लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Investigation completed, terrorist Khanpuria sent to jail

Mohali: आतंकी खानपुरिया को स्पेशल कोर्ट ने भेजा जेल, एनआईए ने कहा-हैंड ग्रेनेड मामले में पूरी हुई जांच

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मोहाली Published by: मोहाली ब्‍यूरो Updated Sat, 03 Dec 2022 09:00 AM IST
सार

कुलविंदरजीत खानपुरिया बीकेआई और केएलएफ जैसे आतंकवादी संगठनों से जुड़ा हुआ है। वह 2019 से फरार था। उस पर आरोप है कि पंजाब में आतंकी वारदातों को अंजाम देकर माहौल बिगाड़ने की साजिश में शामिल था।

आतंकी कुलविंदरजीत खानपुरिया अदालत में पेश
आतंकी कुलविंदरजीत खानपुरिया अदालत में पेश - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी।
विज्ञापन

विस्तार

एनआईए की ओर से 18 नवंबर को दिल्ली एयरपोर्ट से पकड़े कुख्यात आतंकी कुलविंदरजीत खानपुरिया को जून 2019 में दर्ज हुए मामले में तीन दिन का रिमांड खत्म होने के बाद शुक्रवार को विशेष अदालत में पेश किया गया। अदालत में पेशी के दौरान एनआईए के वकील ने कहा कि जांच पूरी हो गई है। रिमांड की जरूरत नहीं है इसलिए जज ने उसे जेल भेजने के आदेश दिए।


अमृतसर के राजासांसी थाने क्षेत्र में आरोपी खानपुरिया के खिलाफ जून 2019 में मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मामले में पुलिस को एक बैग से दो हैंड ग्रेनेड और एक मोबाइल बरामद हुआ था। पुलिस ने राजासांसी थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। बाद में पड़ताल के दौरान कई आरोपी इसमें नामजद किए गए थे। उस केस के सभी आरोपियों पर चार्ज फ्रेम हो चुके हैं और गवाहियां चल रही हैं। 2020 में इसी मामले को लेकर एनआईए ने भी एक मुकदमा दर्ज किया था। जांच में खानपुरिया का नाम सामने आने पर उसे नामजद कर दिया था। मामले में गिरफ्तारी न होने के कारण उसे भगोड़ा घोषित किया था। मंगलवार को एनआईए ने इस मामले गिरफ्तार करके तीन दिन का रिमांड हासिल किया था।


निशाने पर थे डेरा सच्चा सौदा से जुड़े स्थान, पुलिस अधिकारी
कुलविंदरजीत खानपुरिया बीकेआई और केएलएफ जैसे आतंकवादी संगठनों से जुड़ा हुआ है। वह 2019 से फरार था। उस पर आरोप है कि पंजाब में आतंकी वारदातों को अंजाम देकर माहौल बिगाड़ने की साजिश में शामिल था। पंजाब में पुलिस और सुरक्षा से जुड़े लोगों के साथ-साथ डेरा सच्चा सौदा से जुड़े धार्मिक स्थानों को निशाना बनाकर भारत में आतंकवादी हमले करने की साजिश के पीछे मुख्य साजिशकर्ता है। उस पर स्पेशल ऑपरेशन सेल ने 30 मई 2019 को अमृतसर में मामला दर्ज किया था। इसके बाद एनआईए 27 जून 2019 को दिल्ली में केस दर्ज किया था।

लुक आउट सर्कुलर और रेड कार्नर नोटिस हो रखे थे जारी
खानपुरिया को एनआईए की विशेष अदालत ने भगोड़ा घोषित किया था। इसके बाद एक लुक आउट सर्कुलर (एलओसीयू) और इंटरपोल द्वारा रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। हालांकि उसके चार साथियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00