लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Yamuna Nagar ›   Vacant posts of teachers will be filled by PGT in model schools, exercise begins

मॉडल स्कूलों में पीजीटी से भरेंगे शिक्षकों के खाली पद, कवायद शुरू

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Mon, 26 Sep 2022 01:57 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
जगाधरी। राजकीय स्कूलों में शिक्षकों की कमी के चलते विद्यार्थी, अध्यापक, अभिभावक सभी परेशान हैं। कई स्कूल ऐसे भी हैं जहां मात्र एक ही अध्यापक रह गया है। ऐसे में लोगों को उनके बच्चों के भविष्य की चिंता सताने लगी है। वहीं विभाग जिले के मॉडल स्कूलों में खाली शिक्षकों के पदों को भरने के प्रयास में लगा है। जिले में खाली 159 पद सेंटा टेस्ट पास पीजीटी से भरे जाएंगे।

विभाग की ओर से इसके लिए ऑनलाइन आवेदन भी मंगवा लिए हैं। वहीं आवेदन करने की अंतिम तिथि 26 सितंबर यानी सोमवार तक है। सोमवार रात 11 बजकर 59 मिनट तक पात्र पीजीटी आवेदन कर सकेंगे। पीजीटी वरीयता के अनुसार अपना स्टेशन भर सकते हैं। वहीं इसके लिए नियम व शर्तें पूर्व वाली ही लागू रहेंगी। विभाग की यह प्रक्रिया प्रदेश के सभी जिलों में चल रही है।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश के आरोही और राजकीय आर्दश संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में 1809 शिक्षकों के पद खाली हैं। शिक्षकों के रिक्त पद भरने के लिए विभाग ने पीजीटी (स्नातकोत्तर प्रशिक्षित शिक्षक) को पोस्टिंग को लेकर स्टेशन की वरीयता भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसमें केवल सेंटा टेस्ट पास पीजीटी ही भाग ले सकते हैं। पीजीटी सोमवार रात 11:59 बजे तक ही पोस्टिंग को लेकर स्टेशन भर सकेंगे। स्टेशन की वरीयता भरने से संबंधित नोटिस विभाग की वेबसाइट पर भी अपडेट किया गया है।
शिक्षकों की कमी के चलते हो रहे प्रदर्शन
जिले में शिक्षकों का पहले से ही भारी कमी है। वहीं तबादला नीति के चलते शिक्षकों की बदली हो गई है। जिसके बाद जिले के स्कूलों में शिक्षकों की और ज्यादा कमी हो गई है। शिक्षकों की कमी के चलते जिले भर में स्कूलों पर अभिभावक व राजनीतिक दल प्रदर्शन कर रहे हैं। अभिभावकों का कहना है कि शिक्षकों के बिना उनके बच्चों का भविष्य खराब हो रहा है। अभिभावक रामप्रकाश, दीपक, सुधीर, प्रदीप, नीलम, कंचन ने बताया कि स्कूल में अध्यापक नहीं है ऐसे में उन्हें बच्चों को ट्यूशन दिलानी पड़ रही है।
जिले में खाली 60 प्रतिशत शिक्षकों के पद
जिले के सभी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी है। जिसके चलते विद्यार्थियों के भविष्य पर तलवार लटक रही है। जिले के स्कूलों में 60 प्रतिशत से ज्यादा शिक्षकों के पद खाली हैं। कई स्कूलों में एक शिक्षक दो विषय पढ़ा रहे हैं। विभाग के अनुसार जिले में शिक्षकों के कुल 7,595 स्वीकृत पद हैं। जिसमें से 4,514 पद रिक्त हैं। जिले में मात्र 3081 शिक्षक कार्यरत हैं।
खाली पद भरने के लिए पीजीटी के आवेदन मांगे गए हैं। वरीयता के अनुसार स्टेशन भरने के लिए 26 सितंबर रात 11 बजकर 59 मिनट तक आवेदन कर सकते हैं। जिले में करीब 160 शिक्षकों के पद खाली हैं। इसके बाद स्कूलों में शिक्षकों की कमी से आ रही परेशानियों से राहत मिलेगी।
विज्ञापन
-प्रेम सिंह पूनिया, जिला शिक्षा अधिकारी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00