लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Royal Enfield Hunter 350 Retro vs Metro: हंटर 350 के दोनों वैरिएंट्स में क्या है फर्क? जानें पूरी डिटेल्स

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अमर शर्मा Updated Mon, 08 Aug 2022 07:06 PM IST
Royal Enfield Hunter 350
1 of 7
विज्ञापन
Royal Enfield Hunter 350 (रॉयल एनफील्ड हंटर 350) का मोटरसाइकिल प्रेमी काफी समय से इंतजार कर रहे थे। यह लंबा इंतजार आखिरकार खत्म हो गया और अब Royal Enfield Hunter 350 आधिकारिक तौर पर बिक्री के लिए उपलब्ध है, जिसकी शुरुआती एक्स-शोरूम कीमत 1.50 रुपये से शुरू होती है। नई हंटर 350 इस समय बिक्री की जा रही सबसे किफायती रॉयल एनफील्ड बाइक है। 

रॉयल एनफील्ड हंटर 350 दो अलग-अलग वैरिएंट्स - Retro (रेट्रो) और Metro (मेट्रो) में उपलब्ध है। मेट्रो वैरिएंट दो अलग-अलग ट्रिम ऑप्शन - Dapper (डैपर) और Rebel (रिबेल) में आती है। कंपनी के अन्य मॉडलों की तुलना में इसमें कई नए बदलाव देखने को मिलते हैं। हालांकि, दो मॉडलों - रेट्रो और मेट्रो के बीच अंतर ने खरीदारों को भ्रमित कर दिया है। हम रॉयल एनफील्ड रेट्रो और मेट्रो वैरिएंट के बारे हर जानकारी देंगे, जिससे यह पता चल सके कि इन मॉडल में क्या अंतर है। ताकि नए रॉयल एनफील्ड हंटर को खरीदते समय आपको आसानी हो। 
Royal Enfield Hunter 350
2 of 7
Retro और Metro का अंतर - व्हील्स
हाल ही में लॉन्च हुई रॉयल एनफील्ड हंटर के दोनों वैरिएंट्स में सबसे बड़ा अंतर पहियों का है। हंटर 350 के दोनों वर्जन में 17-इंच के फ्रंट और रियर व्हील मिलते हैं। हालांकि, रेट्रो वैरिएंट में स्पोक व्हील मिलते हैं जबकि मेट्रो में अलॉय व्हील मिलते हैं। टायर के साइज में भी बदलाव आया है, क्योंकि बजट-फ्रेंडली बाइक हंटर 350 रेट्रो में ट्यूब के साथ 110/80-17 और 120/80-17 टायर मिलते हैं। जबकि ज्यादा महंगी मेट्रो 110/70-17 फ्रंट और 140/ 70-17 रियर ट्यूबलेस टायर के साथ आती है। 
विज्ञापन
Royal Enfield Hunter 350
3 of 7
Retro और Metro का अंतर - ब्रेकिंग
दोनों वैरिएंट्स के बीच एक और महत्वपूर्ण अंतर ब्रेक है। किफायती रॉयल एनफील्ड हंटर 350 रेट्रो में सिंगल-चैनल एबीएस के साथ डिस्क ब्रेक अप और रियर में ड्रम ब्रेक मिलता है। मेट्रो वैरिएंट में डुअल-चैनल ABS के साथ आगे और पीछे डिस्क ब्रेक मिलते हैं। 
Royal Enfield Hunter 350
4 of 7
Retro और Metro का अंतर - फीचर्स
नई हंटर 350 रेट्रो और मेट्रो के बीच तीसरा महत्वपूर्ण अंतर स्पीडोमीटर है। रेट्रो वैरिएंट में एक छोटे डिजिटल रीडिंग के साथ एक बेसिक एनालॉग मीटर मिलता है, जबकि ज्यादा महंगे मेट्रो वर्जन में तुलनात्मक रूप से बड़े डिजिटल रीडिंग के साथ एक बड़ा एनालॉग मीटर मिलता है।

इंस्ट्रूमेंट कंसोल स्मार्टफोन कनेक्टिविटी की पेशकश नहीं करता है। जो हो सकता है कई ग्राहकों को आकर्षित न करे। हालांकि, रॉयल एनफील्ड अपने ट्रिपर नेविगेशन सिस्टम को एक एक्सेसरी के रूप में पेश करता है, जिसे हंटर 350 के किसी भी वैरिएंट में लगवाया जा सकता है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Royal Enfield Hunter 350
5 of 7
Retro और Metro का अंतर - लाइटिंग
लाइटिंग फिर से एक डील-ब्रेकर हो सकता है। रॉयल एनफील्ड हंटर 350 रेट्रो में आयताकार ब्लिंकर के साथ एक गोल टेललैंप और एक गोल हेडलाइट है, जो सभी हेलोजन है। नई हंटर 350 के मेट्रो वैरिएंट में टेल लैंप गोल है। साथ ही इसमें गोल एलईडी ब्लिंकर मिलता है, और गोल हैलोजन हेडलाइट को बरकरार रखता है। 
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00