कैपिटल गेन टैक्स: मकान बेचा है तो इन चार तरीकों से मिलेगी टैक्स में छूट

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलावाधी Updated Mon, 21 Jun 2021 01:59 PM IST

सार

प्रॉपर्टी बेचने से हुए पूंजीगत लाभ पर आपको कैपिटल गेन टैक्स देना होता है। मकान बेचने से होने वाले लाभ पर दो तरह से कर की गणना की जाती है। 
कैपिटल गेन टैक्स
कैपिटल गेन टैक्स - फोटो : pixabay
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कोरोना वायरस संकट के दौरान लोगों को अधिक पैसों की जरूरत पड़ी है। जिन लोगों ने पहले ही इंश्योरेंस लिया हुआ था उनका आर्थिक बोझ थोड़ा कम तो हुआ है लेकिन खर्च को लेकर वे अब भी परेशान हैं। वहीं जिन्होंने इंश्योरेंस नहीं लिया था, वे अपनी संपत्ति बेचकर अपनी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। महामारी के दौरान इलाज के लिए कई लोगों ने अपने मकान या प्लॉट तक बेचे। लेकिन सिर्फ संपत्ति बेचने से ही समस्या खत्म नहीं हो जाती। 
विज्ञापन


पूंजीगत लाभ पर देना होता है कैपिटल गेन टैक्स 
कोई भी प्रॉपर्टी बेचने से हुए पूंजीगत लाभ पर आपको कैपिटल गेन टैक्स देना होता है। मकान बेचने से होने वाले लाभ पर दो तरह से कर की गणना की जाती है। अगर आपने मकान दो साल अपने पास रखने के बाद बेचा है तो इस पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ) माना जाएगा। लेकिन आपने अगर 24 महीने से पहले ही मकान बेच दिया है तो यह शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन (अल्पकालिक पूंजीगत लाभ) माना जाएगा। 


लेकिन आप चार तरीकों से कैपिटल गेन टैक्स से बच सकते हैं-

प्रॉपर्टी सुधारने की लागत पर मिल सकती है छूट
अगर आपने प्रॉपर्टी खरीदने के बाद उसमें कोई सुधार या विस्तार कराया था तो ऐसे खर्चों की इंडेक्स कॉस्ट निकालते हुए इनकम टैक्स में छूट ली जा सकती है। इससे कैपिटल गेन टैक्स का बोझ कम होगा। 

नया घर खरीदने पर छूट
आयकर की धारा 54 के तहत आप लाभ की राशि को दूसरा मकान खरीदने में लगाकर भी टैक्स बचा सकते हैं। यह छूट बिक्री के तीन साल के भीतर दूसरा रेडी तो मूव मकान खरीदने पर मिलेगी। 

कॉस्ट इन्फ्लेशन इंडेक्स
अगर आप पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स की देनदारी बनती है तो आप आयकर के नियमों के अनुसार 'कॉस्ट इन्फ्लेशन इंडेक्स' का इस्तेमाल कर सकते हैं। कॉस्ट इन्फ्लेशन इंडेक्स का इस्तेमाल करके खरीद मूल्य बढ़ा सकते हैं। यदि आप ऐसा करते हैं, तो आपको कम टैक्स देना पड़ेगा। 

प्रॉपर्टी ट्रांसफर का खर्च घटाएं
इसके अतिरिक्त अगर प्रॉपर्टी की बिक्री में कोई खर्च आया हो, तो भी आप कैपिटल गेन टैक्स से बच सकते हैं। जैसे आप प्रॉपर्टी बेचने के लिए दिए गए ब्रोकरेज की छूट ले सकते हैँ। इसके अतिरिक्त अगर आपने विज्ञापन, नीलामी, रजिस्ट्री, आदि पर खर्च किया है, तो भी आपको छूट का लाभ मिलेगा। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00