लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Maharashtra government to open 700 health clinics named after Sena founder Bal Thackeray

Maharashtra: उद्धव से तौबा लेकिन बाल ठाकरे के नाम का उपयोग करेंगे सीएम शिंदे, कर दिया ये बड़ा एलान

पीटीआई, मुंबई Published by: संजीव कुमार झा Updated Tue, 04 Oct 2022 02:23 PM IST
सार

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को पता है कि बाल ठाकरे के नाम के बिना प्रदेश की राजनीति मुश्किल है, इसलिए उन्होंने उनके नाम पर बड़ा एलान कर दिया है। 

एकनाथ शिंदे और बाल ठाकरे
एकनाथ शिंदे और बाल ठाकरे - फोटो : Social Media
ख़बर सुनें

विस्तार

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने भले ही उद्धव ठाकरे को झटका दे दिया है लेकिन उनके पिता बाल ठाकरे के नाम को नहीं छोड़ना चाहते हैं। शिंदे को पता है कि बाल ठाकरे के नाम के बिना महाराष्ट्र की राजनीति मुश्किल है। दरअसल,  मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मंगलवार को शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे के नाम पर राज्य में 700 आपला दवाखाना (स्वास्थ्य क्लीनिक) स्थापित करने की घोषणा कर दी है । मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करना उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है और स्वास्थ्य बजट को दोगुना किया जाएगा।



लोगों को उनके घरों के करीब चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करना उद्देश्य
आपला दवाखाना पहल के पीछे का उद्देश्य लोगों को उनके घरों के करीब चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करना है। बयान में कहा गया है कि राज्य में करीब 700 ऐसे क्लीनिक खोले जाएंगे और अकेले मुंबई में 227 ऐसी सुविधाएं होंगी, जिनमें से 50 को दो अक्टूबर को शुरू किया गया था। 


हर जिले में मेडिकल कॉलेज ताकि गांव में बेहतर इलाज मिले

आगामी बृहन्मुंबई नगर निगम चुनावों के आलोक में विकास महत्व रखता है। यह घोषणा शिवसेना के दो प्रतिद्वंद्वी धड़ों द्वारा अपनी वार्षिक दशहरा रैलियों के आयोजन से एक दिन पहले भी की गई है। शिंदे ने कहा कि राज्य सरकार ने हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज खोलने का फैसला किया है ताकि ग्रामीण इलाकों के लोगों को बेहतर इलाज मिल सके। शिंदे ने कहा कि जिला स्तर पर मेडिकल कॉलेज यह सुनिश्चित करेंगे कि ग्रामीण क्षेत्रों को पर्याप्त संख्या में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ मिले। इसके अलावा, राज्य में स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए, प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों, उप-अस्पतालों और ग्रामीण अस्पतालों को वर्गीकृत किया जाएगा, मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में कैथीटेराइजेशन प्रयोगशालाएं भी खोलेगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00