विज्ञापन
विज्ञापन
लाभ पंचमी - सौभाग्य वर्धन का दिन,घर बैठे कराएं लक्ष्मी गणेश पूजन एवं लक्ष्मी सहस्रनाम पाठ,मात्र 101/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

लाभ पंचमी - सौभाग्य वर्धन का दिन,घर बैठे कराएं लक्ष्मी गणेश पूजन एवं लक्ष्मी सहस्रनाम पाठ,मात्र 101/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

उपचुनाव: विधायक विक्रमादित्य बोले- नौकरियों को लेकर प्रदेश के लोगों से हो रहा भेदभाव

हिमाचल प्रदेश के मंडी लोकसभा उपचुनाव प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने आनी में चार जनसभाएं कीं। इस दौरान उन्होंने आनी के कुंगश, रघुपुर के देहुरी, कराड और बांशा में जनसभाओं का संबोधित किया। उन्होंने प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि जब भी कोई इंटरव्यू हो रहे हो तो वहां का लोकल यूथ उन इंटरव्यू में नहीं दिखता बल्कि धर्मपुर के लोग रातोंरात पूरे हिमाचल प्रदेश में नौकरी लेने जाते हैं, नौकरी अपने विस क्षेत्र में ले जाते हैं।

उन्होंने कहा कि जलशक्ति विभाग और लोनिवि में जितनी भी बेलदारों और पंप ऑपरेटरों की नौकरी लगी है, उनमें अधिकतर महेंद्र सिंह की धर्मपुर विस क्षेत्र के लोग नौकरियां लेकर जा रहे हैं। इसमें प्रदेश के लोगों के साथ भेदभाव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कहा कि तेल की कीमतें आसमान छू रही हैं और गृहिणियों को घर का चूल्हा चलाना तक मुश्किल हो गया है। ये वही सरकार हैं, जो कहती थी महंगाई कम करेंगे। 
... और पढ़ें

चंबा: अधूरा कार्य दिखाने पर शिक्षक ने फाड़ दी छात्रा की कॉपी

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के खज्जियार  में कक्षा में अधूरा कार्य दिखाने पर अध्यापक ने एक छात्रा की वर्क बुक फाड़ दी। इससे आहत होकर छात्रा ने घर में तीन दिन तक खाना नहीं खाया। यह घटना राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला रंडोह की है। 25 अक्तूबर को नौवीं कक्षा की छात्रा की शिक्षक ने सभी विद्यार्थियों के सामने वर्क बुक फाड़ दी। इसके बाद छात्रा मानसिक रूप से परेशान थी। परिवार से भी ज्यादा बात नहीं कर रही थी। परिवार ने उससे पूछा तो उसने सारी कहानी बताई। पिता ने संबंधित अध्यापक को फोन कर पूछा तो संतुष्ट जवाब नहीं दिया गया। बुधवार को स्कूल प्रबंधन समिति की उपस्थिति में अभिभावक प्रधानाचार्य से मिले और छात्रा से किए गए व्यवहार को लेकर कार्रवाई की मांग की। अध्यापक को भी बुलाया गया। दोनों पक्षों को आमने-सामने बैठाकर मामले की सुनवाई की गई।

छात्रा के पिता त्रिलोक कुमार ने बताया कि कक्षा में दिए जाने वाला कार्य पूरा विद्यार्थियों का कर्तव्य है, लेकिन कार्य अधूरा होने पर अध्यापक का ऐसा व्यवहार ठीक नहीं है। गलती होने पर डांटना आवश्यक है, लेकिन बच्चे को मानसिक रूप से परेशान करना सही नहीं है। अभिभावक खरैती राम, चमनलाल और आत्मा राम ने बताया कि उनके बच्चों की वर्क बुक फाड़ी गई है। अगर बच्चों ने कोई गलत कदम उठाया तो इसकी जिम्मेदारी संबंधित अध्यापक की होगी। प्रधानाचार्य जेएस कालिया ने बताया कि अध्यापक को निर्देश दिए हैं कि वह इस तरह की घटना दोबारा न दोहराएं। अन्यथा, कार्रवाई की जाएगी। एसएमसी अध्यक्ष तिलकराज ने बताया कि अध्यापक का विद्यार्थियों के साथ ऐसा व्यवहार सहन नहीं किया जाएगा। अध्यापक ने अपने व्यवहार में सुधार नहीं किया तो जिला प्रशासन और उच्चाधिकारियों से शिकायत की जाएगी।
... और पढ़ें

Kullu Malana Village Fire: कुल्लू के मलाणा गांव में भीषण अग्निकांड में 16 मकान राख, 150 लोग प्रभावित

विश्व के सबसे प्राचीन लोकतंत्र कहे जाने वाले कुल्लू जिले के ऐतिहासिक गांव मलाणा में आग से काष्ठकुणी शैली के बने 16 मकान जलकर राख हो गए। मंगलवार देर रात करीब एक बजे धाराबेहड़ में एक मकान में आग लगी। इसके बाद आग की लपटों ने साथ लगते दूसरे मकानों को भी अपनी चपेट में ले लिया। देखते ही देखते कुछ घंटों में ही 16 मकान राख का ढेर बन गए।

आग से गांव के 150 लोग प्रभावित हुए हैं और करीब नौ करोड़ का नुकसान बताया जा रहा है। गांव तक सड़क सुविधा न होने से तार स्पैन की मदद से आग बुझाने के उपकरण और राहत सामग्री घटनास्थल तक पहुंचाई गई। आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने घटना पर दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को घटना स्थल का दौरा कर प्रभावित परिवारों को तुरंत राहत और पुनर्वास सुविधा उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। 

सर्द मौसम के बीच 150 लोग अब खुले आसमान के नीचे आ गए हैं। देर रात आग लगने से गांव में अफरातफरी मच गई। लोग अपनी जान बचाकर घरों से बाहर दौड़े। सूचना मिलते ही रात डेढ़ बजे अग्निशमन विभाग और पुलिस बल को घटना स्थल के लिए रवाना किया गया। जब कुल्लू से करीब 60 किलोमीटर दूर मलाणा के आखिरी छोर तक टीम पहुंची तो यहां फायर उपकरण गांव तक पहुंचाने में और भी समय लग जाता। 

ऐसे में फायर उपकरण व अन्य राहत सामग्री को तार स्पैन से बुधवार सुबह 3:45 बजे गांव तक पहुंचाया गया। इसके बाद दमकल विभाग ने आईटीबीपी के जवानों और ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया। हालांकि तब तक 16 आशियाने राख के ढेर में बदल चुके थे।

रिहायशी मकानों के समीप ही पशुचारा इत्यादि का भी भंडारण किया था, जिसके चलते अधिक नुकसान हो गया। उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने कहा कि घटनास्थल पर जाकर राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लिया गया है। प्रभावित परिवारों को फौरी राहत प्रदान की जा रही है। इस दौरान पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा, एसडीएम विकास शुक्ला आदि मौजूद रहे। 
... और पढ़ें

उपभोक्ताओं को राहत: डिपो में अगले महीने 22 रुपये तक सस्ती मिलेंगी दालें

हिमाचल प्रदेश के 19 लाख राशनकार्ड उपभोक्ताओं को डिपुओं में नवंबर में तय रेट से 22 रुपये सस्ती दालें मिलेंगी। उपभोक्ताओं को चार में से तीन दालें दी जा रही हैं। इनमें दाल चना, मूंग, मलका और माश की दाल शामिल है। दालें प्रति किलो 22 रुपये तक सस्ती होंगी। प्रदेश सरकार केंद्रीय सरकारी एजेंसी नैफेड से दालों की खरीद करती है। बताया जा रहा है कि दालों के दाम गिरने से उपभोक्ताओं को सस्ती दालें मिलेंगी। 

अभी एपीएल उपभोक्ताओं को 67 रुपये मूंग, 82 रुपये मलका और 70 रुपये माश की दाल दी जा रही है। उल्लेखनीय है कि बीते महीने डिपो में दालें 20 रुपये तक मंहगी हो गई थीं। प्रदेश में 19 लाख के करीब राशनकार्ड धारक हैं। प्रदेश सरकार की ओर से उपभोक्ताओं को तीन दालें, दो लीटर तेल (सरसों और रिफाइंड), चीनी और नमक सब्सिडी पर उपलब्ध करा रही है। आटा और चावल केंद्र सरकार सब्सिडी पर प्रदेश को दे रही है। सरकार दालों की खरीद केंद्रीय सरकारी एंजेंसी नैफेड से खरीदती है।  
... और पढ़ें
दालें(फाइल) दालें(फाइल)

कांगड़ा: एसडीओ के साथ मंत्री बिक्रम के पीएसओ की मारपीट का ऑडियो वायरल

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के संसारपुर टैरेस में मंगलवार देर रात शाहनहर के एसडीओ से उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर के पीएसओ और कुछ अन्य लोगों के मारपीट करने और गालीगलौज का ऑडियो वायरल हुआ है। ऑडियो में शाहनहर के एसडीओ ने पूर्व सांसद और आजाद प्रत्याशी राजन सुशांत को उनके साथ हुई मारपीट के बारे में बताया है। एसडीओ संजय भारद्वाज ऑडियो में बता रहे हैं कि वह रात को जब संसारपुर टैरेस विश्राम गृह में चेकिंग के लिए आए तो वहां मंत्री बिक्रम ठाकुर के पीएसओ और कुछ अन्य युवक खा-पी रहे थे। उन्होंने चौकीदार से जब इसके बारे में जानकारी ली तो पता चला कि मंत्री के साथ ये लोग यहां आए थे। वहीं, इस बारे में जब एसडीओ ने अपने एक्सईएन से बात की तो उन्होंने उन लोगों को दो कमरे देने की बात कही।

एसडीओ ने कहा कि जब वह चौकीदार को उन्हें दो कमरे देने की बात करके नीचे आए तो चौकीदार ने बताया कि वे लोग वीआईपी कमरा खोलने की बात कर रहे हैं, लेकिन एसडीओ ने वीआईपी कमरे की चाबी अपनी जेब में रख ली। एसडीओ ने कहा कि जैसे ही उन्होंने चाबी जेब में डाली तो दो लोग पीछे से आए और चाबी छीन ली। इसके बाद विश्राम गृह में बैठे लोगों ने उनसे धक्कामुक्की की और उनके कपड़े फाड़ दिए। इस दौरान उनके हाथ की अंगुली में भी चोट आई। वहीं, मौके पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही मंत्री के पीएसओ और अन्य युवक वहां से फरार हो चुके थे।

अधिकारी बोल रहा है पीएसओ का नाम गलती से लिया: बिक्रम ठाकुर
उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर ने बताया कि मेरा पीएसओ बीती रात मेरे घर पर सोया था। यह षड्यंत्र डॉ. राजन सुशांत और उनके बेटे की ओर से रचा हो सकता है। चुनाव के मद्देनजर ऐसे ओछे हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। डॉ. सुशांत केवल इसका राजनीतिक फायदा लेने के लिए यह काम कर रहे हैं। मुझे जो जानकारी मिली है, उसमें यह तथ्य  सामने आए हैं कि वीडियो वायरल करने वाले ने शराब पी रखी थी। आज सुबह उस अधिकारी ने मेरे पीएसओ को फोन किया है, जिसमें उसने मेरे पीएसओ से माफी मांगी है। बिक्रम ठाकुर ने कहा कि हमारे पास एक रिकॉर्डिंग है, जिसमें उस अधिकारी ने माना है कि आपका नाम मैंने गलती से लिया है।
... और पढ़ें

हिमाचल में कोरोना के मामले बढ़े तो फिर लगेंगी पाबंदियां, सरकार कर रही निगरानी

हिमाचल प्रदेश में फिर से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी होने लगी है। बीते सप्ताह प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 1100 के करीब पहुंच गई थी। अब यह आंकड़ा बढ़कर 1700 पार हो गया है। अगर प्रदेश में इसी तरह मामलों में बढ़ोतरी होती रही सरकार पाबंदियां लगाने में पीछे नहीं हटेगी। दिवाली पर अतिरिक्त छुट्टियां भी इसलिए की गई हैं, ताकि चेन टूट सके। सरकार 10 नवंबर तक निगरानी कर रही है। अगर मामले नहीं घटते हैं तो ठोस निर्णय लिए जाएंगे। हिमाचल में कोरोना की दूसरी डोज लगाने वाले भी पॉजिटिव हो रहे हैं। स्कूली विद्यार्थी भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं।

संक्रमित विद्यार्थियों का आंकड़ा 6 सौ से पार हो गया है। प्रतिदिन प्रदेश में ढाई सौ से ज्यादा पॉजिटिव केस आ रहे हैं। इनमें 50 से 70 स्कूली विद्यार्थी हैं। बताया जा रहा है कि हिमाचल में फिर से कोरोना के डेल्टा और डेल्टा प्लस वेरियंट सक्रिय हो गए हैं। वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने वाले लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। पॉजिटिव स्कूली विद्यार्थियों में कौन सा वेरियंट है? इसकी जांच के लिए सैंपल दिल्ली भेजे गए हैं। कोरोना को लेकर बरती जा रही लापरवाही इसके फैलने का कारण बताई जा रही है। स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी प्रतिदिन कोरोना को लेकर उपायुक्त और मुख्य चिकित्सा अधिकारी से संभावित तीसरी लहर को लेकर इंतजाम और कोरोना के प्रति सतर्क रहने को कह रहे हैं। 
... और पढ़ें

उपलब्धि: हिमाचल के एनआईटी हमीरपुर की इस छात्रा को यूके की कंपनी में 1.09 करोड़ का पैकेज

हिमाचल प्रदेश के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) हमीरपुर की एक छात्रा को यूके की कंपनी ने 1.09 करोड़ के सालाना पैकेज पर नौकरी ऑफर की है। बीटेक अंतिम वर्ष की छात्रा साभ्या सूद यूके में अमेजन कंपनी में सेवाएं देंगी। साभ्या सूद हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के राजगढ़ की रहने वाली हैं। साभ्या के पिता प्रदीप सूद एक व्यवसायी हैं, जबकि माता डोली सूद बीएसएनएल से सेवानिवृत्त हुई हैं। जेईई की परीक्षा देने के बाद साभ्य सूद का चयन एनआईटी हमीरपुर में कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग विभाग में हुआ था। एनआईटी हमीरपुर ने लगातार दूसरे माह अपने छात्र की एक करोड़ से अधिक के सालाना पैकेज पर प्लेसमेंट करवाई है।

सितंबर में एनआईटी हमीरपुर के कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग दोहरी डिग्री के छात्र निशांत का चयन अमेरिका की एक फाइनेंस कंपनी में 1.51 करोड़ के सालाना पैकेज पर हुआ है। साभ्या सूद ने बताया कि यूके की इस कंपनी में चयन के लिए करीब 10 सप्ताह तक चलने वाली ऑनलाइन इंटरव्यू प्रक्रिया से उसे गुजरना पड़ा है। एनआईटी हमीरपुर के निदेशक डॉ. ललित कुमार अवस्थी और संस्थान के ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट अफसर डॉ. भारत भूषण शर्मा ने साभ्या को बधाई दी है।

जानें एनआईटी हमीरपुर को
एनआईटी हमीरपुर देश के उन 31 एनआईटी में से एक है जो सात अगस्त 1986 को भारत सरकार व राज्य सरकार के  एक संयुक्त व सहकारी उद्यम के तौर पर एक क्षेत्रीय इंजीनियरिंग कॉलेज के रूप में अस्तित्व में आया। हिमाचल प्रदेश के। स्थापना के समय सिविल और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में प्रत्येक में 30 छात्रों का प्रवेश हुआ था। 26 जून 2002 को इसे डीम्ड विश्वविद्यालय का दर्जा दिया गया और राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के रूप में अपग्रेड किया गया। इस संस्थान का मकसद मूल्य आधारित शैक्षणिक सिद्धांतों पर आधारित एक जीवंत बहुसांस्कृतिक सीखने के माहौल का निर्माण करना है। जहां सभी शामिल राष्ट्रीय और वैश्विक समुदाय के लिए प्रभावी ढंग से कुशलतापूर्वक और जिम्मेदारी से योगदान देंगे। संस्थान का मिशन गुणवत्ता और मूल्य आधारित शिक्षा प्रदान करने से इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी, वास्तुकला और विज्ञान के क्षेत्र में अकादमिक उत्कृष्टता प्राप्त करने का है। इसके अलावा विद्यार्थियों को उच्च नैतिक मूल्यों के साथ जिम्मेदार नागरिक और सक्षम पेशेवर बनने के लिए प्रेरित करने के अलावा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय  स्तर पर तकनीकी मानव संसाधन की अपेक्षाओं को पूरा करना है। 

 
... और पढ़ें

कोरोना: हिमाचल में दो संक्रमितों की मौत, 79 विद्यार्थियों और चार डॉक्टरों समेत 240 की रिपोर्ट पॉजिटिव

एनआईटी हमीरपुर की छात्रा साभ्य सूद।
हिमाचल प्रदेश में बुधवार को दो और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई। इनमें कांगड़ा में 34 वर्षीय महिला और शिमला में 90 वर्षीय संक्रमित बुजुर्ग महिला ने दम तोड़ दिया। वहीं प्रदेश में सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 79 विद्यार्थियों और इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल शिमला के चार रेजिडेंट डॉक्टरों समेत 240 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।  प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1972 पहुंच गई है।  

 बुधवार को सबसे अधिक 55 कोरोना संक्रमित विद्यार्थी कांगड़ा जिले में सामने आए। इसके अलावा ऊना में 10, मंडी सात, हमीरपुर तीन, बिलासपुर और शिमला में दो-दो विद्यार्थी पॉजिटिव हुए हैं। प्रदेश में 27 सितंबर से विद्यार्थियों के लिए खुले सरकारी स्कूलों में अभी तक 321 विद्यार्थी संक्रमित हो चुके हैं। इसमें से 285 अभी भी एक्टिव केस हैं। उधर, बुधवार को सरकारी स्कूलों में आठवीं से 12वीं कक्षा के 65 फीसदी विद्यार्थियों ने स्कूलों में हाजिरी दर्ज करवाई।

वहीं, प्रदेश में कोरोना के डेल्टा और डेल्टा प्लस वैरियंट फिर सक्रिय हो गए हैं। वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने वाले लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। पॉजिटिव स्कूली विद्यार्थियों में कौन सा वैरियंट है, इसकी जांच के लिए 70 सैंपल दिल्ली भेजे गए हैं। स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने उपायुक्त और मुख्य चिकित्सा अधिकारी से संभावित तीसरी लहर को लेकर इंतजाम और कोरोना के प्रति सतर्क रहने पर लेकर चर्चा की है। 

 
... और पढ़ें

मौसम: हिमाचल के लाहौल में बर्फबारी, शिमला में बारिश के साथ गिरे ओले, अधिकतम तापमान गिरावट

हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बुधवार को ताजा बर्फबारी हुई। राजधानी शिमला में दोपहर बाद करीब आधा घंटा बादलों की गड़गड़ाहट के बीच झमाझम बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हुई। प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में मौसम मिलाजुला बना रहा। कई जिलों में हल्के बादल छाए रहने के साथ धूप खिली। प्रदेश के अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री की कमी दर्ज हुई। प्रदेश में 31 अक्तूबर तक मौसम साफ बना रहने का पूर्वानुमान है। बुधवार को प्रदेश में दो नेशनल हाईवे सहित 21 सड़कों पर यातायात ठप रहा।

22 बिजली ट्रांसफार्मर भी बंद रहे।  शिमला में पांच और कुफरी में 2.5 मिलीमीटर बारिश हुई। राज्य आपदा प्रबंधन सेल के अनुसार बुधवार को नेशनल हाईवे तीन दारचा से सरचू और नेशनल हाईवे 505 ग्रांफू से लोसर के बीच यातायात बंद रहा। लाहौल-स्पीति जिले में सबसे अधिक 19 और कुल्लू में दो सड़कें बंद रहीं। कुल्लू जिले में 15, लाहौल-स्पीति में पांच और हमीरपुर में दो बिजली ट्रांसफार्मर ठप रहे।
... और पढ़ें

पिता धर्मेंद्र और मां के साथ मनाली पहुंचे अभिनेता सनी देओल

बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल अपने पिता एंव अपने जमाने के दिग्गज स्टार धर्मेंद्र और मां के साथ हिमाचल प्रदेश के मनाली पहंचे हैं। वे मनाली की हसीन वादियों का लुत्फ ले रहे हैं। देओल के परिवार का मनाली के साथ खास लगाव रहा है। सनी देओल मनाली की वादियों से इतना लगाव रखते हैं कि उन्होंने यहां आशियाना बनाने के लिए जमीन खरीदने का प्रयास किया। इसके लिए वे तत्कालीन राजस्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर से भी मिले, लेकिन किन्हीं कारणों से उनका सपना धरातल पर नहीं उतर पाया। लिहाजा अपनी मनाली में रहने की ख्वाहिश को पूरा करने को सनी देओल ने वामतट मार्ग पर सरसेई के पास एक कॉटेज किराये पर ले रखा है। वहीं धर्मेंद्र का भी मनाली से खास लगाव रहा है।

उन्होंने जीने नहीं दूंगा, तहलका, इज्जत और चरस सहित कई फिल्मों की शूटिंग मनाली में की है। इस दौरान मनाली उन्हें इतनी पसंद आई कि उन्होंने मनाली में जमीन लेकर एक स्टूडियो खोलने का मन बनाया। लेकिन हिमाचल में धारा 118 लागू होने के चलते गैरहिमाचली को जमीन लेने पर मनाही है। ऐसे में धर्मेंद्र भी यहां जमीन नहीं ले पाए। लेकिन सनी देओल के बेटे कर्ण देओल और बॉबी देओल की पहली फिल्म बरसात की 90 फीसदी शूटिंग मनाली में ही हुई है। बताया जा रहा है कि धर्मेंद्र परिवार सहित अगले हफ्ते तक मनाली में ही रहेंगे। 
... और पढ़ें

मंडी: मां ने कहा- बेटे अमित की शहादत पर गर्व, पिता बोले- देश के काम आया लाडला

 हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के जोगिंद्रनगर में माता-पिता बेटे नायक अमित कुमार की शहादत पर गर्व महसूस कर रहे हैं।  उन्हें बेटे को खोने का गम भी है। आंखों से आंसू छलक रहे हैं। भटवाड़ गांव के जांबाज सैनिक के शहीद होने से माहौल गमगीन है। गांव में चूल्हे भी नहीं जले। गांव में आम दिनों की तरह चहल पहल नदारद रही। मां भावना देवी बोलीं कि उनकी आंखों में बेटे की मौत का गम भले ही रह-रह कर आंसुओं में झलक रहा है, लेकिन बेटे की शहादत से उनका सिर गर्व से ऊंचा उठा है। 

बेटे के शहीद होने पर पिता ने क्षेत्रवासियों को संदेश दिया कि उनका दूसरा बेटा बलदेव कुमार भी भारतीय सेना में देश सेवा के लिए तैनात किया गया है। अरुणाचल में बेटे की शहादत पर पिता मंगत राम ने कहा कि उनका बेटा देश के लिए काम आया है। सैनिक के पिता के चेहरे पर दर्द साफ झलक रहा था, लेकिन वह इतना ही बोल पाए कि बेटे ने देश के लिए शहादत दी है। बुधवार को भी शहीद के परिवार को ढांढस बंधाने के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा। बैजनाथ के विधायक मुल्खराज प्रेमी ने भी शहीद के परिवार को सांत्वना दी। इससे पहले स्थानीय विधायक प्रकाश राणा, पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर और मंडल भाजपा अध्यक्ष पंकज जम्वाल सहित सभी राजनीतिक दलों के नेताओं ने शहीद नायक अमित कुमार को श्रद्धांजलि दी। 
... और पढ़ें

अर्की: छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल बोले- सरकार को अब 'जय राम जी की' कहने का वक्त

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में महंगाई इतनी बढ़ चुकी है कि अब सरकार को ‘जयराम जी की’ करने का समय आ गया है। प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस की चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बघेल ने कहा कि भाजपा विकास पर नहीं बल्कि विज्ञापनों पर ज्यादा खर्च करती है। उन्होंने दिवंगत वीरभद्र सिंह को याद करते हुए कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए जहां प्रदेश का विकास किया है, वहीं अपने चार वर्ष के कार्यकाल में अर्की विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हुए विकास के नए आयाम प्रस्तुत किए हैं। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार पर भी जमकर हमला बोला।

5 पैसे के काम पर 50 पैसे का प्रचार करते हैं मोदी : शुक्ला 
प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री पांच पैसे का काम करते हैं तो पचास पैसे का प्रचार करते हैं। शुक्ला ने कहा कि प्रदेश वासी इस समय बदलाव चाह रहे हैं तथा प्रदेश की चारों सीटों पर कांग्रेस की विजय होगी। 

नोटबंदी, जीएसटी, कोविड वैक्सीन निर्यात के लिए याद की जाएगी मोदी सरकार
यूपी व हिमाचल दौरे के बाद रायपुर पहुंचे छग के सीएम भूपेश बघेल ने मोदी सरकार की नोटबंदी, जीएसटी, कोविड वैक्सीन निर्यात नीति को लेकर कड़ी आलोचना की। रायपुर एयरपोर्ट पर पत्रकारों से चर्चा में बघेल से पूछा गया था कि गृह मंत्री अमित शाह ने पीएम मोदी को आजादी के बाद का सबसे सफल प्रशासक बताया है, आपका क्या कहना है? बघेल ने कहा कि यह शाह का आकलन हो सकता है, लेकिन जब भी इतिहास लिखा जाएगा तो इस बात की समीक्षा होगी कि नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था का क्या हुआ, जीएसटी लागू करने से व्यापार का क्या हुआ और देश में बनी वैक्सीन निर्यात करने का महामारी के दौरान जनता पर क्या असर पड़ेगा। 
सीएम बघेल ने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ में एक दिसंबर से धान की खरीदी शुरू हो जाएगी। 
 
... और पढ़ें

चेतन बरागटा ने रैली में दिखाई ताकत, भाजपा-कांग्रेस की बढ़ी धुकधुकी

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन हिमाचल प्रदेश के कोटखाई में बुधवार को निर्दलीय प्रत्याशी चेतन बरागटा की स्वाभिमान रैली का आयोजन हुआ। निर्दलीय प्रत्याशी की रैली में भारी जन सैलाब उमड़ा। इस दौरान पूर्व मंत्री नरेंद्र बरागटा की पत्नी पुष्पा बरागटा भी मौजूद रहीं। सभा के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए पुष्पा बरागटा फूट-फूट कर रोईं। जनसभा को संबोधित करते हुए चेतन बरागटा ने कहा कि मैं एक निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहा हूं। बावजूद इसके कांग्रेस और भाजपा एक-दूसरे को छोड़कर सिर्फ मुझको ही टारगेट कर रहे हैं। इससे में काफी हैरान हूं। दो राष्ट्रीय स्तरीय पार्टियां उपचुनाव में एक टीम बनकर मुझे टारगेट कर रही हैं। ऐसा लग रहा है जैसे कांग्रेस और भाजपा मिलकर मेरे खिलाफ उपचुनाव लड़ रही हैं।

चेतन बरागटा ने कहा कि मेरा टिकट कटना एक बहुत बढ़ा षड्यंत्र है। षड्यंत्र रचने वाले आज जरूर भाजपा के साथ खड़े हैं। लेकिन क्षेत्र की जनता जानती है कि उन्होंने हमेशा कांग्रेस की बी टीम के रुप में कार्य किया है। ऐसे लोग आज भाजपा का झंडा उठाकर चल रहे हैं, जो हमेशा चुनाव के समय कांग्रेस के साथ खड़े रहे। ये लोग हमेशा स्वर्गीय नरेंद्र बरागटा की कटाक्ष करते थे। जिन लोगों ने पार्टी को खून पसीने से सिंचा उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज वह क्षेत्रवासियों के मान-सम्मान और अधिकार की लड़ाई लड़ रहे हैं। क्षेत्र की जनता षड्यंत्रकारियों को चुनावों में अपने मतों से जवाब देगी। उन्होंने कहा कि सेब चुनाव चिह्न मुझे मेरे पिता के आशीर्वाद से मिला है। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00