Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   Share Market: LIC IPO to be listed today, 26 PSUs listed in 13 years, 15 gave losses

LIC IPO Share Listing : एलआईसी आईपीओ आज होगा सूचीबद्ध, बीते 13 साल में 26 पीएसयू आए, इनमें से 15 ने दिया घाटा

अजीत सिंह, अमर उजाला, मुंबई। Published by: योगेश साहू Updated Tue, 17 May 2022 05:08 AM IST
सार

बीएसई के पीएसयू इंडेक्स के मुताबिक, सबसे ज्यादा घाटा देने वालों में न्यू इंडिया इंश्योरेंस भी है। इसने भी 87% घाटा दिया है। 2017 में 800 रुपये पर आईपीओ आया था और अब 104 रुपये पर है। पंजाब एंड सिंध बैंक के शेयर ने भी 87 फीसदी का घाटा दिया है। यह 2010 में 120 रुपये पर आया था और अब 15 रुपये पर है।

एलआईसी आईपीओ
एलआईसी आईपीओ - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

एलआईसी के शेयर मंगलवार को सूचीबद्ध होंगे। इसे लेकर निवेशकों के बीच अच्छा माहौल नहीं है। इससे पहले भी सरकारी कंपनियों (पीएसयू) के साथ निवेशकों का अनुभव अच्छा नहीं रहा है। 2009 से लेकर अब तक यानी 13 वर्षों में कुल 26 कंपनियां शेयर बाजारों में सूचीबद्ध हुईं। इनमें 15 ने घाटा दिया है, जबकि 11 ने फायदा दिया है।



सबसे ज्यादा 87 फीसदी का घाटा जनरल इंश्योरेंस ऑफ इंडिया (जीआईसी) ने दिया। इसका आईपीओ 2017 में 912 रुपये के भाव पर आया था, जिसके शेयर की कीमत अब 113 रुपये है। वहीं, निवेशकों को सबसे ज्यादा फायदा आईआरसीटीसी ने दिया। 2019 में 320 रुपये पर इसका आईपीओ आया था। अब भाव 652 रुपये है। यह 6,400 रुपये तक गया था। बाद में इसमें एक शेयर में पांच शेयर बनाए गए थे।  


694 रुपये गिरा न्यू इंडिया इंश्योरेंस
बीएसई के पीएसयू इंडेक्स के मुताबिक, सबसे ज्यादा घाटा देने वालों में न्यू इंडिया इंश्योरेंस भी है। इसने भी 87% घाटा दिया है। 2017 में 800 रुपये पर आईपीओ आया था और अब 104 रुपये पर है। पंजाब एंड सिंध बैंक के शेयर ने भी 87 फीसदी का घाटा दिया है। यह 2010 में 120 रुपये पर आया था और अब 15 रुपये पर है।

ऑयल इंडिया ने 79 फीसदी दिया घाटा
ऑयल इंडिया के शेयर ने 79 फीसदी का घाटा दिया है। 2009 में इसका आईपीओ 1,050 रुपये पर आया था। अब यह 227 रुपये पर है। एनबीसीसी का शेयर 2012 में 106 रुपये पर बेचा गया था। यह अब 33 रुपये पर कारोबार कर रहा है। इसमें निवेशकों को 69 फीसदी का नुकसान हुआ है।

इन कंपनियों में भी निवेशकों को नुकसान
घाटा देने वाले अन्य सरकारी कंपनियों के शेयरों में एनएचपीसी ने 12 फीसदी, कोल इंडिया ने 30, एनएमडीसी के शेयर ने 58 फीसदी, मॉयल ने 58, हुडको ने 47, कोचिन शिपयार्ड ने 27 फीसदी और आईआरएफसी के शेयर ने 18 फीसदी का नुकसान कराया है।

इन कंपनियों ने कराई कमाई
कुछ कंपनियों ने निवेशकों को कमाई भी कराई है। भारत डायनॉमिक्स के शेयर ने 53 फीसदी का फायदा दिया है, जबकि हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स के शेयर ने 25 फीसदी, मिधानि ने 84 फीसदी, राइट्स ने 33 और गार्डेन रिच के शेयर ने 140 फीसदी का फायदा दिया है। पावरग्रिड के शेयर ने 355 फीसदी का फायदा दिया है। 52 रुपये पर आया यह आईपीओ अब 235 रुपये पर कारोबार कर रहा है।

एमएसटीसी में 139 फीसदी का फायदा
एमएसटीसी के शेयर ने इसी दौरान 139 फीसदी का फायदा निवेशकों को दिया है। रेल विकास निगम के शेयर ने 63 फीसदी, मझगांव डाक ने 82 फीसदी और रेलटेल ने 1 फीसदी का फायदा दिया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00