Hindi News ›   Cricket ›   Cricket News ›   When you are captain, you dont worry about selection: Harbhajan Singh says Kohli will be under pressure to perform

IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में दबाव में रहेंगे विराट कोहली, पूर्व स्पिनर हरभजन ने बताई यह वजह

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Rajeev Rai Updated Tue, 25 Jan 2022 04:35 PM IST

सार

विराट कोहली भारतीय टीम की कप्तानी छोड़कर बतौर बल्लेबाज खेलना शुरू कर चुके हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में भी उन्होंने ऐसा ही किया और दो अर्धशतक भी लगाए। हालांकि उनके कप्तानी से हटने के बाद सभी की नजरें पूर्व कप्तान के प्रदर्शन पर हैं।
हरभजन सिंह और विराट कोहली
हरभजन सिंह और विराट कोहली - फोटो : Getty Images
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

विराट कोहली भारतीय टीम की कप्तानी छोड़कर बतौर बल्लेबाज खेलना शुरू कर चुके हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में भी उन्होंने ऐसा ही किया और दो अर्धशतक भी लगाए। हालांकि उनके कप्तानी से हटने के बाद सभी की नजरें पूर्व कप्तान के प्रदर्शन पर हैं। पूर्व क्रिकेटर और स्टार भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह को लगता है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ आगामी सीरीज में विराट दबाव में रहेंगे।  

विज्ञापन


हरभजन ने कहा कि आगे चलकर विराट को प्लेइंग XI में अपनी जगह बनाए रखने के लिए प्रदर्शन करते रहना होगा। ऐसा नहीं करना पर उनके लिए मुश्किलें हो सकती हैं। 

पूर्व स्पिनर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, "जब कोई कप्तान सात साल के लंबे समय के बाद पद छोड़ता है, तो जाहिर तौर पर यह बहुत से लोगों को आश्चर्यचकित करता है। मैं खुद इसे देखकर हैरान था और सोचता हूं कि फैसला बहुतों की अपेक्षा से जल्दी आ गया। लेकिन जाहिर तौर पर विराट जानते हैं कि उनकी योजना क्या है और वह क्या करना चाहते हैं। जब आप कप्तान होते हैं तो आपके लिए कुछ चीजें अलग होती हैं। बल्लेबाज कोहली दबाव में होंगे क्योंकि जब आप कप्तान होते हैं तो आपको चयन के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं होती है।"


हरभजन ने भारतीय क्रिकेट के कुछ महान खिलाड़ियों के उदाहरणों का हवाला देते हुए बताया कि कैसे कोई भी टीम में उनकी जगह को हल्के में नहीं ले सकता। कोहली ने पिछले सात वर्षों में धैर्य और बहादुरी के साथ टीम का नेतृत्व किया है, जिसमें उनकी अपनी बल्लेबाजी भी चरम पर रही है। 

भज्जी ने आगे कहा, "आप हमेशा चुने जाते हैं। लेकिन आप कितने भी बड़े खिलाड़ी क्यों न हों - सचिन तेंदुलकर, कपिल देव, सुनील गावस्कर या कोई और। जब आप प्रदर्शन नहीं करते हैं तो हमेशा दबाव होता है और वह कोहली पर रहेगा जो पिछले सात सालों में नहीं था। लेकिन इन 7 वर्षों में, उन्होंने कप्तान के रूप में अधिकतम प्रदर्शन दिया है और मुझे उम्मीद है कि अब एक बल्लेबाज के रूप में, उनका प्रदर्शन बेहतर होता रहेगा और वह ढेर सारे रन बनाकर भारत के लिए मैच जीतेंगे।"

वेस्टइंडीज की टीम अगले महीने से भारत दौरे पर आएगी। यहां वह छह फरवरी से तीन मैचों की वनडे और इतने ही मैचों की टी-20 सीरीज खेलेगी।  

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00