लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

December Car Scheme: साल के आखिरी महीने में कार कंपनियां क्यों देती हैं बंपर छूट, जानें किसे होता है फायदा

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: समीर गोयल Updated Wed, 07 Dec 2022 01:08 PM IST
For Reference Only
1 of 4
विज्ञापन

हर साल दिसंबर महीने की शुरूआत होते ही वाहन निर्माताओं की ओर से अलग-अलग तरह की स्कीम्स की घोषणा की जाती है। इन स्कीम्स के जरिए वह ग्राहकों को रिझाने की कोशिश करती हैं। आखिर किस तरह से इन स्कीम्स के जरिए ग्राहकों को फायदा होता है और कैसे इस तरह की छूट कंपनियों को भी फायदा देती है, आइए जानते हैं।

दिसंबर महीने में मिलती है बंपर छूट

टाटा की कारें
2 of 4
दिसंबर साल का आखिरी महीना होता है। इसलिए लगभग सभी वाहन निर्माताओं की ओर से कंपनी की कारों, बाइक्स और स्कूटर पर छूट की घोषणा की जाती है। इस छूट में एक्सचेंज ऑफर्स, कॉर्पोरेट डिस्काउंट, रूरल डिस्काउंट, कैश डिस्काउंट, मेंटिनेंस पैकेज और एक्सेसरीज पर छूट, क्रेडिट कार्ड्स पर अतिरिक्त लाभ, लो इंटरेस्ट रेट्स जैसे ऑफर दिए जाते हैं।

यह भी पढ़ें - Car Care Tips: कार में क्लच का होता है महत्वपूर्ण काम, इन पांच तरीकों से बढ़ाएं क्लच की उम्र
विज्ञापन

ग्राहक को क्या होता है फायदा

For Reference Only
3 of 4
कंपनियों की ओर से साल के आखिरी महीने में मिलने वाले ऐसे डिस्काउंट्स पर ग्राहक भी आकर्षित होते हैं। कुछ मामलों में ग्राहकों को भी ऐसी छूट का फायदा होता है। दरअसल, भारत में बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जो कार या बाइक को कुछ समय के लिए नहीं बल्कि सात से दस साल जैसी लंबी अवधि के लिए खरीदते हैं। इन ग्राहकों को दिसंबर महीने में मिलने वाले ऑफर्स का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि वाहन की कीमत में कई तरह की छूट मिल जाती हैं। जिससे काफी कम कीमत, आसानी से मिलने वाले लोन ऑफर्स के साथ कम पैसे देकर वाहन मिल जाता है।

यह भी पढ़ें - PDI Checking: नई कार की डिलीवरी लेने से पहले शोरूम पर जरूर करें ये काम, नहीं तो बाद में होगी बड़ी परेशानी

कंपनी को क्या मिलता है फायदा

मारुति की सीएनजी कारें
4 of 4
दिसंबर महीने में मिलने वाली बंपर छूट का सबसे ज्यादा फायदा ग्राहकों को नहीं बल्कि वाहन निर्माताओं को होता है। भारत में नवरात्रि से शुरू होने वाले फेस्टिव सीजन से ही वाहनों की बिक्री होने लगती है। जो दिवाली तक जारी रहती है। ऐसे में कंपनियां बड़ी संख्या में स्टॉक तैयार कर लेती हैं। साल के आखिरी महीनों में नवरात्रि और दिवाली आने के कारण कंपनियों के पास तैयार हुए स्टॉक को खत्म करने के लिए काफी कम समय रह जाता है। अगर यह स्टॉक नए साल तक खत्म ना हो तो फिर उन्हें अपडेट करने में कंपनियों को समय, मेहनत और पैसा ज्यादा खर्च करना पड़ता है। जो कंपनियों के लिए फायदे का सौदा नहीं होता। इसलिए कंपनियों की कोशिश होती है कि जो भी स्टॉक बच गया है उसे दिसंबर महीने में ऑफर देकर खत्म कर दिया जाए।

यह भी पढ़ें - PUC Certificate: क्या होता है पीयूसी सर्टिफिकेट, कैसे और कहां मिलता है, यहां मिलेगी पूरी जानकारी
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00