लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Agra ›   staff locked the patient in the bathroom in Private hospital Agra

मरीज को बाथरूम में किया बंद: छापे की सूचना पर अस्पताल स्टाफ ने की करतूत, बाहर से लगा दिया ताला

अमर उजाला ब्यूरो, आगरा Published by: मुकेश कुमार Updated Fri, 07 Oct 2022 12:18 AM IST
सार

स्वास्थ्य विभाग के छापे से पहले मलपुरा स्थित रघुवंशी हॉस्पिटल के स्टाफ ने एक महिला मरीज और उसके दो तीमारदार को बाथरूम में बंद कर दिया। बाहर से ताला लगा दिया।

बाथरूम में बंद मिली महिला मरीज
बाथरूम में बंद मिली महिला मरीज - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आगरा के आर. मधुराज हॉस्पिटल में आग की घटना के बाद गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कई अस्पतालों पर छापा मारा। इस दौरान एक चौंकाने वाला मामला सामने आया। एक अस्पताल में स्टाफ ने महिला मरीज और उसके तीमारदार को बाथरूम में बंद कर दिया। बाहर से ताला लगा दिया। अफसरों ने जब ताला तुड़वाया तो हैरान रह गए। 



मलपुरा स्थित रघुवंशी हॉस्पिटल के संचालकों को स्वास्थ्य विभाग की ओर से छापा मारने की सूचना पहले मिल गई थी। टीम वहां पहुंची तो अंदर से मुख्य द्वार बंद था। अस्पताल का बोर्ड भी बाहर नहीं लगा था। देर तक खटखटाने पर एक महिला ने दरवाजा खोला। टीम ने अंदर पहुंचकर देखा तो बेड पड़े थे, मेडिकल उपकरणों को थैले में पैक किया गया था। 

द्वितीय तल पर बना था बाथरूम 

द्वितीय तल पर एक कमरा (बाथरूम) था, टीम पहुंची तो उसके दरवाजे पर ताला लगा था। ताला तुड़वाया तो उसमें एक महिला मरीज व दो तीमारदार बंद थे। मरीज ने बताया कि उसे मंगलवार को प्रसव पीड़ा पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार को उसका ऑपरेशन किया गया। नवजात की मौत हो गई थी। मरीज को डिस्चार्ज नहीं किया गया था। 

मरीज ने बताया कि उन्हें तीमारदारों के साथ टीम के पहुंचने के आधे घंटे पहले बाथरूम में बंद कर दिया गया था। मरीज की हालत खराब थी, टीम ने उसे तत्काल लेडी लॉयल महिला जिला चिकित्सालय भेजवाया। टीम अस्पताल के एक महिला व एक पुरुष अस्पताल को अपने साथ थाने ले गई। उनके खिलाफ मरीज को बंधक बनाने की तहरीर दी।

Hospital Fire: बेसमेंट में चल रहा था 10 बेड का पंजीकृत अस्पताल, एडीए से नक्शा पास, नगर निगम ले रहा था शुल्क

डिप्टी सीएमओ डॉ. पीयूष जैन ने बताया कि अस्पताल रघुवंशी हॉस्पिटल के नाम से संचालित था। उसका बोर्ड हटा दिया गया था। अस्पताल के संचालक अजय रघुवंशी, स्टाफ पूनम सहित चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00