लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Panchkula ›   Drone rained flowers at the end of Maharaja Agrasen Jayanti

महाराजा अग्रसेन जयंती के समापन पर ड्रोन से हुई फूलों की बारिश

Panchkula Bureau पंचकुला ब्‍यूरो
Updated Tue, 27 Sep 2022 01:48 AM IST
Drone rained flowers at the end of Maharaja Agrasen Jayanti
विज्ञापन
ख़बर सुनें
यादविंद्रा गार्डन : पर्यटन निगम की निष्क्रियता से गार्डन से दूर हो रहे सैलानी

पर्यटन निगम का म्यूजिकल फाउंटेन प्रोजेक्ट भी अधर में, अन्य सुविधाओं का भी है अभाव
चार फोटो सहित 26पीएएनपीजेआरपी 11,12,13,14
संवाद न्यूज एजेंसी
पिंजौर। यादविंद्रा गार्डन अपनी खूबसूरती, बनावट और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए प्रसिद्व है। बावजूद इसके गार्डन में पहुंचने वाले सैलानियों की संख्या में बीते वर्षों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। स्थानीय लोगों का कहना है कि समय के साथ-साथ यादविंद्रा गार्डन में आने वाले पर्यटकों को लुभाने के लिए हरियाणा पर्यटन निगम ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। अभी भी यादविंद्रा गार्डन पिंजौर की खूबसूरती और बनावट गार्डन में आने वाले सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र रहती है, परंतु सैलानियों के साथ आए उनके छोटे बच्चों को गार्डन के भीतर ऐसा कुछ नजर नहीं आता, जिस कारण उनका मनोरंजन हो सके। पहले छोटे बच्चों और सैलानियों को आकर्षित करने के लिए गार्डन में मिनी जू हुआ करता था, जिसे पर्यटन निगम द्वारा बंद किया जा चुका है। हरियाणा पर्यटन निगम द्वारा सैलानियों को आकर्षित करने के लिए बनाया जाने वाले म्यूजिकल फाउंटेन प्रोजेक्ट भी अभी अधर में ही लटका हुआ है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यादविंद्रा गार्डन में पहुंचने वाले सैलानियों की संख्या बढ़ने से दुकानदारों को भी फायदा पहुंचेगा और पिंजौर शहर का नाम भी देश-विदेश में जाना जाएगा।
गार्डन की टिकट पहले 20 रुपये हुआ करती थी, जिसे बढ़ाकर 25 रुपये तो कर दिया परंतु लोगों को आकर्षित करने के लिए गार्डन में कुछ नया नहीं किया गया है। पहले गार्डन में लगे फव्वारों का पानी 6 फुट से ज्यादा ऊपर तक जाता था, परंतु अब जो फव्वारे लगे हैं, उन्हें देखकर लगता ही नहीं कि वे फव्वारे हैं। इसके अलावा गार्डन में बच्चों के लिए विशेष कुछ नहीं है। पर्यटन निगम को इस तरफ ध्यान देकर गार्डन के मूल स्वरूप को बनाए रखकर सैलानियों को आकर्षित करने के लिए नया प्रोजेक्ट लाना चाहिए। -ज्योति लांबा, स्थानीय निवासी

समय के साथ गार्डन में सैलानियों को आकर्षित करने के लिए नयापन लाना जरूरी है, परंतु गार्डन के लिए पर्यटन निगम द्वारा कुछ नया नहीं किया जा रहा है। कहा जा रहा था कि मैंगो फेस्टिवल पर गार्डन में म्यूजिकल फाउंटेन प्रोजेक्ट शुरू किया जाएगा परंतु म्यूजिकल फाउंटेन प्रोजेक्ट का कुछ भी अता-पता नहीं है। न तो गार्डन के प्रवेश द्वारा पर और न ही मल्लाह मोड़ के समीप यादविंद्रा गार्डन का कोई बड़ा बोर्ड लगा है। अगर बड़ा बोर्ड लगा होता तो शिमला की तरफ जाने वाले सैलानी यादविंद्रा गार्डन की तरफ आकर्षित जरूर होते। - अरुण कुमार, बब्बू स्थानीय निवासी
पर्यटन निगम ने म्यूजिकल फाउंटेन के लिए जो कांटेक्ट दिए थे, उनके हिसाब जो कंपनी जो चीजें तैयार करके लाई थी उसमें बहुत से कमियां थीं। कंपनी को कहा गया है कि इस पर और मेहनत करो ताकि प्रोजेक्ट लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर सके। इसके अलावा गार्डन में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए अन्य विषयों पर भी काम किया जा रहा है। - गौतम कुमार, एक्सईएन, पर्यटन निगम हरियाणा

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00