लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   one died in a blast in a village of BKT in Lucknow.

Lucknow News: पटाखा बनाते समय घर में विस्फोट से इलाका दहला, एक की मौत, 14 घायल

माई सिटी रिपोर्टर, अमर उजाला, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Tue, 04 Oct 2022 02:13 PM IST
सार

राजधानी लखनऊ के बीकेटी में घनी आबादी में पटाखा बनाने का काम चल रहा था। सोमवार रात को एक के बाद एक तीन धमाकों से इलाका दहल उठा। धमाके में घायल एक व्यक्ति की मौत हो गई।

धमाके के बाद बिखरा पड़ा मलबा।
धमाके के बाद बिखरा पड़ा मलबा। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

बीकेटी के बरगदी गांव में सोमवार रात घर में पटाखा बनाते समय भीषण विस्फोट से पूरा इलाका दहल गया। धमाका इतना तेज था कि छत उड़ गई और पूरा मकान खंडहर में तब्दील हो गया। हादसे में जुबेर (35) की जान चली गई, जबकि 14 लोग घायल हो गए। घर के अंदर भारी मात्रा में दीपावली के लिए अनार बनाने का सामान बिखरा मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए रामसागर चिकित्सालय भेजा, जहां से एक को ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया। हालांकि, पुलिस रसोई गैस सिलेंडर फटने से हादसा बताती रही।



बरगदी गांव में जुबेर व उसके तीन अन्य भाइयों के 15 परिजन चार कमरे के मकान में रहते थे। परिवार के सभी सदस्य रोजगार के लिए अनार व अन्य छोटे पटाखे बनाने का काम करते थे। घर के अंदर भारी मात्रा में बारूद, अनार के मिट्टी के बर्तन और अन्य सामग्री रखी थी। तीन कमरों में परिवार के लोग रहते थे, जबकि चौथे कमरे में अनार बनाया जाता था। सोमवार रात करीब आठ बजे अचानक तेज धमाका होने से मकान की छत उड़ गई और दो तरफ की दीवार गिर गई। हादसे में परिवार के सभी 15 सदस्य मलबे में दब गए। धमाके की आवाज सुनकर पड़ोसी मदद करने के लिए आए और पुलिस को सूचना दी।


ये भी पढ़ें - PFI: पीएफआई के तीन सदस्य बहराइच से हिरासत में, सीएए व एनआरसी के प्रदर्शन में सक्रिय थे आरोपी

ये भी पढ़ें - Ahmad Beg on remand: रिमांड के तीसरे दिन अहमद बेग से लंबी पूछताछ, दो लोगों से कराया आमना-सामना


जुबेर की मौके पर ही हो गई मौत
प्रभारी निरीक्षक बीकेटी जितेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से मलबा हटवा कर एक-एक कर 15 लोगों को बाहर निकाला। इसमें जुबेर की मौत हो चुकी थी। सभी 14 घायलों को रामसागर मिश्रा अस्पताल पहुंचाया गया, जहां एक की हालत गंभीर देख उसे ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया। प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक घायलों में सलमान, सैफ, समर, शबनम, जाकिरा, मुन्ना, असलम, साजिद, निदा बानो, फरीद, फैजान, गुलशन, राबिया, नाजनीन शामिल हैं। इसमें चार बच्चे हैं। 

ताबड़तोड़ हुए तीन धमाके
घनी आबादी के बीच पटाखे बनाने का काम चल रहा था। ग्रामीणों के मुताबिक इस पर कई लोगों ने आपत्ति भी की थी, लेकिन जुबेर के परिजन काम नहीं बंद कर रहे थे। सोमवार रात तीन बार ताबड़तोड़ धमाके हुए। इससे आसपास भी धुएं का गुबार फैल गया। इसके कारण कुछ देर तक लोगों को कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। मलबे में दबे घरवालों को निकालने में ग्रामीणों व पुलिस को दो घंटे का समय लग गया।
विज्ञापन

पुलिस कह रही...रसोई गैस सिलेंडर फटा
एसपी ग्रामीण हृदेश कुमार के मुताबिक जुबेर के पिता खलील ने पटाखा बनाने का लाइसेंस इटौंजा के अर्जुनगंज गांव के नाम पर लिया था। इसी कारण पटाखा बनाने की आशंका है, लेकिन हादसा सिलेंडर विस्फोट के कारण हुआ है। घर के अंदर अनार के मिट्टी के सामान भी मिले हैं। फोरेंसिक टीम बुलाई गई है। सभी पुलिसकर्मियों को मौके से दूर कर दिया है। आसपास के इलाकों को सील कर कर हर पहलू पर जांच की जा रही है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00