IPL 2022 Playoff Scenario: गुजरात के अलावा इन दो टीमों का प्लेऑफ में खेलना लगभग तय, चौथे स्थान के लिए पांच टीमों के बीच जंग

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, मुंबई Published by: स्वप्निल शशांक Updated Tue, 17 May 2022 11:45 AM IST
आईपीएल प्लेऑफ के लिए इनकी दावेदारी मजबूत। दिल्ली या बैंगलोर में से कोई एक चौथी टीम बन सकती है।
1 of 4
विज्ञापन
आईपीएल 2022  में लीग स्टेज के 90 फीसद मैच खेले जा चुके हैं। अभी तक गुजरात टाइटंस की टीम ही प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर सकी है। गुजरात की टीम के 20 अंक हैं और टीम ने शीर्ष दो में अपनी जगह पक्की कर ली है।

फिलहाल प्लेऑफ के लिए बाकी बचे तीन स्थानों के लिए सात टीमों के बीच जंग है और अभी भी ग्रुप स्टेज में छह मुकाबले खेले जाने हैं। गुजरात के बाद राजस्थान रॉयल्स और लखनऊ सुपर जाएंट्स का प्लेऑफ में पहुंचना लगभग तय माना जा रहा है। राजस्थान की टीम फिलहाल अंक तालिका में दूसरे और लखनऊ की टीम तीसरे स्थान पर है।

यह दोनों टीमें तभी प्लेऑफ की रेस से बाहर हो सकती हैं, अगर इन्हें इनके आखिरी लीग स्टेज के मुकाबले में 80 या इससे ज्यादा रन से हार मिले, जो कि मुश्किल है। वहीं, बाकी टीमें इतने ही अंतर से जीत हासिल करें। आइए जानते हैं प्लेऑफ का पूरा समीकरण और कौन सी टीम को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए क्या करना होगा...

पहले जानें प्वांट्स टेबल का मौजूदा हाल
टीम मैच जीते हारे अंक नेट
रन रेट
गुजरात (Q) 13 10 3 20 0.391
राजस्थान 13 8 5 16 0.304
लखनऊ 13 8 5 16 0.262
दिल्ली 13 7 6 14 0.255
बैंगलोर 13 7 6 14 -0.323
कोलकाता 13 6 7 12 0.160
पंजाब 13 6 7 12 -0.043
हैदराबाद 12 5 7 10 -0.270
चेन्नई 13 4 9 8 -0.206
मुंबई 12 3 9 6 -0.613

राजस्थान और लखनऊ की दावेदारी मजबूत

लखनऊ के कप्तान केएल राहुल और राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन
2 of 4
  • राजस्थान रॉयल्स
बाकी बचे मैच: राजस्थान बनाम चेन्नई (ब्रेबोर्न स्टेडियम, 20 मई)
  • लखनऊ सुपर जाएंट्स 
बाकी बचे मैच: लखनऊ बनाम कोलकाता (डीवाई पाटिल स्टेडियम, 18 मई)

लखनऊ के खिलाप 15 मई को राजस्थान की जीत ने उन्हें अंक तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया। इससे यह तो लगभग तय हो ही गया है कि राजस्थान की टीम अंतिम चार में जगह बना रही है। उन्हें बस मुंबई के खिलाफ अपने आखिरी मुकाबले में बड़ी हार से बचना है। तब भी वह बाहर अंक के आधार पर नहीं बल्कि नेट रन रेट के आधार पर होंगे।

वहीं, पिछले हफ्ते अंक तालिका में शीर्ष पर मौजूद लखनऊ फिलहाल तीसरे स्थान पर है। उन्हें लगातार दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। प्लेऑफ की रेस में बने रहने के लिए राजस्थान की तरह उन्हें भी कोलकाता के खिलाफ अपने आखिरी मैच में बड़ी हार से बचना है।

दोनों टीमों का प्लेऑफ से एकसाथ बाहर होना मुश्किल है, लेकिन क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेल माना जाता है। अगर राजस्थान और लखनऊ अपना-अपना आखिरी ग्रुप स्टेज मुकाबला हार जाती हैं, वहीं, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम गुजरात टाइटंस और दिल्ली की टीम मुंबई को बड़े अंतर से हरा देती है, तो फिर नेट रन रेट पर फैसला होगा, क्योंकि राजस्थान, लखनऊ, बैंगलोर और दिल्ली की टीमों के तब 16-16 अंक होंगे और बेहतर नेट रन रेट वाली टीम प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई करेगी। 



ये हालांकि मुश्किल है, क्योंकि बैंगलोर का नेट रन रेट फिलहाल माइनस 0.323 (-0.323) है और उन्हें टेबल टॉपर गुजरात को कम से कम 75 रन से हराना होगा। साथ ही लखनऊ को कोलकाता के खिलाफ 75 प्लस रन से और राजस्थान को 80 प्लस रन से अपना आखिरी मुकाबला हारना होगा।

लखनऊ और राजस्थान के पास शीर्ष दो में जगह बनाने का मौका है। ये उनके आखिरी मैच पर निर्भर करेगा। लखनऊ को अपना आखिरी मुकाबला बुधवार को और राजस्थान को शुक्रवार को खेलना है। बाद में खेलने वाली टीम को हर तरह के समीकरण का पूरा फायदा मिलेगा।
विज्ञापन

चौथे स्थान के लिए ये दोनों टीमें प्रबल दावेदार

दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत और बैंगलोर के कप्तान फाफ डुप्लेसिस
3 of 4
  • दिल्ली कैपिटल्स
बाकी बचे मैच: दिल्ली बनाम मुंबई (वानखेड़े स्टेडियम, 21 मई)
  • रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर
बाकी बचे मैच: बैंगलोर बनाम गुजरात (वानखेड़े स्टेडियम, 19 मई)

राजस्थान और पंजाब के खिलाफ पिछले दो मैचों में बड़ी जीत ने दिल्ली की उम्मीदों को जिंदा रखा है और टीम ने प्लेऑफ के लिए अपनी दावेदारी मजबूत कर ली है। फिलहाल 14 या इससे कम अंक वाली टीमों में सबसे बेहतर नेट रन रेट दिल्ली का ही है। उसका नेट रन रेट +0.255 है। दिल्ली की टीम को सिर्फ मुंबई के खिलाफ जीत करने की देरी है। जीत मिलने पर टीम प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर जाएगी।


आरसीबी की टीम

अगर राजस्थान और लखनऊ की टीम अपने-अपने आखिरी मैच में हार जाती है और दिल्ली मुंबई के खिलाफ जीतती है तो दिल्ली के पास टॉप-दो में फिनिश करने का मौका भी होगा। दिल्ली की टीम अगर मुंबई के खिलाफ हार भी जाती है तो उसके पास प्लेऑफ में पहुंचना का मौका होगा। ऐसे में उन्हें मनाना होगा कि गुजरात की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को हरा दे। ऐसे में आरसीबी, डीसी दोनों के 14-14 अंक होंगे और बेहतर नेट रन रेट वाली टीम प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई करेगी। 

वहीं, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की बात करें तो पंजाब के खिलाफ पिछले मैच में 54 रन की हार ने टीम का समीकरण बिगाड़ कर रख दिया। आखिरी मैच में सिर्फ जीत से बैंगलोर की नैया पार नहीं लग सकती। प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई करने के लिए आरसीबी की टीम को उम्मीद करनी होगी कि दिल्ली अपना आखिरी मैच हार जाए और आरसीबी गुजरात के खिलाफ जीत हासिल करे। ऐसे में बैंगलोर के 16 अंक हो जाएंगे, वहीं बाकी टीमों के 14-14 अंक ही हो पाएंगे। अगर दिल्ली की टीम जीतती है तो बैंगलोर वैसी ही प्लेऑफ से बाहर हो जाएगी।


दिल्ली की टीम

आरसीबी को अपना नेट रन रेट 0.000 करने के लिए गुजरात को कम से कम 80 रन से हराना होगा या 10 ओवर रहते जीत हासिल करनी होगी। दिल्ली और बैंगलोर दोनों के हारने पर नेट रन रेट का रोल अहम होगा। ऐसे में कोलकाता, हैदराबाद और पंजाब (आखिरी मुकाबला जीतने पर) भी रेस में आ जाएंगे। 

ये टीमें भी हैं प्लेऑफ की रेस में

बाएं से- केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर, पंजाब के कप्तान मयंक अग्रवाल और हैदराबाद के कप्तान केन विलियम्सन
4 of 4
  • पंजाब किंग्स
बाकी बचे मैच: पंजाब बनाम हैदराबाद (वानखेड़े स्टेडियम, 22 मई)
  • कोलकाता नाइट राइडर्स
बाकी बचे मैच: कोलकाता बनाम लखनऊ (डीवाई पाटिल स्टेडियम, 18 मई)
  • सनराइजर्स हैदराबाद
बाकी बचे मैच: हैदराबाद बनाम मुंबई  (वानखेड़े स्टेडियम, 17 मई) और हैदराबाद बनाम पंजाब (वानखेड़े स्टेडियम, 22 मई)

कोलकाता और हैदराबाद की टीम अब ज्यादा से ज्यादा 14 अंक ही हासिल कर सकती है। ऐसे में टीम का भविष्य दूसरी टीमों पर निर्भर है। पंजाब की टीम के सोमवार से पहले मौका था कि दिल्ली को हराकर अपनी दावेदारी मजबूत कर ले, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और हार ने टीम के प्लेऑफ का रास्ता और मुश्किल कर दिया है।

बैंगलोर अगर  गुजरात या दिल्ली अगर मुंबई को हराने में कामयाब रही, तो कोलकाता, पंजाब और हैदराबाद प्लेऑफ की रेस से अपने आप बाहर हो जाएंगे। इन टीमों के प्लेऑफ में पहुंचने की सबसे बड़ी उम्मीद यही है कि दिल्ली और बैंगलोर की टीम अपने-अपने आखिरी मैच हार जाए और नेट रन रेट से चौथी टीम का फैसला हो। हैदराबाद को अपना आखिरी मुकाबला पंजाब के खिलाफ खेलना है। ऐसे में दोनों में से कोई एक टीम ही 14 अंक हासिल कर पाएगी।


पंजाब की टीम

ऐसा होने पर दिल्ली, बैंगलोर, कोलकाता, हैदराबाद और पंजाब में से बेहतर नेट रन रेट वाली टीम प्लेऑफ में जगह बनाने में कामयाब हो पाएगी। केकेआर, एसआरएच और पीबीकेएस में से सिर्फ केकेआर का ही नेट रन रेट प्लस में है। दिल्ली और कोलकाता के 14 अंक पर रहने की स्थिति में केकेआर को नेट रन रेट के मामले में डीसी को पीछे छोड़ना होगा।

यह तभी संभव है अगर दिल्ली अपना आखिरी मुकबाल 12 रन से हार जाए और कोलकाता अपना आखिरी मुकाबला लखनऊ के खिलाफ इतने ही अंतर से जीते। दिल्ली की टीम अपना आखिरी मुकाबला शनिवार को खेलेगी। वहीं, आरसीबी को गुरुवार और केकेआर को बुधवार को खेलना है। बुधवार और गुरुवार को ही तस्वीर पूरी तरह साफ हो जाएगी कि कौन सी टीम प्लेऑफ में जा रही है और कौन सी नहीं। 


कोलकाता की टीम
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00