लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   INS Sunayna in Seychelles to mark India's maiden participation in CMF exercise

INS Sunayna: हिंदुस्तान की ताकत दिखाने सेशेल्स पहुंची आईएनएस सुनयना, 'ऑपरेशन सदर्न रेडीनेस' में लेगी भाग

पीटीआई, नई दिल्ली Published by: संजीव कुमार झा Updated Mon, 26 Sep 2022 07:18 PM IST
सार

आईएनएस सुनयना वार्षिक प्रशिक्षण अभ्यास ‘ऑपरेशन सदर्न रेडीनेस ऑफ कंबाइंड मैरीटाइम फोर्सेज’ (सीएमएफ) में भाग लेने के लिए पोर्ट विक्टोरिया सेशेल्स पहुंच चुकी है।

आईएनएस सुनयना
आईएनएस सुनयना - फोटो : PIB
ख़बर सुनें

विस्तार

आईएनएस सुनयना वार्षिक प्रशिक्षण अभ्यास ‘ऑपरेशन सदर्न रेडीनेस ऑफ कंबाइंड मैरीटाइम फोर्सेज’ (सीएमएफ) में भाग लेने के लिए पोर्ट विक्टोरिया सेशेल्स पहुंच चुकी है। यह न केवल हिंद महासागर क्षेत्र में समुद्री सुरक्षा के लिए भारतीय नौसेना की प्रतिबद्धता को सुदृढ़ करता है, बल्कि सीएमएफ अभ्यास में भारतीय नौसेना के जहाज की पहली भागीदारी को भी दर्शाता है। बता दें कि भारतीय नौसेना पहली बार संयुक्त समुद्री बल में भाग ले रही है।



जहाज, सीएमएफ द्वारा आयोजित क्षमता निर्माण अभ्यास में सहयोगी भागीदार के रूप में भाग लेगा। संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास में संयुक्त राज्य अमेरिका, इटली, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा तथा न्यूजीलैंड के प्रतिनिधिमंडल और यूके, स्पेन तथा भारत के जहाज भाग लेंगे। जहाज के पोर्ट कॉल के दौरान, भाग लेने वाले देशों के साथ पेशेवर स्तर पर बातचीत की योजना तैयार की गई है।


भारत और यूएई के नौसेना प्रमुख के बीच मुलाकात
संयुक्त अरब अमीरात वायु सेना और वायु रक्षा के कमांडर मेजर जनरल इब्राहिम नासिर मोहम्मद अल अलावी ने आज एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी से मुलाकात की। दोनों प्रमुखों ने मौजूदा द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने और आपसी हित के क्षेत्रों में सहयोग को मजबूत करने के तरीकों और साधनों पर चर्चा की। भारतीय वायु सेना ने इसकी जानकारी दी।

पहली बार गैबन के बंदरगाह पहुंचा भारतीय नौसैनिक पोत
समुद्री डकैती रोधी (एंटी-पायरेसी) गश्त के तहत गुएना की खड़ी में की जा रही तैनाती के तहत भारतीय नौसना का पोत ‘आईएनएस तरकश’ अफ्रीकी देश गैबन के तट पर पहुंचा। रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को यहां बयान जारी करके यह जानकारी दी और कहा कि भारतीय नौसैनिक पोत के गैबन पहुंचने का यह पहला मामला है।

यह पोत गैबन के बंदरगाह ‘पोर्ट जेंटिल’ में ठहरा है। बयान में कहा गया है कि गैबन के बंदगराह पर ठहराव के दौरान पोत के चालक दल के सदस्य आधिकारिक और पेशेवर मेलजोल के साथ-साथ खेल कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। मंत्रालय ने कहा कि पेशेवर बातचीत के तहत चर्चा, आग बुझाने और क्षति नियंत्रण का अभ्यास, चिकित्सा और हताहतों की निकासी का मुद्दा और गोताखोरी संचालन शामिल होगा। अधिकारियों ने कहा कि इसके अलावा सामाजिक मेलजोल की भी योजना है। पोत आगंतुकों के लिए भी खुला रहेगा।
 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00