लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   BJP uses TMC Khela hobe slogan against Mamata Banerjees party

Khela Hobe: अब भाजपा ने दिया ममता के खिलाफ 'खेला होबे' का नारा, कहा- अगले चुनाव में दोनों तरफ से होगा खेल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कोलकाता Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Sat, 03 Dec 2022 08:42 PM IST
सार

बंगाल में पंचायत चुनाव के पहले घमासान मचा हुआ है। इस बीच, भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने आने वाले समय में दोनों के बीच चुनावी खेल होगा। भाजपा अहिंसा में विश्वास करती है लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि अगर दो-दो हाथ करने की नौबत आएगी तो वह जवाब नहीं देगी। 

सुकांत मजूमदार
सुकांत मजूमदार - फोटो : ANI

विस्तार

भाजपा ने पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के लोकप्रिय नारे 'खेला होबे' का इस्तेमाल उसी के खिलाफ कर दिया। भाजपा ने कहा कि आने वाले चुनावों में दोनों के बीच खेला होगा। भाजपा राज्य के पंचायत चुनाव और लोकसभा चुनाव में टीएमसी के खिलाफ उसी नारे का इस्तेमाल करेगी। 



बंगाल में पंचायत चुनाव के पहले घमासान मचा हुआ है। इस बीच, भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने आने वाले समय में दोनों के बीच चुनावी खेल होगा। भाजपा अहिंसा में विश्वास करती है लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि अगर दो-दो हाथ करने की नौबत आएगी तो वह जवाब नहीं देगी। 


खतरनाक होगा 'खेला' : मजूमदार
भाजपा नेता मजूमदार ने शुक्रवार को उत्तरी 24 परगना जिले के बैरकपुर में एक जनसभा में यह बात कही। उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियां खेल खेलेंगी और यह खतरनाक होगा। बता दें, टीएमसी ने 2021 के विधानसभा चुनाव से पहले 'खेला होबे' का नारा दिया था। यह नारा बेहद लोकप्रिय हुआ था। कई दलों ने बंगाल के अलावा देश के अन्य हिस्सों में भी इसका जमकर इस्तेमाल किया था। 

चंद वर्षों में सत्ता से बाहर होगी टीएमसी
मजूमदार ने कहा, 'मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि तृणमूल सरकार, जो कि राज्य की संपत्तियां बेच रही है, अगले कुछ सालों में सत्ता से बाहर हो जाएगी। बंगाल में जल्दी चुनाव की ओर इशारा करते हुए भाजपा नेता ने दावा किया कि अगर पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 2024 के लोकसभा चुनाव के साथ होते हैं तो उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होगा। ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार 2021 में लगातार तीसरी बार राज्य में सत्ता में आई है। 

किसी को बख्शा नहीं जाएगा
लगभग 300 टीएमसी कार्यकर्ताओं को 2021 के चुनाव पश्चात हिंसा के मामलों में गिरफ्तार किए जाने को लेकर मजूमदार ने कहा कि और भी लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए जाने की संभावना है। मजूमदार ने कहा कि कोई भी व्यक्ति, चाहे वह किसी भी बड़े पद पर हो, जब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं, तब तक उसे बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने यह भी दावा किया कि लोकसभा में पुलिस की तटस्थता को लेकर एक विधेयक लाया जाएगा। 

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बंगाल पुलिस सत्तारूढ़ दल के प्रति पक्षपात करती है। उन्होंने पुलिस कर्मियों से तटस्थता से कार्य करने का आग्रह करते हुए कहा कि उनका वेतन करदाताओं के पैसे से दिया जाता है, न कि किसी राजनीतिक दल द्वारा।
विज्ञापन

लोकसभा के साथ हो सकते हैं बंगाल विस के चुनाव
बंगाल भाजपा ने कहा कि राज्य में निर्धारित समय से पूर्व विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। बंगाल भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा कि उनकी पार्टी अहिंसा में विश्वास करती है, इसका मतलब यह नहीं है कि अगर धक्का-मुक्की की नौबत आती है तो वह इस पर प्रतिक्रिया नहीं देगी। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि राज्य की संपत्ति बेच रही तृणमूल सरकार को कुछ वर्षों में हटा दिया जाएगा। अगर बंगाल में विधानसभा चुनाव 2024 के लोकसभा चुनाव के साथ होते हैं तो उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होगा। तृणमूल के लगभग 300 कार्यकर्ता 2021 के चुनाव के बाद की हिंसा से संबंधित मामलों में सलाखों के पीछे हैं, जिनकी जांच सीबीआइ द्वारा की जा रही है।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00