लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Panchkula ›   Outcry over dengue: Government of India and PGI's suggestion was not implemented

डेंगू का लेकर हाहाकार : गवर्नमेंट ऑफ इंडिया और पीजीआई के सुझाव पर नहीं हुआ अमल

Panchkula Bureau पंचकुला ब्‍यूरो
Updated Tue, 27 Sep 2022 01:30 AM IST
Outcry over dengue: Government of India and PGI's suggestion was not implemented
विज्ञापन
ख़बर सुनें
डेंगू का लेकर हाहाकार : गवर्नमेंट ऑफ इंडिया और पीजीआई के सुझाव पर नहीं हुआ अमल

अभी तक पानी की सप्लाई के लिए नहीं बना पाए पुख्ता प्लान, लोग कर रहे हैं पानी रिस्टोर
सोमवार को 34 नए डेंगू के मरीज मिले, 174 के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे
माई सिटी रिपोर्टर
पंचकूला। जिले में डेंगू पीड़ितों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी होती जा रही है। स्वास्थ्य विभाग जिले में गवर्नमेंट ऑफ इंडिया की टीम और पीजीआई के सुझावों पर अमल नहीं कर पाया है। कालका और पिंजौर में पेयजल की आपूर्ति का अभी तक कोई पुख्ता प्लान नहीं बन पाया है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार तीन मौतें होने के बाद अभी तक कोई संतोषजनक काम नहीं किया जा सका है। इस कारण डेंगू और बुखार का डंक लगातार लोगों को परेशान कर रहा है। सोमवार को एक बार फिर 34 नए डेंगू पीड़ित मिले हैं।
गवर्नमेंट ऑफ इंडिया की पांच सदस्यीय टीम ने पंचकूला, कालका और पिंजौर का अपने स्तर पर सर्वे किया। गवर्नमेंट ऑफ इंडिया के सर्वे में अस्पताल में बेड कम है। अस्पताल में जांच की रिपोर्ट दो घंटे में नहीं मिल रही है। लोगों को जागरूक करने के लिए पंचकूला, कालका और पिंजौर में जो बैनर लगाए गए हैं। उन्हें भी समय पर नहीं लगाया गया। टीम के अनुसार बैनर बड़े लगाए जाएं। टीम का कहना है कि इन क्षेत्रों का सर्वें भी देरी से हुआ। अधिकारियों ने समय रहते पर चीजों को कंट्रोल नहीं किया। पंचकूला सिविल अस्पताल में डेंगू और बुखार के कारण रोजाना सौ से अधिक मरीज भर्ती हो रहे हैं। इसके बाद भी एक बेड पर दो मरीज लेट रहे हैं। इस पर बेड बढ़ाने के लिए कहा गया लेकिन स्वास्थ्य विभाग की ओर से केवल 100 बेड ही जिले में बढ़ाए जा सके। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने कई बार मीटिंग की। इसके बाद भी यह सुविधा बढ़ नहीं सकी है। वहीं मरीज को समय पर प्लेलेट्स भी नहीं मिल रहे हैं। अधिक गंभीर होने पर रोजाना आठ से ज्यादा मरीज पीजीआई रेफर किए जा रहे हैं। वहीं कालका, पिंजौर में अभी भी लगातार डेंगू और बुुखार के केस बढ़ रहे हैं। इसके बाद अभी तक कोई निवारण स्थायी नहीं किया जा सका है।

कोट ---
अस्पताल प्रबंधन अपने स्तर पर खामियों की जांच कर उन्हें दूर करने का प्रयास कर रहा है। पंचकूला, कालका और पिंजौर में मरीजों को दवाई और बेड उपलब्ध करवाया जा रहा है। लगातार विभाग सभी पहलुओं पर जांच कर प्रशासन के साथ बैठक करेगा। बैठक कर जल्द ही अस्पताल की जो खामियां है उन्हें सभी को दूर किया जाएगा। - डॉ. राजीव कपूर, पीएमओ, सिविल अस्पताल सेक्टर-6
डेंगू के 34 नए मामले सामने आए
पंचकूला। जिले में सोमवार को डेंगू के 34 नए केस सामने आए हैं। अब तक जिले में डेंगू के 627 मामले सामने आ चुके हैं। डेंगू की जांच कर विभाग ने 174 सैंपल लिए हैं। कालका और पिंजौर के घरों में वायलेशन मिलने के बाद 52 को नोटिस दिया गया है। उन्होंने बताया कि लोगों के घरों और कंटेनरों में जल जमाव के कारण अधिक लारवा मिल रहे हैं। इस काण इस तरह के हालात बने हुए हैं। हमारी लोगों से अपील है कि लोग अपने घरों में पानी नहीं जमा होनें दें। उन्होंने बताया कि डेंगू से बचाव के लिए लिए बताए नियमों को लोग पालन करें। पंचकूला की पीएमओ डॉ. राजीव कपूर ने बताया कि डेंगू के बढ़ते मामलों को देखकर अब तक 3909 लोगों को नोटिस दिया गया है। उन्होंने कहा कि सभी स्कूलों में बच्चों को मच्छरों से बचाने के लिए जागरूकता अभियान चलाया गया। इससे लोग जागरूक होंगे और मच्छर से बचाव के लिए काम करेंगे। विभाग की ओर से कालका, पिंजौर और सूरजपुर में 40 टीमों की ओर से डोर टू डोर सर्वे किया जा रहा है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00