जेईई एड्वांस में छाए हिमाचल प्रदेश के होनहार, इन्होंने पास की परीक्षा

संवाद न्यूज एजेंसी, पांवटा साहिब (सिरमौर)/ हमीरपुर/चंबा Published by: Krishan Singh Updated Fri, 15 Oct 2021 10:07 PM IST

सार

हिमाचल प्रदेश के होनहारों ने भी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (जेईई एड्वांस)-2021  उत्तीर्ण कर शिक्षकों व माता-पिता का नाम रोशन किया है। पांवटा के छात्र आकर्षित वर्मा, हमीरपुर के ध्रुव चंदेल, ओजस गुप्ता व चंबा के समर्थ शर्मा ने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा पास की है। 
हिमाचल के होनहारों ने पास की जेईई एड्वांस परीक्षा
हिमाचल के होनहारों ने पास की जेईई एड्वांस परीक्षा - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के पांवटा साहिब के होनहार छात्र आकर्षित वर्मा ने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (जेईई एड्वांस)-2021 उत्तीर्ण कर ली है। उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 12625 हासिल किया है। गुरु नानक मिशन स्कूल से 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण कर चुके आकर्षित वर्मा की इस सफलता से परिजनों और दोस्तों में खुशी का माहौल है। उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। पांवटा के बद्रीपुर आदर्श कॉलोनी निवासी शिक्षक राकेश कुमार और मोहिनी वर्मा ने बताया कि उनका बेटा बचपन से ही मेधावी है।
विज्ञापन


वर्ष 2020 में पांवटा के गुरु नानक मिशन पब्लिक स्कूल से नॉन मेडिकल में 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की। इसके बाद कोविड महामारी के बीच चंडीगढ़ से ऑनलाइन कोचिंग हासिल की। आकर्षित वर्मा ने बताया कि वह रोज छह घंटे पढ़ाई करते थे। लॉकडाउन के दौरान भी घर पर ही ऑनलाइन पढ़ाई की। उन्होंने अपने सफलता के लिए अपने परिजनों, शिक्षकों और मार्गदर्शन करने वालों को अपनी सफलता का श्रेय दिया है। गुरु नानक मिशन स्कूल पांवटा के निर्देशक बीएस सैनी और प्रधानाचार्या देविंद्र साहनी ने आकर्षित वर्मा को बधाई दी है।


चिकित्सक और कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहता है ध्रुव 
 जिला हमीरपुर के ध्रुव चंदेल ने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा(जेईई एडवांस) में 15924वां रैंक हासिल किया है। ध्रुव ने डीएवी हमीरपुर से अपनी मेडिकल संकाय में बारहवीं कक्षा की पढ़ाई की है। उसने नीट की परीक्षा भी दी है। ध्रुव का कहना है कि नीट परीक्षा में भी काफी मेहनत की है। उम्मीद है कि मेडिकल कॉलेज में दाखिला मिल जाएगा। वहीं जेईई मेन में ध्रुव ने 98.31 परसेंटाइल प्राप्त किए थे। अब जेईई एडवांस में 15924वां रैंक हासिल किया है।

ध्रुव का कहना है कि अगर मेडिकल कॉलेज में किसी कारणवश दाखिला नहीं मिला तो वह कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहेंगे। ध्रुव के पिता राजेश चंदेल राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला झिरालडी में कैमिस्ट्री विषय के लेक्चरर हैं, जबकि माता शिक्षा उपनिदेशक कार्यालय हमीरपुर में सेवारत हैं। ध्रुव चंदेल की इस उपलब्धि पर डॉ. नवनीत शर्मा और माता-पिता ने शुभकामनाएं दी हैं। वहीं सुपर मैगनेट सीनियर सेकेंडरी स्कूल हमीरपुर के ओजस गुप्ता ने जेईई एडवांस में 15924वां रैंक हासिल किया है। चंबा के समर्थ शर्मा ने भी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा पास की है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00