लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   cyclone mandous tamil nadu puducherry andhra pradesh red alert weather updates rainfall thunderstorms

Cyclone Mandous:मामल्लापुरम तट से टकराया मैंडूस, बारिश-आंधी में गिरे कई पेड़, लोगों को घरों में रहने की हिदायत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: गुलाम अहमद Updated Sat, 10 Dec 2022 07:10 AM IST
सार

Cyclone Mandous: शुक्रवार देर रात चक्रवात के लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू होते ही चेन्नई और आसपास के इलाकों में भारी बारिश और तेज आंधी का दौर शुरू हो गया था। चेन्नई के पट्टीनापक्कम में तूफान के चलते तेज बारिश हुई। 

चक्रवात मैंडूस
चक्रवात मैंडूस - फोटो : ANI

विस्तार

चक्रवाती तूफान मैंडूस शुक्रवार देर रात मामल्लापुरम से टकरा गया जिसके बाद तटीय तमिलनाडु में मध्यम से भारी बारिश हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को कहा कि चक्रवात मैंडूस के लैंडफॉल की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। मैंडूस के कारण शुक्रवार रात मामल्लापुरम से तटीय तमिलनाडु में मध्यम से भारी बारिश हुई। लैंडफॉल के बाद शनिवार को एक गहरे अवसाद के बाद यह कमजोर हो जाएगा। 



तीन घंटे में लगभग 65 पेड़ गिरे 
ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन (जीसीसी) ने सभी से चक्रवाती तूफान 'मैंडूस' के कमजोर पड़ने तक बाहर जाने से बचने का अनुरोध किया है। 3 घंटे में लगभग 65 पेड़ गिर गए हैं और जीसीसी उन्हें हटाने के उपाय कर रही है। निचले तश्तरी के आकार वाले क्षेत्रों में पानी के ठहराव को दूर करने के लिए मोटर पंपों का उपयोग किया जा रहा है। 



 
लैंडफॉल के बाद शनिवार को एक गहरे अवसाद और बाद मैंडूस कमजोर हो जाएगा। इससे पहले शुक्रवार को यह प्रचंड चक्रवाती तूफान से चक्रवाती तूफान के रूप में कमजोर पड़ गया था। चक्रवात के लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू होते ही चेन्नई में कुछ जगहों पर भारी बारिश और तेज आंधी का दौर शुरू हो गया। चेन्नई के पट्टीनापक्कम में तूफान के चलते तेज बारिश हुई और आंधी चली।   
 
आईएमडी ने कहा कि चेन्नई, तमिलनाडु में चक्रवाती तूफान मैंडूस की लैंडफॉल प्रक्रिया जारी है और कुछ ही घंटों में पूरी हो जाएगी। अगले तीन घंटों के दौरान तमिलनाडु के रानीपेट्टई, वेल्लोर, विलुप्पुरम, तिरुवन्नामलाई, सलेम, कल्लाकुरिची, तिरुपट्टूर जिलों और पुडुचेरी में कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है। 
विज्ञापन

चक्रवाती तूफान मैंडूस ने मामल्लापुरम के करीब तट को पार कर लिया। यह देर रात मामल्लापुरम के उत्तर-पश्चिम में चेन्नई से लगभग 30 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में स्थित था। चक्रवात का पिछला क्षेत्र जमीन की ओर बढ़ रहा है, इसलिए इसकी लैंडफॉल प्रक्रिया अगले 1 घंटे में पूरी हो जाएगी।  

कई राज्यों में रेड अलर्ट
इसको लेकर तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में रेड अलर्ट जारी किया गया है। इन राज्यों के कई जिलों में स्कूल-कॉलेजों में आज छुट्टी घोषित की गई है। चेन्नई स्थित क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले तीन घंटों में तिरुवल्लुर, चेन्नई, चेंगलपट्टू और कांचीपुरम जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना जताई।

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुमान के मुताबिक, रानीपेट्टई, वेल्लोर, तिरुपत्तर, कृष्णागिरी, धर्मपुरी, तिरुवन्नामलाई, कल्लाकुरिची, अरियालुर, पेराम्बलुर, तिरुचिरापल्ली, करूर, इरोड, सलेम में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। अगले तीन घंटों में तमिलनाडु के नमक्कल, थिरुपुर, कोयम्बटूर, नीलगिरी, डिंडीगुल, थेनी, मदुरै, शिवगंगई, विरुधुनगर और तेनकासी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

वहीं, मौसम विभाग (IMD) ने तमिलनाडु के तीन जिलों चेंगलपट्टू, विल्लुपुरम और कांचीपुरम में आज रेड अलर्ट जारी किया गया। अनुमान के मुताबिक चक्रवात मैंडूस के कारण अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। जबकि तमिलनाडु और पुडुचेरी के उत्तर तटीय इलाकों में अलग-अलग जगहों पर मूसलाधार बारिश होने की संभावना जताई गई थी।




10 जिलों में एनडीआरएफ की टीमें तैनात
मौसम विभाग के अलर्ट के बाद तमिलनाडु के 10 जिलों में एनडीआरएफ और राज्य सुरक्षा बल की 12 टीमों को तैनात किया गया है। चक्रवात 'मैंडूस'के मद्देनजर चेन्नई, विल्लुपुरम, कुड्डालोर और कांचीपुरम जिलों में सभी स्कूल-कॉलेजों को आज बंद रखने का फैसला किया गया है। चक्रवात मैंडूस के आज मध्यरात्रि तक आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा तट को पार करने की संभावना है।

IMD ने जारी की चेतावनी
चक्रवात मंडौस के मामल्लापुरम के आसपास पुडुचेरी और श्रीहरिकोटा के बीच उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी और आस-पास के दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों को पार करने की संभावना है। आज आधी रात या कल सुबह 65-75 किमी से लेकर 85 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। मौसम विज्ञान के उप महानिदेशक (चक्रवात पर क्षेत्रीय मेट्रोलॉजी केंद्र) एस बालचंद्रन ने बताया कि हवा की गति लगभग 14 किमी प्रति घंटे है। चेन्नई और आसपास के इलाकों में 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही हैं। लैंडफॉल प्रक्रिया शुरू हो गई है। बारिश और तेज़ हवाएं जारी रहेंगी।
 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00