प्रदूषण: जल्द ही कारों के कानफोड़ू प्रेशर हॉर्न की जगह सुनाई देंगी तबला और बांसुरी की आवाजें, सरकार करने जा रही है सख्ती!

Harendra Chaudhary Harendra Chaudhary
Updated Sat, 25 Sep 2021 03:08 PM IST

सार

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि इसका अहसास उन्हें तब हुआ जब वे सुबह को प्राणायाम करते थे और उन्हें बेतरतीब से बजने वाले हॉर्न से दिक्कत होती थी और बाधा उत्पन्न होती थी। यहां तक कि नागपुर आवास की 11वीं मंजिल पर भी उन्हें ये आवाजें सुनाई देती थीं...
Nitin Gadkari Car horn
Nitin Gadkari Car horn - फोटो : for reference only
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

स्कूलों और अस्पतालों के 100 मीटर के दायरे में प्रेशर या कानफोड़ू हॉर्न बजाने पर पहले से ही सुप्रीम कोर्ट की पाबंदी है। लेकिन अब सरकार भी प्रेशर हॉर्न से पैदा होने ध्वनि प्रदूषण की रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाने जा रही है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी अब इन पर रोक लगाने के लिए नए कानून लाने जा रहे हैं। अगर ये कानून लागू होते हैं तो जल्द ही प्रेशर हॉर्न की जगह संगीत की मधुर धुनें सुनने को मिलेंगी। हाालंकि सरकार इससे पहले 2017 में भी ऐसी कवायद कर चुकी है। तब भी केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने हॉर्न के शोर को 100 डेसिबल से कम करने का सुझाव दिया था। विशेषज्ञों का कहना है कि आठ घंटे तक 93 डीबी से अधिक ध्वनि के संपर्क में रहने पर कानों की सुनने की क्षमता को नुकसान हो सकता है।
विज्ञापन

लॉकडाउन में घट गया था प्रदूषण

कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान वाहनों से होने वाले वायु प्रदूषण में तो कमी आई ही साथ ही ध्वनि प्रदूषण भी सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया था। लोग घरों में रहने को मजबूर हो गए थे, न तो सड़कों पर ट्रैफिक था और न ही वाहनों कानफोड़ू हॉर्न की आवाजें। उस वक्त तो मोहल्लों में लाउडस्पीकर भी बजना बंद हो गए थे। लेकिन अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होते ही अब वहीं आवाजें फिर से आना शुरू हो गई हैं। बहुत कम लोगों को जानकारी है कि ध्वनि प्रदूषण न केवल हमें मानसिक रूप से नुकसान पहुंचाता है बल्कि शारीरिक तौर पर भी हानिकारक है। इससे न केवल कॉर्डियोवेस्कुलर डिजिज, एंजाइटी, सिरदर्द, एकाग्रता की कमी और बहरापन जैसी समस्या हो सकती हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00