लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow News ›   Who will be the first police commissioner in Agra, prayagraj and gaziyabad.

UP News: कौन होगा आगरा, प्रयागराज और गाजियाबाद का पहला पुलिस आयुक्त, सरगर्मियां तेज

अमर उजाला ब्यूरो, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Sat, 26 Nov 2022 01:17 PM IST
सार

यूपी के तीन शहरों में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद आयुक्त के पद पर तैनाती को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं। प्रतीक्षारत आईपीएस अफसरों की तैनाती को लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
विज्ञापन

विस्तार

उत्तर प्रदेश में तीन शहरों में पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू होने के बाद अब यहां का पहला पुलिस आयुक्त कौन होगा, इसे लेकर सरगर्मियां बढ़ गई है। लोग अपने-अपने हिसाब से अंदाजा लगा रहे हैं कि नए पुलिस कमिश्नरेट का पहला आयुक्त किसे बनाया जाएगा।



जानकार बता रहे हैं कि नए गठित तीनों पुलिस कमिश्नरेट पूर्व के चार पुलिस कमिश्नरेट से छोटे बनाए गए हैं। जहां लखनऊ में संयुक्त पुलिस आयुक्त के दो पद, कानपुर, वाराणसी और नोएडा में अपर पुलिस आयुक्त के दो-दो पद सृजित हैं, वहीं नई कमिश्नरेट के लिए एक-एक ही अपर पुलिस आयुक्त के पद सृजन का प्रस्ताव है। नए कमिश्नरेट में 3-3 जोन होंगे। यहां डीसीपी की भी संख्या 3-3 ही रहेगी।


ये भी पढ़ें - मदरसों का सर्वे किसी भी तरह की जांच नहीं, चेयरमैन ने प्रबंधनों के नाम जारी किया संदेश

ये भी पढ़ें - एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा- प्रदेश में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम लागू होने से आया परिवर्तन


पूर्व में गठित पुलिस कमिश्नरेट में जोन के अतिरिक्त यातायात, महिला सुरक्षा और प्रोटोकाल जैसे पदों के लिए अलग-अलग डीसीपी के पदों का सृजन किया गया था। मौजूदा समय में पहले से ही एसपी रैंक के चार अधिकारी तैनात हैं। कमिश्नरेट के गठन के बाद इनकी संख्या पांच हो जाएगी। गाजियाबाद में जो चार आईपीएस अधिकारी तैनात हैं उसमें 2009 बैच के एसएसपी मुनिराज जी, 2017 बैच की दीक्षा शर्मा, निपुन अग्रवाल और इराज राजा सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात हैं। लखनऊ में इसी 2017 बैच के दो अफसर एसएम कासिम आब्दी और प्राची सिंह पुलिस उपायुक्त के पद पर तैनात हैं।

इसी तरह आगरा में भी एसपी रैंक के चार अफसर मौजूदा समय में तैनात हैं। इसमें 2010 बैच के आईपीएस प्रभाकर चौधरी बतौर एसएसपी तैनात हैं। जबकि सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में सत्यजीत गुप्ता, विकास कुमार और सोमेंद्र मीना की तैनाती है। वहीं, प्रयागराज में मौजूदा समय में एसपी रैंक के तीन अफसरों की तैनाती है। इसमें 2011 बैच के शैलेश कुमार पांडेय एसएसपी के रूप में और सौरभ दीक्षित और अभिषेक कुमार अग्रवाल सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात हैं। 
विज्ञापन

डीसीपी के पद पर 2015, 2016 और 2017 के अफसरों की हो सकती है तैनाती
नई कमिश्नरेट में डीसीपी के 9 पद सृजित किए जा रहे हैं। इन पदों पर 2015, 2016 और 2017 बैच के अफसरों की तैनाती की जा सकती है। इसके पीछे की वजह यह बताई जा रही है कि यहां अपर पुलिस आयुक्त का पद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का होगा। ऐसे में उससे जूनियर अफसरों को ही डीसीपी के रूप में तैनाती दी जाएगी।

क्या इनको भी मिलेगी तैनाती

मौजूदा समय में 10 आईपीएस अफसर प्रतीक्षारत हैं। इसमें एडीजी रैंक के चार अफसर शामिल हैं। कानपुर पुलिस आयुक्त के पद से हटाए गए विजय सिंह मीणा, लखनऊ पुलिस आयुक्त के पद से हटे ध्रुवकांत ठाकुर, केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे मुथा अशोक जैन और छुट्टी से लौटे जीके गोस्वामी प्रतीक्षारत हैं। इसके अलावा निलंबन के बाद बहाल किए गए डीआईजी अनंत देव, एसपी पवन कुमार, उन्नाव से हटाए गए दिनेश त्रिपाठी, गाजीपुर से हटाए गए रोहन बोत्रे और मुरादाबाद से हटाए गए हेमंत कुटियाल का नाम शामिल है। कयास लगाए जा रहे हैं कि इन अफसरों की तैनाती भी इसी सूची में हो सकती है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00