लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Toyota: यूक्रेन युद्ध के बीच टोयोटा ने रूस में बंद किया काम, भविष्य में दोबारा शुरू करने की भी नहीं है योजना

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अमर शर्मा Updated Sat, 24 Sep 2022 02:18 PM IST
Toyota Car Plant
1 of 5
विज्ञापन
जापानी ऑटो दिग्गज Toyota Motor (टोयोटा मोटर) यूक्रेन के खिलाफ रूस के युद्ध के बीच रूस से बाहर निकलने वाली लेटेस्ट कार निर्माता है। कार निर्माता ने युद्ध के मद्देनजर रूस में अपने एकमात्र प्लांट को बंद करने के अपने फैसले की पुष्टि करते हुए शुक्रवार देर रात यह घोषणा की। समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने बताया कि टोयोटा ने रूस में वाहन उत्पादन को स्थायी रूप से बंद करने का फैसला किया है। खास बात यह है कि रूस से बाहर निकलने से पहले, टोयोटा के पास किसी भी अन्य जापानी ब्रांड की तुलना में देश में सबसे बड़ी बाजार हिस्सेदारी थी। 
Toyota Car Plant
2 of 5
टोयोटा ने 2007 में रूस में स्थानीय रूप से कारों का निर्माण शुरू किया था। उसने सेंट पीटर्सबर्ग में अपना प्लांट लगाया था जहां वह, इसे बंद करने के निर्णय से पहले, RAV4 (आरएवी 4) स्पोर्ट्स यूटिलिटी वाहन और कैमरी सेडान बनाती थी। पिछले साल, टोयोटा ने 80,000 वाहनों का निर्माण किया और रूस में 110,000 यूनिट्स बेचीं। 
विज्ञापन
Toyota Car Plant
3 of 5
रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के कारण टोयोटा अब निसान मोटर और होंडा मोटर जैसे अन्य जापानी कार निर्माताओं की सूची में शामिल हो गई है। टोयोटा ने अभी तक सेंट पीटर्सबर्ग प्लांट में काम करने वाले अपने कर्मचारियों के भविष्य के बारे में फैसला नहीं किया है। कार निर्माता ने यह भी पुष्टि की है कि उसकी अभी तक अपने व्यवसाय को बेचने की कोई योजना नहीं है। टोयोटा ने एक बयान जारी कर कहा, "छह महीने के बाद, हम सामान्य गतिविधियों को फिर से शुरू नहीं कर पाए हैं और ऐसा कोई संकेत नहीं देख पा रहे हैं कि हम भविष्य में फिर से शुरू कर सकते हैं।" 
Toyota Car Plant
4 of 5
टोयोटा ने आश्वासन दिया है कि वह रूस में अपने रिटेल नेटवर्क का समर्थन करना जारी रखेगी और अपने मौजूदा ग्राहकों को सर्विसिंग सुविधाएं भी प्रदान करेगी। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Toyota Car Plant
5 of 5
इस साल की शुरुआत में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन पर आक्रमण कर दिया था, जिसके बाद से रूस का ऑटो बाजार मंदी में है। इस साल मई से जून के बीच कारों की डिलीवरी में 80 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। फ्रांसीसी ऑटो दिग्गज Renault (रेनो) के बाहर निकलने के बाद कारोबार को संभालने वाले Avtovaz (अवतोवाज) ने हाल के महीनों में चीनी कंपनियों के साथ बिक्री में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई है। इसने पश्चिमी और जापानी ब्रांडों द्वारा रूसी बाजार को छोड़े जाने के बाद पैदा हुई मांग को पूरा किया है।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00