लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Amritsar News ›   RPG attack in Tarn Taran of Punjab

पंजाब में रॉकेट लॉन्चर से हमला: तरनतारन के थाना सरहाली को बनाया निशाना, डीजीपी बोले-पड़ोसी देश की नापाक हरकत

संवाद न्यूज एजेंसी, तरनतारन (पंजाब) Published by: निवेदिता वर्मा Updated Sat, 10 Dec 2022 10:51 PM IST
सार

एसएसपी गुरमीत सिंह चौहान ने हमले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि हमले में थाने के एक हिस्से में बने सांझ केंद्र के शीशे टूट गए। जहां से शीशा टूटा है, उस जगह को फोरेंसिक जांच के लिए सील कर दिया गया है।

तरनतारन में हमला
तरनतारन में हमला - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी।
विज्ञापन

विस्तार

पंजाब के तरनतारन में आतंकी हमला हुआ है। आतंकियों ने शुक्रवार आधी रात तरनतारन के सरहाली थाने के सांझ केंद्र को निशाना बनाते हुए राकेट लॉन्चर से हमला किया है। हमले से जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ। डीजीपी गौरव यादव समेत कई वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। 


हमला तरनतारन बठिंडा नेशनल हाईवे से सरहाली थाने पर 11 बजकर 22 मिनट पर हुआ। पुलिस ने बताया कि रात धमाके की आवाज सुनकर जब तक जवान सरहाली थाने से बाहर निकले, हमलावर फरार हो चुके थे। थाने में रात के वक्त मुंशी, ड्यूटी अफसर और दो कॉन्स्टेबलों के अलावा कोई नहीं था। पुलिस बूथ (सांझ केंद्र) भी बंद पड़ा था। जिसके चलते कोई नुकसान नहीं हुआ। फॉरेंसिक टीमें जांच के लिए पहुंच गई हैं।


शुक्रवार देर रात हुए इस हमले में बिल्डिंग के शीशे टूट गए हैं। घटना में अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। वहीं हमला करने वालों की भी अभी पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि यह एक आतंकी हमला ही है। हमलावर कोई नुकसान नहीं करना चाहते थे, बल्कि इसके जरिए खौफ पैदा करने के साथ माहौल खराब करना चाहते थे।



हमला पाकिस्तान की बुजदिली का नतीजा-डीजीपी 
डीजीपी गौरव यादव ने कहा कि शुरुआती जांच में पता चला है कि रात करीब 11 बजकर 22 मिनट पर आरपीजी का इस्तेमाल कर हाईवे से ग्रेनेड दागा गया। यह हमला पाकिस्तान की बौखलाहट का नतीजा हो सकता है। डीजीपी ने कहा कि पंजाब पुलिस बीएसएफ के साथ मिलकर बॉर्डर पर पाकिस्तान की तरफ से भेजे जा रहे ड्रोन को पकड़ती है। पाकिस्तान की तरफ से भेजी जा रही हेरोइन को भी बॉर्डर पर पकड़ा जा रहा है। इसी की बौखलाहट में आकर पाकिस्तान ने रात को बुजदिली भरी हरकत करवाई है। उन्होंने कहा कि इस हमले में पुलिस के खुफिया विभाग के मोहाली स्थित मुख्यालय पर राकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (आरपीजी) के हमले जैसे ही सुराग मिले है। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की बारीकी से जांच कर रही है। इस मामले में किसी भी आरोपी को छोड़ा नहीं जाएगा।


विज्ञापन

खालिस्तानी संगठन ने ली हमले की जिम्मेदारी
पुलिस थाने पर हुए रॉकेट हमले की जिम्मेदारी प्रतिबंधित खालिस्तानी आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस ने ली है। रात को दागा गया राकेट थाने के लोहे के गेट से टकराया और थाने में बने सांझ केंद्र में गिरा। इससे भवन की खिड़कियों के शीशे टूट गए। हमले के बाद पुलिस ने थाने के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है और पूरे इलाके को सील कर दिया है। ये भी आशंका जताई जा रही है कि आतंकी हमला सीधा नहीं हुआ है और इसी वजह से थाने को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। 



खुफिया विभाग के मुख्यालय पर भी दागा गया था आरपीजी
अगस्त में भी पंजाब में ऐसा ही आतंकी हमला हुआ था। तब पंजाब पुलिस के खुफिया विभाग के मोहाली स्थित मुख्यालय पर राकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (आरपीजी) से आतंकियों ने हमला किया था। इसके तार कनाडा में बैठे आतंकी लखबीर सिंह लंडा से साथ जुड़े थे। इस मामले की जांच एनआईए कर रही है। इससे पहले जुलाई में इसी क्षेत्र में एक आतंकी को ढाई किलो आरडीएक्स और आईईडी के साथ गिरफ्तार किया गया था।


सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सीएम मान की अमित शाह से मुलाकात
मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बीते दिन ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। सीएम ने शाह के सामने पंजाब की सीमा पर फेंसिंग के मुद्दे को उठाया था और विस्तार से चर्चा की थी। मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि पंजाब की सीमाओं को लेकर गृह मंत्री ने जरूरी सुझाव भी दिए हैं।

सरहाली थाने के बाहर लिखा था-आतंकी हमला हो सकता है
जिस सरहाली थाने पर आतंकी हमला हुआ है, उस पुलिस स्टेशन की दीवार पर तरनतारन के एसएसपी का एक आदेश पत्र चस्पा था। पत्र में स्पष्ट लिखा है कि आतंकी संगठन पुलिस थाना, चौकी और पुलिसकर्मियों को नुकसान पहुंचाने के लिए हमले कर सकते हैं। इस पत्र के माध्यम से एसएसपी ने जिले के सभी थाना, चौकियों को आदेश जारी किया था कि थाने में आने वाले हर व्यक्ति का पहचान पत्र देखकर ही उसे अंदर आने दिया जाए। आतंकी हमले से बचाव के लिए हर थाने में संत्री की विशेष पोस्ट बनाई जाए। यह पत्र 15 अक्तूबर 2022 को जारी हुआ था। 

केजरीवाल बोले-कड़ी कार्रवाई होगी
तरनतारन हमले पर आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जब से आप सत्ता में आई है, पंजाब में बड़े गैंगस्टर पकड़े गए हैं। पुराने दलों के संरक्षण में काम कर रहे लोगों को पकड़ा गया। कड़ी कार्रवाई की जाएगी।  

मजीठिया बोले-मान पंजाब पर ध्यान दें 
अकाली नेता बिक्रम मजीठिया ने कहा कि हमारे सीमावर्ती राज्य में शांति बेहद जरूरी है। सीएम भगवंत मान को इस पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पंजाब कानून और व्यवस्था के टूटने के साथ अराजकता में वापस न जाए। हमें इस खतरे को देखने और हर मुद्दे का राजनीतिकरण करने के बजाय इससे निपटने के लिए दूरदर्शिता की आवश्यकता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00