लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Kaithal News ›   25 years imprisonment to a teacher convicted of raping a minor in Kaithal

Kaithal: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी अध्यापक को 25 साल कारावास व 80 हजार रुपये जुर्माने की सजा

संवाद न्यूज एजेंसी, कैथल (हरियाणा) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Wed, 30 Nov 2022 07:45 PM IST
सार

दोषी ने निजी स्कूल की नौंवी कक्षा की छात्रा को अश्लील वीडियो दिखा दुष्कर्म किया था। इतना ही नहीं अध्यापक ने छात्रा से कई बार जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाए और धमकी भी दी। जुर्माना न देने पर दोषी को अतिरिक्त सजा काटनी पड़ेगी।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

विस्तार

हरियाणा के कैथल में बुधवार को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश पूनम सुनेजा ने नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के दोषी अध्यापक को 25 वर्ष की कैद व 80 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। समय पर जुर्माना अदा न करने पर 16 माह की अतिरिक्त सजा काटनी पड़ेगी। पीड़िता को मुआवजा की राशि चार लाख 50 हजार जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण की मार्फत मिलेगी। दोषी से जुर्माना वसूल होने पर पीड़िता को 25 हजार रुपये की रकम भी दी जाएगी।



बता दें कि इस मामले में पीड़िता की मां की शिकायत पर 27 जुलाई 2019 को महिला थाने में आईपीसी की धारा 376, 506, पोक्सो एक्ट की धारा छह और आईटी एक्ट की धारा 67-बी के तहत केस दर्ज किया था। पीड़िता की मां ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि उसकी 14 वर्षीय बेटी गांव के ही निजी स्कूल में पढ़ती थी।


दोषी उसी स्कूल में हिंदी का प्राध्यापक था। उसकी लड़की का शारीरिक शोषण कर रहा था। आरोपी के पास उसकी लड़की ट्यूशन भी पढ़ने के लिए जाती थी। एक दिन आरोपी ने उसकी लड़की की नग्न फोटो फोन पर मंगवा ली।

इसके बाद वह उस नग्न फोटो को वायरल करने की धमकी देता रहा। दोषी ने उसकी बेटी को जान से मारने की धमकी दी। दोषी लड़की को अपने मोबाइल से अश्लील फिल्में दिखाकर उसका शारीरिक शोषण करता था। उसने लड़की को धमकी भी दी।

गर्मी की छुट्टियों में जब लड़की स्कूल में कबड्डी की कोचिंग लेने जाती थी तब भी दोषी ने लड़की के साथ कई बार जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाए। दोषी ने लड़की को कहा कि घटना के बारे में परिवार वालों को बताया तो वह उसे परीक्षा में फेल कर देगा।

दोषी टीचर के डर के कारण लड़की ने यह बात किसी को नहीं बताई। लड़की डरी सहमी रहती थी तो परिवार वालों ने इसका कारण पूछा। इस पर लड़की ने सारी बात बताई। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाया और चालान तैयार करके न्यायालय में पेश कर दिया।
विज्ञापन

इसमें दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। इसके बाद पुलिस ने आरोपी अनिल को काबू कर न्यायालय में चालान पेश कर दिया। पब्लिक प्रोसीक्यूटर जयभगवान गोयल ने मामले में पीड़ित पक्ष की पैरवी की। उन्होंने बताया कि एडीजे पूनम सुनेजा की ओर से दोनों पक्षों की सुनवाई की गई। सुनवाई के बाद अध्यापक दोषी पाया। कोर्ट ने उसे 25 साल की कैद व 80 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है।

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00