विज्ञापन
Hindi News ›   Technology ›   Tech Diary ›   Russian Telecom Operator MTS Says Stop Sending Memes and virul videos Pleads as Networks Overload

'Coronavirus पर मीम्स और वीडियो शेयर करना बंद करें, जाम हो रहा मोबाइल नेटवर्क'

टेक डेस्क, अमर उजाला Published by: प्रदीप पाण्डेय Updated Sun, 29 Mar 2020 03:53 PM IST
coronavirus mems
coronavirus mems - फोटो : social media
ख़बर सुनें

कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया परेशान है। डॉक्टर्स और मरीज की हालत तो नाजुक है ही, घर से काम करने वाले लोग भी इंटरनेट की समस्या से परेशान हैं। अभी तक स्लो इंटरनेट की समस्या लॉकडाउन में लोगों के गेम खेलने और वीडियो देखने से हो रही थी लेकिन अब कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर मीम्स और जोक्स भी परेशानी की सबब बन चुके हैं।



रूस की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी एमटीएस ने लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस को लेकर वीडियो, मीम्स और फोटो सोशल मीडिया पर शेयर करना बंद करें, क्योंकि इससे नेटवर्क पर काफी दबाव पड़ रहा है और नेटवर्क सेवाएं बाधित हो रही हैं।


एमटीएस के अध्यक्ष अलेक्सेई कोर्नाया ने कहा है कि मीम्स बनाना और शेयर करना अच्छी बात है लेकिन संकट की इस घड़ी में नेटवर्क और इंटरनेट का ख्याल रखना भी एक जिम्मेदार नागरिक की जिम्मेदारी है। अलेक्सेई के इस बयान को कंपनी की वेबसाइट पर पढ़ा जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः Work Frome Home: अगर कर रहे हैं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान


अलेक्सेई का कहना है वे लोगों को ऑनलाइन फिल्म और वीडियो देखने के लिए मना नहीं कर रहे हैं लेकिन मीम्स और हेवी वीडियो शेयर होने के कारण नेटवर्क पर काफी लोड पड़ रहा है। ऐसे में लोगों को इसमें कमी करनी चाहिए।


बता दें कि रूस में MTS के 80 मिलियन यानी 8 करोड़ ग्राहक हैं। कोरोना वायरस के कारण हजारों लोग घर से काम कर रहे हैं लेकिन सोशल मीडिया पर जोक्स, मीम्स और वायरस वीडियोज शेयर करने के कारण नेटवर्क जाम हो रहा है। बता दें कि रूस में अनिवार्य रूप से लॉकडाउन की घोषणा नहीं हुई है।

ताबिक साल 2014 में इबोला वायरस के फैलने के बाद पहली बार पीपीई का इस्तेमाल हुआ था। देश के कई अस्पतालों में पीपीई उपलब्ध नहीं हैं। हाल ही में बिहार के एक सरकारी अस्पताल से एक फोटो सामने आई थी जिसमें डॉक्टर्स और नर्स को पीपीई की जगह प्लास्टिक पहने हुए देखा जा सकता था। ऐसे में सरकारी की जिम्मेदारी है कि अस्पतालों में कोरोना के मरीजों का ध्यान रख रहे स्वास्थ्यकर्मियों को पीपीई और मास्क जैसे जरूरी सामान उपलब्ध कराए जाएं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest mobile reviews apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00