लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   India records over 23 billion digital payments worth Rs 38.3 lakh crore in third quarter of FY23

Digital Economy: 38.3 लाख करोड़ के डिजिटल लेनदेन में UPI का सर्वाधिक 84% हिस्सा, 358 बैंक दे रहे हैं सुविधा

अमर उजाला ब्यूरो, नई दिल्ली। Published by: देव कश्यप Updated Tue, 06 Dec 2022 05:37 AM IST
सार

वर्ल्डलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक, तीसरी तिमाही में 32.5 लाख करोड़ रुपये के यूपीआई आधारित 19.65 अरब से ज्यादा लेनदेन हुए। 2021 की जुलाई-सितंबर से तुलना करें तो यूपीआई लेनदेन संख्या के लिहाज से इस बार 88 फीसदी और मूल्य के लिहाज से 71 फीसदी ज्यादा हुआ। 

यूपीआई लेनदेन (सांकेतिक तस्वीर)।
यूपीआई लेनदेन (सांकेतिक तस्वीर)। - फोटो : Twitter@rbi
विज्ञापन

विस्तार

डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने की सरकार की कोशिशों की वजह से ऑनलाइन लेनदेन में तेजी आई है। कैलेंडर वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही यानी जुलाई-सितंबर के दौरान देश में 38.32 लाख करोड़ रुपये के 23.06 अरब डिजिटल लेनदेन हुए। इसमें यूपीआई लेनदेन सर्वाधिक 84 फीसदी रहा। डिजिटल लेनदेन में यूपीआई, डेबिट-क्रेडिट कार्ड, मोबाइल वॉलेट जैसे प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट और प्रीपेड कार्ड से हुए लेनदेन भी शामिल हैं।



वर्ल्डलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक, तीसरी तिमाही में 32.5 लाख करोड़ रुपये के यूपीआई आधारित 19.65 अरब से ज्यादा लेनदेन हुए। 2021 की जुलाई-सितंबर से तुलना करें तो यूपीआई लेनदेन संख्या के लिहाज से इस बार 88 फीसदी और मूल्य के लिहाज से 71 फीसदी ज्यादा हुआ। कुल डिजिटल लेनदेन में यूपीआई पर्सन-2-मर्चेंट (पी2एम) व पर्सन-2-पर्सन (पी2पी) के जरिये उपभोक्ताओं ने सबसे ज्यादा 42 फीसदी लेनदेन किए।


यूपीआई : 358 बैंक दे रहे हैं सुविधा
सितंबर तक यूपीआई लेनदेन की सुविधा देने वाले बैंकों की संख्या 358 रही। जिन पांच बैंकों से सबसे ज्यादा भुगतान हुआ, उनमें एसबीआई, एचडीएफसी बैंक,  बैंक ऑफ बड़ौदा, यूनियन बैंक और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं।

  • जिन पांच बैंकों को सबसे ज्यादा भुगतान हुआ, उनमें पेटीएम पेमेंट्स बैंक, यस बैंक, एसबीआई, एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं।
  • यूपीआई लेनदेन के लिए उपभोक्ताओं ने जिन तीन एप का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया, उनमें फोनपे, गूगल पे, पेटीएम पेमेंट्स बैंक एप शामिल हैं।


क्रेडिट और डेबिट कार्ड 1.01 अरब सर्कुलेशन में
जुलाई-सितंबर अवधि तक 1.01 अरब क्रेडिट-डेबिट कार्ड सर्कुलेशन में हैं। इस दौरान क्रेडिट कार्ड की संख्या सालाना आधार पर 19 फीसदी बढ़कर 7.77 करोड़ पहुंच गई। डेबिट कार्ड की संख्या 92.03 करोड़ से 2 फीसदी बढ़कर 93.85 करोड़ पहुंच गई।

विज्ञापन
  • कुल लेनदेन में क्रेडिट-डेबिट कार्ड की हिस्सेदारी संख्या के लिहाज से 7 फीसदी और मूल्य के हिसाब से 14 फीसदी रही।
  • जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान क्रेडिट कार्ड से 3.5 लाख करोड़ रुपये के 7.25 करोड़ लेनदेन हुए।
  • डेबिट कार्ड से 90.7 करोड़ लेनदेन में 1.88 लाख करोड़ रुपये के लेनदेन हुए।


फास्टैग : सितंबर तक 5.88 करोड़ जारी
सितंबर, 2022 तक 36 बैंकों से 5.88 करोड़ एनईटीसी फास्टैग जारी किए गए हैं।

मोबाइल वॉलेट
तीसरी तिमाही में 551.8 अरब डॉलर के 1.44 अरब लेनदेन हुए। संख्या के लिहाज से सालाना आधार पर यह 19 फीसदी बढ़ा है, जबकि मूल्य के हिसाब से 9 फीसदी घटा है।

आधार आधारित भुगतान सेवा
इसके जरिये 840.5 अरब रुपये के 65.1 करोड़ लेनदेन हुए। संख्या और मूल्य के लिहाज से वृद्धि 13-13 फीसदी रही।

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00