लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR News ›   Two councilors including former state vice president of Congress joined AAP

Delhi: MCD चुनाव में हार के बाद कांग्रेस को एक और झटका, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष समेत दो पार्षद आप में हुए शामिल

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: आकाश दुबे Updated Fri, 09 Dec 2022 05:00 PM IST
सार

मुस्तफाबाद से पार्षद सबिला बेगम और ब्रजपुरी पार्षद नाजिया खातून ने अली मेंहदी के साथ कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की है। एमसीडी चुनाव में कांग्रेस के कुल नौ पार्षदों ने जीत हासिल की थी।

कांग्रेस नेताओं ने आप की ग्रहण की सदस्यता
कांग्रेस नेताओं ने आप की ग्रहण की सदस्यता - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

एमसीडी चुनाव खत्म होते ही आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस को एक और झटका दिया है। शुक्रवार को कांग्रेस के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष अली मेंहदी के साथ-साथ पार्टी के दो पार्षदों ने भी आम आदमी पार्टी का दामन थामा है। 



जानकारी के अनुसार, मुस्तफाबाद से पार्षद सबिला बेगम और ब्रजपुरी पार्षद नाजिया खातून ने अली मेंहदी के साथ आप की सदस्यता ग्रहण की है। एमसीडी चुनाव में कांग्रेस के कुल नौ पार्षदों ने जीत हासिल की थी, इन नौ पार्षद में से दो पार्षदों के आप में शामिल होने के बाद कांग्रेस के अब सात पार्षद ही रह गए हैं।

बता दें कि एमसीडी के नतीजे सात दिसंबर को ही आए थे। कांग्रेस को मिली नौ सीटों में से सात मुस्लिम बाहुल्य इलाके से हैं। विधानसभा चुनाव के विपरीत एमसीडी चुनाव में दिल्ली का मुस्लिम वोटर आप के साथ लामबंद नहीं हो सका। जानकार इसकी बड़ी वजह मुख्यमंत्री केजरीवाल के सॉफ्ट हिंदुत्व में देख रहे हैं। मुस्लिम समुदाय को लगता है कि केजरीवाल ने उनके हक में जाने वाले मसलों से जुड़ाव जाहिर नहीं किया। इन इलाकों में चुनाव प्रचार के दौरान ऐसे बहुत से वीडियो वायरल किए गए, जिसमें वह हिंदुत्व की वकालत करते हुए दिखाए गए। इसके अलावा उत्तर-पूर्वी में वर्ष 2020 में हुए दंगों के बाद आम आदमी पार्टी के रुख से मुसलमान खासे नाराज थे।

चुनाव की घोषणा होने के बाद ही मुस्लिम बाहुल्य सीटों पर आम आदमी पार्टी के खिलाफ आवाजें उठने लगी थीं। सोशल मीडिया पर कोविड के दौरान मरकज मामले पर पार्टी के रुख की बात की जाने लगी थी। कई वायरल वीडियो में केजरीवाल मरकज में आए कोविड के केसों की अलग से चर्चा करते दिखे। इन वीडियो को वायरल किया गया। इसके अलावा सीएए-एनआरसी के समय पार्टी के मौन रहने को भी खूब कैश किया गया।

इन सब मुद्दों की वजह से मुस्लिम मतदाताओं ने आप को वोट नहीं दिया। कांग्रेस की नौ सीटों में आया नगर और निहाल विहार वार्ड को छोड़कर बाकी सभी वार्ड बृजपुरी, मुस्तफाबाद, कबीर नगर, शास्त्री पार्क, चौहान बांगर, जाकिर नगर और अबुल फजल एंक्लेव मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र हैं। जानकारों का कहना है कि भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए मुस्लिम मतदाताओं के पास आप या कांग्रेस ही विकल्प हैं। इन कारणों के बाद इन सात सीटों पर मुसलमानों ने कांग्रेस का चुनाव किया।

कांग्रेस ने इन सात मुस्लिम बहुल इलाकों में मारी बाजी
  • वार्ड-245 (बृजपुरी) कांग्रेस : नाजिया खातून-9639
  • आप : आफरीन खान-7521
  • वार्ड-243 (मुस्तफाबाद) कांग्रेस : सबीला बेगम-14921 
  • एआईएमआईएम : सरवरी बेगम-8339
  • वार्ड-234 (कबीर नगर) कांग्रेस : जरीफ-12885, आप : साजिद-8790
  • वार्ड नंबर-213 (शास्त्री पार्क) कांग्रेस : समीर अहमद-12503
  • आप : आदित्य चौधरी-9454
  • वार्ड नंबर-227 (चौहान बांगर) कांग्रेस : शगुफ्ता चौधरी जुबैर-21131, आप: आसमा बेगम-5938
  • वार्ड नंबर-189 (जाकिर नगर) कांग्रेस : नाजिया दानिश-16878 आप : सलमा खान-16405
  • वार्ड-188 (अबुल फजल एंक्लेव) कांग्रेस : अरीबा खान-16554
  • आप : वाजिद खान-15075
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00