लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Education ›   Assam Ragging Injured Varsity Student Undergoes Spine Surgery; 4 More Accused Rusticated

DU Ragging: डीयू रैगिंग के पीड़ित छात्र रीढ़ की हड्डी का ऑपरेशन हुआ, अब तक 22 छात्र निष्कासित, पांच गिरफ्तार

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: देवेश शर्मा Updated Thu, 01 Dec 2022 07:58 PM IST
सार

Dibrugarh University Ragging Case: असम में डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय में एक जूनियर की रैगिंग करने के आरोप में चार छात्रों को तीन साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है। वहीं, गुरुवार को पीड़ित छात्र की रीढ़ की हड्डी का ऑपरेशन सफल रहा।

Dibrugarh University Ragging Case Victim
Dibrugarh University Ragging Case Victim - फोटो : Agency (File Photo)
विज्ञापन

विस्तार

Dibrugarh University Ragging Case: असम में डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय के चार छात्रों को कथित तौर पर एक जूनियर की रैगिंग करने के आरोप में तीन साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है। वहीं, गुरुवार को पीड़ित छात्र की रीढ़ की हड्डी का ऑपरेशन सफल रहा। एमकॉम प्रथम वर्ष छात्र का आनंद सरमा ने पिछले सप्ताह अपने सीनियर्स द्वारा ली जा रही रैगिंग से बचने के लिए अपने छात्रावास की दूसरी मंजिल से छलांग लगा दी थी। इससे उसके हाथ और रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर हो गया था। 



मामले में असम के शिक्षा मंत्री रनोज पेगू ने ट्वीट किया, डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय के रैगिंग पीड़ित आनंद सरमा की सर्जरी सफलतापूर्वक की गई है। डॉक्टर और निजी अस्पताल जहां प्रक्रिया की गई थी, को धन्यवाद देते हुए मंत्री ने कहा कि छात्र अब अच्छा स्वास्थ्य में सुधार महसूस कर रहा है। इस बीच, विश्वविद्यालय ने सोमवार को रैगिंग के आरोप में 22 छात्रों को संस्थान से निष्कासित कर दिया था। अब तक करीब 21 छात्रों पर कार्रवाई की गई है। चार छात्रों को अगले तीन साल देशभर के किसी भी संस्थान में दाखिले से प्रतिबंधित कर दिया गया है। 


डिब्रूगढ़ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बिटुल चेतिया ने बताया कि अब तक रैगिंग की घटना में शामिल पांच छात्रों को गिरफ्तार किया जा चुका है। एक अन्य व्यक्ति को आरोपी को शरण देने के लिए हिरासत में लिया गया है। अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए हमारा सर्च ऑपरेशन जारी है। डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय ने एक बयान में कहा कि एंटी-रैगिंग कमेटी ने बुधवार शाम को एक आपात बैठक में चार छात्रों को तीन साल की अवधि के लिए निष्कासित कर दिया, जिसके तहत उन्हें किसी भी संस्थान में प्रवेश लेने से रोक दिया गया है।

डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय के कुलपति जितेन हजारिका ने बताया कि छात्रावास में रैगिंग की घटना को रोकने में सक्षम नहीं होने के कारण 'पद्मनाथ गोहेन बरुआ छात्र निवास' के तीन छात्रावास वार्डन दिव्यज्योति दत्ता, अबू मुस्ताक हुसैन और पलाश दत्ता को निलंबित किया गया है। 

विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00