लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow News ›   Mainpuri Lok Sabha by-election: SP seeking votes on Netaji's name and his work, Akhilesh is also working on th

मैनपुरी उपचुनाव : नेताजी के नाम और उनके काम पर वोट मांग रहे सपाई, अखिलेश भी इसी रणनीति पर कर रहे हैं काम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Sun, 27 Nov 2022 10:05 PM IST
सार

आमतौर पर जनसभाओं में खुद के कार्यों मेट्रो, एक्सप्रेसवे आदि को गिनाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मैनपुरी में बदले हुए नजर आ रहे हैं। वह मुलायम सिंह यादव के कार्यों को गिना रहे हैं।

डिंपल यादव
डिंपल यादव - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

सपाइयों ने मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव मुलायम सिंह बनाम भाजपा बना दिया है। उनके निधन के बाद हो रहे इस चुनाव में सपाई नेताजी के नाम और उनके काम की दुहाई देकर वोट मांग रहे हैं। प्रत्याशी डिंपल यादव ही नहीं बल्कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी इसी रणनीति पर कार्य कर रहे हैं।



आमतौर पर जनसभाओं में खुद के कार्यों मेट्रो, एक्सप्रेसवे आदि को गिनाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मैनपुरी में बदले हुए नजर आ रहे हैं। वह मुलायम सिंह यादव के कार्यों को गिना रहे हैं। वह एक्सप्रेसवे का जिक्र करते हैं लेकिन इसका श्रेय भी मुलायम सिंह को देते हैं। इसी तरह मैनपुरी क्षेत्र में हुए मेडिकल कॉलेज समेत अन्य सभी कार्यों को मुलायम सिंह से जोड़कर बताते हैं। वह जनसभा ही नहीं, बल्कि घर-घर जनसंपर्क में भी नेताजी और जनता के रिश्ते की दुहाई दे रहे हैं।


यही स्थिति प्रत्याशी डिंपल यादव की है। वह जनसंपर्क में महिलाओं के बीच नेताजी का जिक्र कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए वोट मांगती हैं। कहती हैं, उन्होंने संकल्प लिया है कि नेताजी के आदर्शों और विचारों पर चलकर मैनपुरी के विकास को आगे बढ़ाएंगी।

अलग-अलग जाति के नेताओं को किया ताकीद
मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र के विभिन्न बूथों पर जिम्मेदारी संभाल रहे अलग-अलग जाति के नेताओं को ताकीद किया गया है कि वे जनता के बीच सिर्फ और सिर्फ नेताजी की बात करेंगे। सूत्रों का कहना है कि पिछले दिनों कुछ दलित नेताओं ने दलितों के बीच अन्य नेताओं की तस्वीर लगाकर जनसभा की। इस पर पार्टी मुख्यालय से उन्हें निर्देश दिया गया कि मैनपुरी में सिर्फ और सिर्फ नेताजी और डॉ. भीमराव अंबेडकर की बात करना है। उन नेताओं को मुलायम सिंह यादव द्वारा दलित हित में किए गए कार्यों को गिनाने के निर्देश भी दिए गए हैं। 

मैनपुरी आए ज्यादातर यादव नेताओं को लौटाया
सपा ने कुछ समय पहले प्रदेश भर के नेताओं को मैनपुरी, खतौली और रामपुर जाने के लिए कहा था। ऐसे में ज्यादातर यादव नेता मैनपुरी में डट गए। पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने अब मैनपुरी में डेरा डालने वाले यादव नेताओं को वापस जाने का निर्देश दिया है। उनका तर्क है कि मैनपुरी में सैफई परिवार खुद ही लगा हुआ है।

ऐसे में अन्य यादव नेता रामपुर अथवा खतौली जाएं। पूरब के मुस्लिम नेताओं को मैनपुरी में लगाया गया है जबकि पश्चिम वालों को खतौली व रामपुर में जाने का निर्देश दिया गया है। इसी तरह दलित नेताओं में मध्य और पूरब के लोगों को मैनपुरी और पश्चिम वालों को रामपुर  व खतौली में रहने का निर्देश दिया गया है।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00