लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   Adani Group moves Kerala HC seeking central forces protection at Vizhinjam port

Kerala Violence: अदाणी समूह केंद्रीय बलों की तैनाती की मांग के लिए हाईकोर्ट पहुंचा, अब सात को होगी सुनवाई

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: विवेक दास Updated Fri, 02 Dec 2022 07:00 PM IST
सार

Kerala Violence: अदालत ने राज्य और केंद्र सरकारों से अदाणी समूह की याचिका के संबंध में अपना जवाब दाखिल करने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई 7 दिसंबर को होगी। इस बीच, राज्य सरकार ने अदालत को सूचित किया कि हिंसा के संबंध में बिशप सहित कई लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए और पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया।

केरल में थाने पर हमला मामला
केरल में थाने पर हमला मामला - फोटो : Social Media
विज्ञापन

विस्तार

अदाणी समूह ने निर्माणाधीन विझिंजम बंदरगाह पर केंद्रीय बलों की सुरक्षा की मांग के लिए केरल उच्च न्यायालय का रूख किया। समूह ने याचिका में तिरुवनंतपुरम में विझिंजम बंदरगाह पर निर्माण कार्य के दौरान केंद्रीय बलों को तैनात करने का निर्देश देने की मांग की है। हाल ही में उक्त स्थल पर हिंसक विरोध प्रदर्शनों के कारण काम रुक गया था। न्यायमूर्ति अनु शिवरामन ने विरोध प्रदर्शनों, काम में बाधा और नाकाबंदी के खिलाफ अदाणी समूह की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए राज्य और केंद्र सरकारों से केंद्रीय बलों की तैनाती की संभावना पर चर्चा करने को कहा है।



अदालत ने राज्य और केंद्र सरकारों से अदाणी समूह की याचिका के संबंध में अपना जवाब दाखिल करने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई 7 दिसंबर को होगी। इस बीच, राज्य सरकार ने अदालत को सूचित किया कि हिंसा के संबंध में बिशप सहित कई लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए और पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया। हालांकि, अदाणी समूह की ओर से अदालत को बताया कि इस मामले के कई आरोपी, जिनमें एक खास संप्रदाय के कई पुजारी शामिल हैं, अभी भी विरोध स्थल पर मौजूद हैं।


पुलिस थाने पर किया गया था हमला
लैटिन कैथोलिक चर्च के नेतृत्व में आंदोलनकारियों की भीड़ ने अदाणी के बंदरगाह के निर्माण के विरोध में रविवार रात विझिंजम पुलिस थाने पर हमला कर दिया था। जिसमें कम से कम 29 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे और पुलिस वाहनों को नुकसान पहुंचाया गया था। भीड़ ने डंडों और ईंटों से पुलिस स्टेशन को निशाना बनाया था। अदाणी समूह के निर्माण स्थल पर 26 नवंबर को हिंसक विरोध प्रदर्शन के सिलसिले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार करने और अन्य को हिरासत में लेने के विरोध में पुलिसकर्मियों पर हमला किया गया था। 

3000 से ज्यादा पर केस दर्ज
विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा के मामले में तीन हजार से ज्यादा लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। विशेष शाखा के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना में 29 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। उन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। प्रदर्शनकारियों ने मौके पर मौजूद मीडियाकर्मियों पर भी हमला किया। एक पत्रकार का कैमरा क्षतिग्रस्त कर दिया और उनका मोबाइल छीन लिया। 

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00