लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Education ›   Medical student of Mumbai's Nair Medical College & Hospital died by suicide

महाराष्ट्र : मुंबई के टीएन मेडिकल कॉलेज व बीवाईएल नायर हॉस्पिटल की छात्रा ने की खुदकुशी

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: देवेश शर्मा Updated Sat, 24 Sep 2022 10:57 PM IST
सार

मुंबई के नायर मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की मेडिकल छात्रा द्वारा अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है।

मुंबई पुलिस
मुंबई पुलिस - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मुंबई के नायर मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की मेडिकल छात्रा द्वारा अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया है। मुंबई पुलिस ने बताया कि कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। एडीआर के तहत मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जांच जारी है। मृतक की पहचान टोपीवाला नेशनल मेडिकल कॉलेज और बी.वाई.एल. नायर चैरिटेबल अस्पताल, मुंबई के ऑक्यूपेशनल थेरेपी डिपार्टमेंट में अंतिम वर्ष की छात्रा श्रेयसा पाठक के रूप में हुई है।



श्रेयसा पाठक की आत्महत्या के पीछे का कारण फिलहाल अज्ञात है क्योंकि घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। बता दें कि पिछले एक महीने में शहर स्थित चिकित्सा संस्थान की दूसरी छात्रा हैं, जिसकी आत्महत्या से मौत हुई है। इससे पहले सेठ गोर्धनदास सुंदरदास मेडिकल कॉलेज और केईएम अस्पताल के एमबीबीएस तृतीय वर्ष के छात्र गोविंद माने ने सांगली में अपने घर पर आत्महत्या कर ली थी। 

 

श्रेया पाठक ने 21 सितंबर को आत्महत्या की थी। उसने कथित तौर पर उस वक्त फांसी लगा ली थी जब घर पर कोई नहीं था। आत्महत्या पुलिस के लिए एक रहस्यमय मुद्दा है। क्योंकि उसके परिवार के सदस्यों को इस बात का कोई अंदाजा नहीं है कि उसने अपनी जिंदगी खत्म करने का फैसला क्यों किया। श्रेया के निधन पर उनके दोस्तों और सहकर्मियों ने शोक जताया है।  


अग्रीपाड़ा पुलिस स्टेशन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वह अपने माता-पिता और एक छोटे भाई के साथ रहती थी। उन्होंने बताया कि 21 सितंबर को जब घर पर कोई नहीं था तो उसने फांसी लगा ली। हालांकि, पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमें मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। यहां तक कि परिजनों ने भी कोई संदेह नहीं जताया है। हम मामले की जांच कर रहे हैं और इस तरह के कठोर कदम के पीछे के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00