लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Panipat ›   Young Man Murdered in Kuldeep Nagar of Panipat

Murder in Panipat: पहले दिन भर पिलाई शराब, फिर दोस्त को दी दर्दनाक मौत, दो माह पुरानी रंजिश में की वारदात

संवाद न्यूज एजेंसी, पानीपत (हरियाणा) Published by: निवेदिता वर्मा Updated Fri, 07 Oct 2022 09:41 AM IST
सार

गुरुवार को दिन भर की शराब पार्टी में किसी की भी कोई कहासुनी नहीं हुई थी। ज्यादा शराब पीने की वजह वह दुकान में ही सो गए थे। रात को करीब डेढ़ बजे जितेंद्र उठा और विनेश का मुंह बांध दिया। इसके बाद दुकान में रखी लोहे की रॉड से सो रहे विनेश के सिर पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया।

विनेश।
विनेश। - फोटो : फाइल
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पानीपत के कुलदीप नगर में दो माह पुरानी रंजिश के चलते दोस्त ने 24 वर्षीय युवक की तेजधार हथियार से सिर पर वार कर हत्या कर दी। पीड़ित शोर न कर सके इसलिए उसका मुंह कपड़े से बांध दिया। परिजनों के अनुसार आरोपी की दो माह पहले मामूली हाथापाई हुई थी, जिस रंजिश के चलते उसने वारदात को अंजाम दिया और छत से कूदकर फरार हो गए।



अन्य दोस्तों ने मृतक के परिजनों को सूचना दी। सूचना मिलते ही परिजन मृतक की दुकान पर पहुंचे। सूचना के बाद पुराना उद्योग थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल के शव गृह भिजवाया। 


गांव गढ़ी सिकंदरपुर निवासी कुलदीप कश्यप ने बताया कि उसके भतीजे विनेश कश्यप (24) निवासी गढ़ी सिंकदरपुर छावनी की कुलदीप नगर में चिकन की दुकान है। जहां गुरुवार को वह अपने दोस्तों के साथ चिकन खाने गया था। वहां पर विनेश के दोस्त राम, लक्ष्मण, चुटिया, रोहित कालिया और जितेंद्र उर्फ घोड़ा भी आ गए। इसके बाद उन्होंने विनेश को भी शराब पार्टी करने की बात कही। विनेश ने चिकन बनाया।

सभी दिन में ही शराब पीने लगे। कुछ देर बाद कुलदीप अपने दोस्तों के साथ वहां से चला गया था, लेकिन विनेश और उसके दोस्त शराब पीते रहे। शराब पीने के दौरान उन्हें देरी हो गई थी। इसी वजह वे दुकान में ही सो गए थे। देर रात करीब ढाई बजे राम, लक्ष्मण, चुटिया पुलिस के साथ विनेश के घर पहुंचे। वहां उन्होंने बताया कि जितेंद्र ने विनेश के सिर पर चोट मार दी है। यह सुनने के बाद परिजन मौके पर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि विनेश का सिर फटा हुआ था और उसकी मौत हो चुकी थी। दुकान में काफी खून पड़ा था। 

दोस्तों ने पुलिस को बताई हत्या की कहानी

परिजनों ने बताया कि पुलिस के सामने तीनों दोस्तों ने बताया है कि गुरुवार को दिन भर की शराब पार्टी में किसी की भी कोई कहासुनी नहीं हुई थी। ज्यादा शराब पीने की वजह वह दुकान में ही सो गए थे। रात को करीब डेढ़ बजे जितेंद्र उठा और विनेश का मुंह बांध दिया। इसके बाद दुकान में रखी लोहे की रॉड से सो रहे विनेश के सिर पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। शुरुआती दो-दिन हमले में ही विनेश चित्त हो गया था। इसके बाद भी जितेंद्र उसकी टांगों पर हमला करता रहा। उसका कान भी काट दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी दुकान की छत कूदकर वहां से फरार हो गया। उसके साथ रोहित कालिया भी भाग गया।

तीन भाई-बहनों में बड़ा था विनेश

विनेश शादीशुदा था लेकिन उसका पत्नी से तलाक का केस चल रहा था। उसका चार वर्षीय एक बेटा भी है। वह तीन भाई-बहनों में सबसे बड़ा था। उसकी छोटी बहन आरजू (22) शादीशुदा है। सबसे छोटा भाई विकास (16) पढ़ाई करता है। पिता नरेश कश्यप का करीब चार साल पहले देहांत हो चुका है। मां सुनीता गृहिणी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00