लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Kurukshetra ›   After five days of worship, the idol of Maa Durga was immersed

पांच दिनों की पूजा अर्चना के बाद किया मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Thu, 06 Oct 2022 02:33 AM IST
कुरुक्षेत्र। भारत सेवाश्रम संघ में मां दुर्गा की प्रतिमा के विर्सन से पूर्व  सिंदूर खेला में हिस?
कुरुक्षेत्र। भारत सेवाश्रम संघ में मां दुर्गा की प्रतिमा के विर्सन से पूर्व सिंदूर खेला में हिस? - फोटो : Kurukshetra
विज्ञापन
ख़बर सुनें
कुुरुक्षेत्र। श्री श्री दुर्गोत्सव समिति की ओर से रेलवे रोड पर श्री भारत सेवाश्रम संघ में चल रहे पांच दिवसीय महोत्सव का विजयदशमी को समापन हो गया। भव्य शोभा यात्रा के साथ मां दुर्गा की प्रतिमा का ज्योतिसर नहर में विसर्जन किया गया। शोभायात्रा में महिलाओं ने सिंदूर खेला किया। जिसमें महिलाओं ने एक-दूसरे को सिंदूर लगाया तथा मां दुर्गा की प्रतिमा का तिलक किया।

समिति के प्रधान अबीर कुमार ने बताया कि नवरात्रि में षष्ठी से दुर्गा पूजा महोत्सव आरंभ किया जाता है। पांच दिन की पूजा अर्चना के बाद विजयदशमी को प्रतिमा का विसर्जन किया जाता है। इन दिनों में मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। महिलाएं सप्तमी, अष्टमी और नौवीं को मां दुर्गा का व्रत करती हैं। विजयदशमी को वह अपना व्रत खोलती है। विसर्जन में विशेषकर महिलाएं हिस्सा लेती हैं। विसर्जन से पूर्व महिलाएं एक-दूसरे के साथ सिंदूर खेला करती हैं, जिसमें एक दूसरे को सिंदूर लगाने का प्रचलन है। इस मौके पर राजेश कुमार, नीरज सिन्हा, सुमित, विपिन सरकार, सुमेर सहित महिलाएं मौजूद रहीं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00