लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Bihar ›   Patna ›   NIA conducts searches in Bihar in Maoist recruitment case

Bihar News: माओवादी भर्ती मामले में एनआईए ने बिहार में छह ठिकानों पर मारा छापा, आपत्तिजनक सामग्री जब्त

पीटीआई, पटना Published by: Jeet Kumar Updated Sat, 03 Sep 2022 02:23 AM IST
सार

एनआईए के प्रवक्ता ने बताया कि कामरूप, नलबाड़ी, डिब्रूगढ़, तिनसुकिया, सादिया, चराइदेव और शिवसागर में तलाशी के दौरान डिजिटल उपकरण, हथियार के साथ आपत्तिजनक दस्तावेज और साहित्य जब्त किया गया।

एनआईए की छापेमारी
एनआईए की छापेमारी - फोटो : Social media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

राष्ट्र जांच एजेंसी (एनआईए) ने शुक्रवार को माओवादियों की भर्ती और वसूली मामले में बिहार में कई जगह छापा मारा। एनआईए के प्रवक्ता ने बताया कि औरंगाबाद, गया, रोहतास और पटना जिले में आरोपियों और संदिग्धों के आधा दर्जन ठिकानों पर तलाशी ली गई।



यह मामला शुरू में रोहतास पुलिस ने 12 अप्रैल को दर्ज किया था। बाद में एनआईए ने 26 अप्रैल को दोबारा एफआईआर दर्ज की। अधिकारी ने बताया कि तलाशी में डिजिटल उपकरणों और दस्तावेज समेत आपत्तिजनक सामग्री जब्त की गई है। मामले में जांच जारी है। 


उल्फा के ठिकानों पर तलाशी में हथियार बरामद
एनआईए ने शुक्रवार को प्रतिबंधित उग्रवादी समूह यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (उल्फा) की गतिविधियों और युवाओं की भर्ती से जुड़े मामले में असम के सात जिलों में 16 ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया। एनआईए के प्रवक्ता ने बताया कि कामरूप, नलबाड़ी, डिब्रूगढ़, तिनसुकिया, सादिया, चराइदेव और शिवसागर में तलाशी के दौरान डिजिटल उपकरण, हथियार के साथ आपत्तिजनक दस्तावेज और साहित्य जब्त किया गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00