health tips
सेहत की बात

टाइप-2 डायबिटीज में ऐसे आहार का सेवन हो सकता है लाभदायक

2 दिसंबर 2021

Play
2:54
यूरोपीयन एसोसिएशन फॉर द स्टडी ऑफ डायबिटीज द्वारा प्रकाशित एक नए अध्ययन से पता चला है कि, लो एनर्जी डाइट का पालन करके न सिर्फ वजन को कम करने में सफलता मिल सकती है, साथ ही यह डायबिटीज के जोखिम को भी कम करने में सहायक मानी जाती है...
... Read More

टाइप-2 डायबिटीज में ऐसे आहार का सेवन हो सकता है लाभदायक

1.0x
  • 1.5x
  • 1.25x
  • 1.0x
10
10
X

सभी 177 एपिसोड

मूंगफली ऐसा ही एक खाद्य पदार्थ है, जिसका सर्दियों के मौसम में सेवन करना सेहत के लिए विशेष लाभदायक हो सकता है। इसमें फाइबर की भी अच्छी मात्रा मौजूद होती है, ऐसे में इसका सेवन करना पेट के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। यह भूख को नियंत्रित करता है और आपको लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस करा सकता है
 

शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए सभी लोगों को रोजाना रात में 7-9 घंटे की नींद जरूर पूरी करनी चाहिए। नींद, शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए आवश्यक होती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक बेहतर नींद प्राप्त करने के लिए आपको अपना आहार स्वस्थ रखना चाहिए...
 

ब्लर विजन या धुंधली दृष्टि की स्थिति में चीजों पर फोकस करने या उन्हें साफ तरीके से देखने में समस्या होने लगती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक कुछ स्थितियों के साथ-साथ आंखों से संबंधित कई बीमारियों के कारण इस तरह की दिक्कत हो सकती है, जिसका समय पर निदान और इलाज आवश्यक है
 

एलोवेरा जूस में कई ऐसे पोषक तत्व और विटामिन्स पाए जाते हैं, जिनसे सेहत को विशेष लाभ मिल सकता है। इसमें बीटा-कैरोटीन भी पाया जाता है जो एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करता है और रेटिना-कॉर्नियल फ़ंक्शन सहित आंखों के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हो सकता है। 
 

खाली पेट गर्म पानी में शहद मिलाकर पीना सेहत के लिहाजे से काफी लाभदायक होता है। शहद में कई प्रकार के खनिज, विटामिन, फ्लेवोनोइड्स और एंजाइम होते हैं जो आपकी आंत को साफ रखने में सहायक है।
 

हेल्दी रहने के लिए हर उम्र में पौष्टिक आहार का सेवन करना जरुरी होता है। खास कर युवा वर्ग और 30 साल से अधिक उम्र की महिलाओं और पुरुषों को अपनी सेहत के प्रति अधिक जागरुक रहना चाहिए। ऐसा करने से आप तमाम तरह की बीमारियों से दूर रहेंगे और जब उम्र अधिक होगी, तब भी आप स्वस्थ और सक्रिय रहेंगे

हाई बीपी, लो बीपी और कोलेस्ट्रॉल के बढ़ते स्तर को तो हम आसानी से ह्रदय रोग के खतरे से जोड़ लेते हैं। लेकिन इनके अलावा डायबिटीज और इंफेक्शन के साथ ही दांतों की समस्या, स्ट्रेस, फेफड़ों और लिवर से जुड़ी समस्याएं भी दिल को नुकसान पहुंचाने का कारण बन सकती हैं।

बैली फैट न सिर्फ शरीर की बनावट को खराब कर देती है, साथ ही स्वास्थ्य के लिए भी इसे गंभीर समस्या के रूप में भी देखा जाता है। अध्ययनों से पता चलता है कि यह टाइप 2 डायबिटीज और हृदय रोग जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है
 

आयरन की कमी के कारण शरीर में स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है, जो हीमोग्लोबिन की कमी का कारण बन सकता है। हीमोग्लोबिन की कमी की स्थिति में शरीर में कमजोरी के साथ कई अन्य तरह की गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं

हाल के कुछ वर्षों में अल्जाइमर और डिमेंशिया जैसे तमाम तरह की मानसिक स्वास्थ्य की समस्याएं बढ़ती जा रही हैं जीवनशैली और आहार में गड़बड़ी के कारण तमाम तरह की मानसिक स्वास्थ्य की समस्याएं बढ़ती जा रही है, जिसको लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञ लोगों को विशेष सावधान रहने की सलाह दी जाती है

आवाज

  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00