Hindi News ›   Lifestyle ›   Health & Fitness ›   After heart attack, take care of your heart in this way, these measures can be very effective

हार्ट अटैक के बाद अपने दिल का इस तरह रखें ख्याल, बेहद कारगर हो सकते हैं ये उपाय

डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Harendra Chaudhary Updated Tue, 01 Sep 2020 08:36 PM IST

सार

एम्स के कार्डियोलोजिस्ट के मुताबिक सबसे पहले यह समझ लेना चाहिए कि अभी तक दुनिया में कोई भी ऐसी तकनीकी विकसित नहीं हो सकी है, जिससे हार्ट अटैक आने के बाद दिल को हुए नुकसान की पूरी भरपाई की जा सके...
heart attack
heart attack - फोटो : File Photo
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हार्ट अटैक अब बेहद गंभीर बीमारी बनती जा रही है। बदलती जीवन शैली के कारण आजकल युुवा भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। शरीर को होने वाली परेशानी और इलाज पर भारी-भरकम खर्च के कारण हार्ट अटैक का नाम सुनकर भी लोगों की परेशानी बढ़ जाती है, लेकिन अगर आप चाहें तो स्वयं ही इस खतरे को कम कर सकते हैं। विशेषकर जिन्हें पहले हार्ट अटैक आ चुका हो, वे भी अगर चाहें तो अपने पास आने वाली समस्या को टाल सकते हैं। इसके लिए उन्हें अपनी जीवनशैली में कुछ बदलाव करने की जरुरत होती है और साथ ही डॉक्टर की सलाह का पूरा पालन करना होता है।
विज्ञापन


एम्स में कार्डियोलोजिस्ट (हृदय रोग विशेषज्ञ) डॉ. संदीप मिश्रा के मुताबिक सबसे पहले यह समझ लेना चाहिए कि अभी तक दुनिया में कोई भी ऐसी तकनीकी विकसित नहीं हो सकी है, जिससे हार्ट अटैक आने के बाद दिल को हुए नुकसान की पूरी भरपाई की जा सके। इलाज के माध्यम से आप केवल दुबारा आने वाली समस्या को टाल सकते हैं। ऐसे में यही बेहतर है कि आप अपने दिल की बेहतर देखभाल करें और बीमारी को अपने पास ही न आने दें, और अगर पहले हार्ट अटैक आ चुका है तो इसे दोबारा आने से रोक सकें।


डॉक्टर संदीप मिश्रा के मुताबिक जीवनशैली में बदलाव हार्ट अटैक से बचाने में सबसे कारगर हो सकता है। शारीरिक गतिविधियों को बढ़ाना और प्रतिदिन व्यायाम करना हार्ट अटैक रोकने में सबसे कारगर भूमिका निभाता है। इसके अलावा खानपान में भी सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि हाई कैलोरी और वसा से भरपूर खाद्य पदार्थ लोगों को इस बीमारी के प्रति तेजी से धकेलते हैं।

अगर पहले आ चुका है हार्ट अटैक

जिन लोगों को पहले हार्ट अटैक आ चुका है, उन्हें अटैक आने से अगले दो-तीन दिन तक कोई भारी कामकाज नहीं करना चाहिए। लेकिन डॉक्टर की सलाह के बाद धीरे-धीरे शारीरिक गतिविधियां बढ़ानी चाहिए। हल्की सुबह की सैर से शुरू कर 30 मिनट तक टहलना काफी फायदेमंद रहता है। इसके अलावा जरूरत की कोई सामग्री खरीदने के लिए आसपास टहलते हुए जाना, सीढ़ियों पर धीरे-धीरे चढ़ना या उतरना भी ऐसे लोगों के लिए फायदेमंद रहता है।

दवा भूलना हार्ट अटैक को दुबारा न्यौता देने जैसा

एक बार हार्ट अटैक आ जाने के बाद डॉक्टर जिन दवाओं को शुरू करते हैं, उन्हें डॉक्टर की सलाह के बिना बंद नहीं करना चाहिए। दवा खाने में किसी तरह की लापरवाही हार्ट अटैक को दोबारा न्यौता देने जैसा है, इसलिए दवा खाने में किसी तरह की चूक नहीं होनी चाहिए।

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00