विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

अलीगढ़ः पेट्रोल को न... अब इलेक्ट्रिक वाहन है न

दीपक शर्मा
दिन-प्रतिदिन बढ़ रही पेट्रोल की कीमतें और इससे प्रभावित हो रहे दोपहिया वाहन चालकों ने अब इलेक्ट्रिक वाहनों की ओर रुख करना शुरू कर दिया है। एक अनुमान के मुताबिक, शहर में पिछले दो-तीन सालों में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री प्रति माह चार-पांच थी। वर्तमान में यह आंकड़ा 60 से 70 वाहन प्रति माह पहुंच चुका है। इसकी वजह इलेक्ट्रिक वाहन चलाने का खर्च 10 पैसे प्रति किलोमीटर है। रखरखाव भी न के बराबर है, जबकि पेट्रोल वाहन चलाने में जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ती है।
शहर में कुछ नामी कंपनियां इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन उपलब्ध करा रही हैं। त्योहारी सीजन में ग्राहकों को लुभाने के लिए आकर्षक ऑफर भी दिए जा रहे हैं। इसके अलावा, इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों को कुछ ई-कॉमर्स कंपनी भी उपलब्ध करा रही हैं। इन वाहनों का इस्तेमाल करने वाले लोगों का कहना है कि लंबी दूरी में न सही लेकिन दिन प्रतिदिन की आवश्यकताओं को पूरा करने में ये दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहन पूरी तरह सक्षम हैं। शहर में इलेक्ट्रिक वाहनों को चलाने में कम लागत आती है, जबकि रखरखाव भी न के बराबर है।
एसी लाजवाब, इंटीरियर-केबिन भी आरामदायक
अलीगढ़। नगर निगम में डेढ़ वर्ष पहले आठ इलेक्ट्रिक कारें खरीदी गई थीं। इन कारों को चलाने वाले ड्राइवर सोमबीर शर्मा कहते हैं कि इलेक्ट्रिक कार चलाने का उनका अनुभव बहुत शानदार रहा है। सबसे बड़ी बात इन कारों का रखरखाव बहुत कम है और चलाने का खर्चा भी बहुत ही कम है। एसी पेट्रोल या डीजल की कार के मुकाबले बहुत ही उच्च क्षमता के साथ काम करता है, क्योंकि इलेक्ट्रिक कार में लगा एयर कंडीशनर फ्रिज में लगे कंप्रेशर की तकनीक पर कार्य करता है। सिंगल चार्जिंग में इलेक्ट्रिक कार 100 किलोमीटर तक चलती है। नगर निगम में बने चार्जिंग प्वाइंट पर 24 मिनट में फुल चार्ज हो जाती है। कार के साथ एक चार्जर और मिलता है, जिसको घरेलू बिजली से 6 घंटे में चार्ज किया जा सकता है। इन कारों में शोर बिल्कुल नहीं होता है। अंदर का इंटीरियर और केबिन आरामदायक है।
बदल रही दोपहिया वाहन चालकों की सोच
2018 में जब हमने इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों का काम शुरू किया, तब लोग जिज्ञासा से देखने आते थे। खरीदार कम थे। लेकिन अब लोग यहां पर इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन खरीदने ही आते हैं। पेट्रोल की आसमान छूती कीमतों ने लोगों की सोच में बदलाव किया है। लोगों में इलेक्ट्रिक वाहनों की सर्विस को लेकर हिचकिचाहट रहती है। लेकिन कंपनी से लेकर और डीलर तक के स्तर पर इनकी सर्विसिंग ऑन रोड उपलब्ध कराई जा रही है। इलेक्ट्रिक वाहन चलाने का खर्च 10 पैसे प्रति किलोमीटर है।
- पुष्पेंद्र सिंह, हैरी मोटर्स
- इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन में मुख्य पार्ट्स की मोटर और बैटरी है। बैटरी की नियमित अंतराल पर सर्विस की आवश्यकता होती है, जिस तरह पेट्रोल की कीमत बढ़ रही हैं, उसको देखते हुए आने वाला समय इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों का है, क्योंकि शहरी यातायात परिस्थितियों में यह बहुत अनुकूल है। इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन की कीमत, क्षमता और रफ्तार के हिसाब से अलग-अलग है। कीमत बहुत ज्यादा नहीं है लेकिन चलाने का खर्च न के बराबर है।
- विशाल अग्रवाल, हीरो इलेक्ट्रिक
... और पढ़ें

अलीगढ़ः रोडवेज के चालक व परिचालकों को नहीं मिला पीएम की रैली का मानदेय

14 सितंबर को राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास और डिफेंस कॉरिडोर की प्रगति समीक्षा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में लगी रोडवेज बसों के संविदा चालक-परिचालकों को अभी तक भुगतान नहीं हुआ है। रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद के मंडल अध्यक्ष मुनेंद्र पाल सिंह ने कहा कि आश्वासन के बाद भी अभी तक भुगतान नहीं हुआ है।
परिवहन निगम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में 24 घंटे के लिए 24 हजार रुपये प्रति बस की दर से 400 रोडवेज बसों को लगाया था। इनमें अधिकांश बसें 24 घंटे चलीं। जबकि कुछ बस पुलिस प्रशासन को चार दिनों के लिए दी गईं। इन बसों के चालक-परिचालकों को अभी तक मानदेय का भुगतान नहीं हुआ है। बताया जा रहा है कि संविदा कर्मचारियों को किलोमीटर के हिसाब से भुगतान किया जाता है। कई बसें कम चलीं, लेकिन 24 घंटे तक कर्मचारियों की ड्यूटी रही। मंडल अध्यक्ष मुनेंद्र पाल सिंह ने कहा कि परिवहन निगम द्वारा भुगतान न किया जाना शर्मनाक है। जब सरकार प्रति बस का भुगतान 24 हजार रुपये कर रही है तो कर्मचारियों को भुगतान क्यों नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर जल्द भुगतान नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा।
... और पढ़ें

करवा चौथ : रविवार शाम साढ़े आठ बजे होगा चंद्रोदय

पति की दीर्घायु की कामना के लिए सुहागिनों द्वारा निर्जला व्रत रखा जाने वाला करवा चौथ का त्योहार इस बार रविवार को पड़ रहा है। शाम को साढ़े आठ बजे चंद्रमा दिखाई देगा। करवा चौथ की पूजा के लिए शाम 5.45 बजे से 7.02 बजे तक शुभ मुहूर्त है, जबकि साढ़े आठ बजे से साढ़े नौ बजे तक चंद्रमा को अर्घ्य देने का समय रहेगा।
श्री गुरु ज्योतिष शोध संस्थान के अध्यक्ष पं. हृदय रंजन शर्मा ने बताया कि करवा चौथ के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान करने के बाद शृंगार कर लें। करवा की पूजा-आराधना कर उसके साथ शिव-पार्वती की पूजा का विधान है, क्योंकि माता पार्वती ने कठिन तपस्या करके शिवजी को प्राप्त कर अखंड सौभाग्य प्राप्त किया था। करवा चौथ के दिन चंद्रमा की पूजा का धार्मिक और ज्योतिष दोनों ही दृष्टि से महत्व है। व्रत के दिन निर्जला रहें यानि जलपान भी न करें।
शाम के समय मां पार्वती की प्रतिमा की गोद में श्रीगणेश को विराजमान कर उन्हें बालू अथवा सफेद मिट्टी की वेदी अथवा लकड़ी के आसन पर शिव-पार्वती, कार्तिकेय, गणेश एवं चंद्रमा की स्थापना करें। मूर्ति के अभाव में सुपारी पर कलावा बांधकर भाव पूर्वक स्थापित करें। इसके बाद मां पार्वती का सुहाग सामग्री आदि से शृंगार करें। भगवान शिव और मां पार्वती की आराधना कर कोरे करवा में पानी भरकर पूजा करें। एक लोटा, एक वस्त्र व एक विशेष करवा दक्षिणा के रूप में अर्पित करें। सौभाग्यवती स्त्रियां व्रत की कथा का श्रवण करें। चंद्रमा को अर्घ्य देकर अपने पति के हाथ से जल एवं मिष्ठान खाकर व्रत खोलें।
करवा चौथ पर्व की पूजन सामग्री
- कुमकुम, शहद, अगरबत्ती, पुष्प, कच्चा दूध, शक्कर, शुद्ध घी, दही, मेहंदी, मिठाई, गंगाजल, चंदन, चावल, सिंदूर, महावर, कंघा, बिंदी, चुनरी, चूड़ी, बिछुआ, मिट्टी का करवा व ढक्कन, दीपक, रुई, कपूर, गेहूं, बूरा, हल्दी, पानी का लोटा, गौर बनाने के लिए पीली मिट्टी, लकड़ी का आसन, छलनी, आठ पूरियों की अठावरी, हलुआ, दक्षिणा के लिए पैसे।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः जहरीली शराब कांड में भाजपा नेता के खिलाफ आरोप तय

जहरीली शराब कांड में न्यायालय में लगातार मुकदमे ट्रायल की ओर बढ़ रहे हैं। कुछ मुकदमों में ट्रायल जारी भी हैं। इसी क्रम में अब एडीजे विशेष न्यायालय में भाजपा नेता रविंद्र पाठक उर्फ रिंकू के खिलाफ भी क्वार्सी से जुड़े मुकदमे में आरोप तय हो गया है। इसके बाद न्यायालय में ट्रायल शुरू हो जाएगा। इसी तरह अकराबाद के मुकदमे में कारोबारी विजेंद्र कपूर के खिलाफ आरोप तय होने से पहले पुन: बहस की अर्जी दायर की गई है, जिस पर न्यायालय ने तारीख नियत कर दी है।
एडीजीसी चौ.जितेंद्र सिंह के अनुसार क्वार्सी से जुड़े शराब कांड के मुकदमे में सासनी गेट निवासी रविंद्र पाठक उर्फ रिंकू के खिलाफ बृहस्पतिवार को आरोप तय करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इधर, अकराबाद के मुकदमे में कारोबारी विजेंद्र कपूर के अधिवक्ता की ओर से आरोप तय करने की प्रक्रिया पर पुन: बहस की अर्जी दी गई है, जिस पर 28 अक्तूबर तारीख नियत कर दी गई है। उन्होंने बताया कि बाकी मुकदमों में भी चार्ज आदि की प्रक्रिया पूरी कराकर जल्द ट्रायल शुरू कराया जाएगा।
दो मुकदमों में गवाही में तेजी
एडीजीसी के अनुसार जहरीली शराब कांड के अकराबाद के ही गंगाराम प्रधान से जुड़े मुकदमे में पहले गवाह के रूप में इंस्पेक्टर की गवाही दर्ज हो गई है। इसके अलावा मडराक व लोधा के दो मुकदमों में गवाही बहुत तेजी से चल रही है। प्रयास हैं कि आने वाले कुछ दिनों में गवाही की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।
तारिक हत्याकांड में सुनवाई आज
महानगर के ऊपरकोट से सटे बाबरी मंडी इलाके में सांप्रदायिक टकराव के दौरान हुई तारिक की हत्या में सुनवाई के लिए आज शुक्रवार की तारीख नियत है। बता दें कि इस मामले में युवा भाजपा नेता विनय वार्ष्णेय जेल में हैं और अब तक तीन गवाही हो चुकी हैं। चौथे गवाह को न्यायालय में शुक्रवार को तलब किया गया है।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः अवैध वसूली में दो अवर अभियंताओं को आरोपपत्र

घरेलू व व्यावसायिक बिजली कनेक्शन देने के एवज में अवैध वसूली के मामले में अलीगढ़-एटा क्षेत्र के दो अवर अभियंताओं को आरोप पत्र जारी किए गए हैं। साथ ही अवैध वसूली के मामले में पांच संविदा कर्मियों की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं, जबकि प्रधानमंत्री आवास के मामले में दोषी कर्मचारी की सेवा समाप्ति की संस्तुति की गई है।
मंडल स्तर पर से नो टू करप्शन (एसएनटीसी) सेल की बृहस्पतिवार को समीक्षा बैठक हुई। मंडलायुक्त गौरव दयाल ने बताया कि अलीगढ़, एटा विद्युत क्षेत्र में घरेलू व व्यावसायिक कनेक्शन देने में अवैध वसूली के मामले में दो अवर अभियंताओं को आरोप पत्र जारी किए गए हैं, जबकि दो संविदा कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। मुख्य अभियंता विद्युत क्षेत्र अलीगढ़-कासगंज में विद्युत कनेक्शन देने में अवैध वसूली के मामले में तीन संविदा कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त की गई हैं। कासगंज में प्रधानमंत्री आवासीय योजना शहरी में वर्ष 2019-20, 2020-21 तथा 2021-22 की सूची के लाभार्थियों से अवैध वसूली के मामले में दोषी कर्मचारियों की सेवा समाप्ति की संस्तुति की गई है। मुख्य अभियंता विद्युत क्षेत्र अलीगढ़ में अवैध वसूली की शिकायत फर्जी पाई गई। कमिश्नर ने एसएनटीसी सेल को सूचना न देने वाले विभागों को चेतावनी जारी कर जल्द सूची देने के आदेश दिए हैं।
इन विभागों ने एसएनटीसी सेल को नहीं उपलब्ध कराई सूची
- परियोजना अधिकारी डूडा-वर्ष 2019 से अब तक कार्यरत आउटसोर्सिंग कर्मियों की सूची।
- प्रधानमंत्री आवास शहरी-वर्ष 2019 से अब तक के लाभार्थियों की सूची।
- जिला समाज कल्याण अधिकारी, अलीगढ़, कासगंज व हाथरस - पारिवारिक लाभ योजना की सूची।
- अलीगढ़, कासगंज व हाथरस - शादी अनुदान योजना के लाभार्थियों की सूची, एटा की सूची अपूर्ण।
- सहायक श्रमायुक्त अलीगढ़, एटा व हाथरस - चिकित्सा सहायता व शादी अनुदान की सूची।
- जिला अभिहित अधिकारी अलीगढ़, एटा व हाथरस - फूड लाइसेंस व पंजीकृत अधिष्ठान सूची।
- हाथरस, एटा व कासगंज - सेवानिवृत्त अधिकारी व कर्मचारियों की सूची।
- लीड बैंक मैनेजर अलीगढ़, कासगंज व हाथरस - केसीसी कार्ड धारकों की सूची।
- जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी हाथरस, एटा व कासगंज - वर्ष 2019 से अब तक नई इकाई स्थापना के लिए ऋ ण की सूची।
- उपायुक्त एनआरएलएम में मंडल के चारों जिलों के स्वयं सहायता समूहों के क्लस्टर अध्यक्षों व सदस्यों की सूची।
50 करोड़ से अधिक लागत के कामों की भी समीक्षा
अलीगढ़। मंडलीय बैठक में सड़क निर्माण को छोड़कर 50 करोड़ या उससे अधिक धनराशि के विकास कार्यों की समीक्षा की गई। बताया गया कि मंडल के सभी जिलों में 50 करोड़ रुपये से अधिक की 19 परियोेेेेेेजनाएं संचालित हैं। मंडलायुक्त द्वारा सभी कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया गया कि वे अपने से संबंधित परियोजनाओं को जल्द से जल्द गुणवत्तापूर्वक पूर्ण कराएं।
... और पढ़ें

अकराबाद कांडः नारको कराने की अनुमति पर आपत्ति दर्ज, फैसला सुरक्षित

अकराबाद में अनुसूचित जाति की युवती की हत्या के मामले में पांच संदिग्धों का नारको कराने की पुलिस ने अनुमति मांगी है। बृहस्पतिवार को न्यायालय में इस मामले में सुनवाई के दौरान संदिग्ध पक्ष के अधिवक्ता ने पुलिस की अनुमति अर्जी पर आपत्ति दर्ज कराई। मामले में दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद न्यायालय ने फैसला सुरक्षित कर लिया है। संकेत हैं कि शुक्रवार को न्यायालय स्तर से नारको को लेकर फैसला सुनाया जाएगा।
अकराबाद में घर से लापता युवती की लाश अगले दिन बाजरा के खेते में पड़ी मिली थी। इसके खुलासे को लेकर परिवार की ओर से यहां आंबेडकर पार्क में धरना भी दिया और चंद्रशेखर आजाद भी परिवार से मिलने आए थे। इसी क्रम में पुलिस स्तर से पांच संदिग्धों का नारको परीक्षण कराना तय किया, जिसके लिए न्यायालय से अनुमति मांगी गई। बृहस्पतिवार को इस मामले में दोनों पक्षों की दलील हुईं, जिसमें संदिग्ध पक्ष के अधिवक्ता ने इसे मानवाधिकार का हनन करार दिया। विशेष लोक अभियोजक चमन प्रकाश शर्मा के अनुसार मामले में न्यायालय ने फैसला सुरक्षित कर लिया है। संकेत हैं कि शुक्रवार को फैसला सुनाया जाएगा।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः शहर की खराब सड़कों पर कमिश्नर भी सख्त

महानगर की खराब सड़कों को लेकर जिलाधिकारी के बाद कमिश्नर ने भी कड़ी नाराजगी जताई है। उन्होंने संबंधित अफसरों को कड़ी फटकार लगाते हुए सड़कों की जल्द से जल्द मरम्मत कराने के निर्देश दिए हैं। विशेष रूप से सीवर लाइन के चलते खोदी गई सड़कों को पुराने स्वरूप में लौटाने के लिए कहा है।
बृहस्पतिवार को कमिश्नरी सभागार में हुई विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में मंडलायुक्त गौरव दयाल ने कहा कि विकास योजनाओं की प्रगति में अलीगढ़ मंडल ने काफी अच्छा कार्य किया है। उन्होंने कहा कि रैकिंग के साथ ही सबसे अधिक महत्वपूर्ण है कि यह कि शासन द्वारा संचालित प्रमुख योजनाओं के क्रियान्वयन के माध्यम से जनसामान्य को कितना लाभान्वित किया जा रहा है। लेकिन सड़कों की स्थिति बहुत ही खराब एवं दयनीय है। इसमें सुधार करना होगा। कासगंज पुलिस लाइन में भवन निर्माण, स्मार्ट सिटी योजना के तहत आईसीसीसी एवं अचल ताल सुंदरीकरण कार्य, डीएफसीसी के तहत अलीगढ़ बाईपास से आगरा बाईपास पुल निर्माण का कार्य जल्द पूरा किया जाए। हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर को सही से संचालित किया जाए।
कौशल विकास मिशन के कोआर्डिनेटर ने बताया कि मंडल में 19333 के सापेक्ष 81 अभ्यर्थियों का पंजीकरण किया गया है। पशु पालन विभाग के उप निदेशक ने बताया कि मंडल में 40579 निराश्रित गोवंश को संरक्षित किए जाने के साथ ही सहभागिता योजना में 4886 गोवंश को पालने के लिए दिया गया है। मंडलायुक्त ने चिकित्सकों एवं पेरा मेडिकल स्टाफ की संबंद्धता को समाप्त करते हुए सभी सीएमओ को इस के लिए प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर बड़ी संख्या में मंडलीय अधिकारी मौजूद रहे।
प्रदेश में छठवें तो मंडल में चौथे स्थान पर अलीगढ़
अलीगढ़। कमिश्नर गौरव दयाल ने बताया कि विकास कार्यों के क्रियान्वयन के मामले में अलीगढ़ प्रदेश में छठवें स्थान पर है। उसे 245 में से 226 अंक मिले हैं। जबकि प्रदेश के मंडलों में अलीगढ़ का चौथा स्थान है।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः नौ माह पांच दिन में 19.78 लाख लोगों को लगा कोविड टीका

देश में नौ माह पांच दिन में 100 करोड़ लोगों को कोविड रोधी टीका लग गया है। जनपद में इस अवधि में 19.78 लाख लोगों को टीकाकरण किया गया। 16 जनवरी 2021 को देश के साथ ही अलीगढ़ में टीकाकरण का शुभारंभ हुआ था। शुरू में सिर्फ चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया। उस समय स्वास्थ्यकर्मी भी टीका लगवाने में हिचकिचा रहे थे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन के बाद स्वास्थ्यकर्मी काफी प्रभावित हुए थे। जनपद में शुरू में टीका की रफ्तार सुस्त रही। धीरे-धीरे इसमें तेजी आई। लोग जागरूक भी हुए। 18 आयु वर्ग को अनुमति मिलने के बाद टीका में तेजी आई। स्वास्थ्य विभाग द्वारा अनुमानित तौर पर करीब 27 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। बृहस्पतिवार को 12102 लोगों को टीका लगाया गया।
जनपद में अब तक टीकाकरण
कुल - 1978155
डोज 1 - 1547105
डोज 2 - 431050
देश के साथ अलीगढ़ जनपद कंधे से कंधे मिलाकर चल रहा है। टीकाकरण के कारण ही कोरोना पर नियंत्रण हो रहा है। अब टीका से वंचित लोगों से आग्रह है कि वह टीका जरूर लगवाएं और कोरोना को देश, प्रदेश एवं जिला से विदा करने में सहयोगी बनें।
- डॉ. एमके माथुर, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी
स्वास्थ्य विभाग के साथ ही जिला प्रशासन, जन प्रतिनिधि एवं जनता के सहयोग से 19.78 लाख लोगों को टीका लगा है। पहली डोज लगवा चुके लोग दूसरी डोज निर्धारित समय पर जरूर लगवा लें। कोरोना पर अंतिम प्रहार का वक्त है।
- शरद गुप्ता, सहायक जिला प्रतिरक्षण अधिकारी
... और पढ़ें

हरदुआगंज तापीय परियोजना में चार दिन का कोयला स्टॉक

हरदुआगंज तापीय परियोजना में चार-पांच दिन के लिए कोयला का स्टॉक हो गया है। इससे अधिकारी कुछ राहत महसूस कर रहे हैं। कुछ रोज पहले तक कोयले की कमी की वजह से बिजली उत्पादन प्रभावित हो रहा था। दो दिन लगातार बारिश के बाद मौसम कुछ ठंडा हो गया है। उसके बाद बिजली की मांग काफी घट गई है।
इससे उत्पादक का दबाव कुछ कम हुआ है। लोड डिस्पैच सेंटर के निर्देश पर हरदुआगंज तापीय परियोजना में चल रही दो यूनिट (250-250 मेगावाट की 8 एवं 9 नंबर यूनिट) को सोमवार रात से बंद कर दिया गया है। 120 मेगावाट की सात नंबर यूनिट पहले से ही बंद है। महाप्रबंधक सुनील कुमार सिंह ने बताया कि लोड डिस्पैच सेंटर के निर्देश पर यूनिट को बंद कर दिया गया है। वहां से मांग आने के बाद इकाइयों को फिर से चालू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि बारिश के बाद ठंड बढ़ने से मांग में कमी आई है। यह सामान्य प्रक्रिया है। जाड़े में बिजली की मांग घट जाती है। उन्होंने बताया कि अभी कोयले की दिक्कत नहीं है। कोयले आ रहे हैं। ऐसे समय में ही हमलोग कोयले का स्टॉक जमा करते हैं। हमारे पास चार-पांच दिन का स्टॉक हो गया है।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः खराब मोबाइल की कीमत के साथ क्षतिपूर्ति देने के आदेश

खराब मोबाइल दिए जाने के मामले में उपभोक्ता संरक्षण आयोग द्वारा मोबाइल निर्माता कंपनी को मोबाइल की कीमत, मानसिक कष्ट की क्षतिपूर्ति और प्रकरण में हुए खर्च का भुगतान उपभोक्ता को करने का आदेश दिया है।
दादों निवासी प्रकाश शर्मा वर्तमान में गांधी पार्क क्षेत्र में संजय गांधी कॉलोनी में रहते हैं। उन्होंने रामघाट रोड स्थित मोबाइल शोरूम से 12500 रुपये अदा करके मोबाइल खरीदा था। लेकिन कुछ दिन बाद ही मोबाइल खराब हो गया। इसके बाद प्रकाश शर्मा मोबाइल शोरूम के मालिक के पास गए और मोबाइल में आई खराबी के संबंध में बताया।
शोरूम मालिक ने मोबाइल को ठीक करके देने का वादा किया लेकिन जब मोबाइल ठीक करके दिया गया, तब भी उसमें से खराबी दूर नहीं हो सकी। इस दौरान मोबाइल शोरूम और मोबाइल कंपनी के अधिकारी उपभोक्ता को न तो संतुष्ट कर सके, न ही उसकी समस्या का समाधान कर सके। इसके बाद प्रकाश शर्मा ने उपभोक्ता संरक्षण आयोग का दरवाजा खटखटाया। आयोग के अध्यक्ष हसनैन कुरैशी और सदस्य आलोक उपाध्याय व पूर्णिमा सिंह राजपूत ने मोबाइल कंपनी के अधिकारियों और शोरूम मालिक को आदेश दिया है कि वह मोबाइल की पूरी कीमत सहित 1000 रुपये मानसिक कष्ट क्षतिपूर्ति और 500 रुपये इस मामले पर आए हुए खर्च को एक महीने के अंदर भुगतान करें। जब तक विपक्षी पार्टी उपभोक्ता को पूरी रकम का भुगतान नहीं कर देती है, तब तक 9 फ़ीसदी की वार्षिक ब्याज देना होगा।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः डेंगू से एक की मौत, 29 चपेट में आए

डेंगू से धनीपुर क्षेत्र के 27 वर्षीय युवक की मौत हो गई है। डेंगू के 29 नए मरीज सामने आए हैं। सरकारी एवं निजी अस्पताल में बुखार के मरीजों की कतार लगी है। स्वास्थ्य विभाग की टीमें बुखार प्रभावित गांवों का दौरा कर स्थिति को काबू में करने का प्रयास कर रही हैं।
धनीपुर प्रखंड के अधोन का माजरा पटेल नगला निवासी सुनील कुमार सिंह (27 वर्ष) 12 दिन से नोएडा के एक अस्पताल में भर्ती थे। वह डेंगू पीड़ित थे और भाजपा किसान मोर्चा के महानगर अध्यक्ष ठाकुर राकेश सिंह के साले थे। राकेश सिंह ने बताया कि बुधवार रात्रि में सुनील की मौत हो गई। उनके निधन से गांव में शोक की लहर दौड़ गई है। सुनील कुमार सिंह कोरोना से भी गंभीर रूप से बीमार हुए थे। मलखान सिंह जिला अस्पताल के लैब में 186 की जांच में 29 लोग डेंगू से पीड़ित पाए गए हैं। मलखान सिंह जिला अस्पताल में उपचार कराने पहुंचे 25 लोग डेंगू पॉजिटिव पाए गए हैं। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. राहुल कुलश्रेष्ठ ने डेंगू से मौत से अनभिज्ञता जताई है।
एडीएम सिटी एवं एसीएम ने किया निरीक्षण
स्वास्थ्य विभाग टीम द्वारा बुखार प्रभावित गांव सीहोर, दतावली, लक्ष्मणगढ़ी, बरौली, जवां के अतिरिक्त नगरीय क्षेत्र संजय गांधी कॉलोनी, इंदिरा नगर, कुंवरनगर में कैंप लगाकर 510 लोगों की दवाएं दी गईं। 109 बुखार के मरीज सामने आए। एडीएम सिटी राकेश पटेल द्वारा शक्तिनगर, जवाहरनगर का निरीक्षण किया गया। एसीएम द्वितीय अंजुम बी द्वारा क्वार्सी क्षेत्र का निरीक्षण किया गया। कई घरों में डेंगू का लार्वा पाया गया। बुखार के 89 रोगियों की रक्त पट्टिका बनाई गई। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. राहुल कुलश्रेष्ठ ने डेंगू एवं मलेरिया से बचाव से संबंधित जानकारी दी। डॉ. शोएब, डॉ. तेजवीर, डॉ. अतिया, राजेश गुप्ता, मोनू आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

करवा चौथ पर महंगाई की मार... महंगा हो गया सुहागिनों का शृंगार

करवा चौथ के मौके पर सजने संवरने के लिए महिलाओं को इस बार और अधिक रुपये खर्च करने होंगे, क्योंकि साड़ियों से लेकर कॉस्मेटिक और शृंगार के सामान के दाम बढ़ गए हैं। इसके बाद भी त्योहार को लेकर महिलाओं में जबर्दस्त उत्साह है। सिल्क की साड़ियों की अच्छी खासी मांग है। करवा चौथ पर महानगर में करोड़ों का कारोबार होने की उम्मीद है।
करवा चौथ पर कॉस्मेटिक और शृंगार के सामान पर 20 फीसदी तक बढ़े दाम बढ़ गए हैं। चूड़ियों, क्रीम, पाउडर, नेल पॉलिश, लिपस्टिक समेत अन्य सामानों पर 20 फीसदी तक रेट बढ़े हैं। साथ ही आर्टिफिशियल ज्वेलरी, टीका, ईयर रिंग, सुहाग का सामान, कुमकुम और शीशे पर भी रेट बढ़े हैं। ऐसे में महिलाओं को इस बार सजने संवरने के लिए 20 प्रतिशत तक अतिरिक्त खर्च करना होगा। वहीं, साड़ियों भी महंगी हो गई हैं। हालांकि, पिछले डेढ़ साल से कोरोना के कारण कपड़ा कारोबार फीका चल रहा था। कोरोना के केस घटने के बाद कपड़ा कारोबार की चमक एक बार फिर लौट आई है। शोरूमों पर काफी संख्या में ग्राहक पहुंच रहे हैं। करवाचौथ के साथ ही सहालग का समय चल रहा है। निकट भविष्य में धनतेरस, दीपावली व अन्य त्योहार भी है।
सिल्क साड़ी की सबसे अधिक मांग
बाजार में सिल्क की कई तरह की साड़ियां उपलब्ध हैं। बनारसी सिल्क, बंगलूरू सिल्क, हैदराबादी सिल्क, असम सिल्क, भागलपुरी सिल्क आदि। धर्मावरम की साड़ियां अलग लुक में हैं। ऑर्गेंजा सिल्क की साड़ी, टिसू कपड़ा की साड़ी, सिफॉन की साड़ी, डोला सिल्क की साड़ी, पारसी वर्क की साड़ी, कश्मीरी वर्क की साड़ी बाजार में उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त डिजाइनर साड़ियां भी बेहद पसंद की जा रही हैं। इनकी कीमत 500 से लेकर कई हजार तक में हैं।
नजर नहीं हटती
डिजाइनर लहंगा, चुनरी, लेडीज सूट, शूटिंग शर्टिंग, वेडिंग साड़ी, फैंसी सूट, कुर्ती, शॉल, कांजीवरम की साड़ी, बंधेज साड़ी आदि बाजार में उपलब्ध है। क्रॉप टॉप, लांचा, गर्लिस लुक लांचा, गाउन, फ्रॉक सूट, कुर्ती आदि भी महिलाएं पसंद कर रही हैं।
कपड़ों पर जीएसटी...
साड़ी - 5 प्रतिशत
रेडिमेड - 12 प्रतिशत
रेडिमेड एक हजार रुपये से कम - 5 प्रतिशत
लहंगे - 12 प्रतिशत
नोट-- जीएसटी की दर पहले से चली आ रही है। अभी कोई परिवर्तन नहीं हुआ है।
करवा चौथ को लेकर साड़ियों की जबर्दस्त मांग है। सबसे अधिक सिल्क की साड़ियों की मांग है। खरीदारी के लिए काफी संख्या में महिलाएं पहुंच रही हैं। साड़ी के अतिरिक्त सूट एवं ब्रांडेड कंपनियों के कपड़े भी पसंद कर रही हैं।
- संजय अग्रवाल, स्टोर संचालक
पिछले साल से अधिक कारोबार होने की उम्मीद है। डीजल, डाई, धागे, मजदूरी, पैकिंग, प्रोसेसिंग एवं परिवहन का रेट बढ़ने से साड़ी सहित अन्य तमाम तरह के कपड़ों के भाव दस प्रतिशत या उससे कुछ अधिक तक बढ़ गए हैं।
- डॉ. संजय सिंघल, कपड़ा व्यवसायी
करवा चौथ एवं त्योहार के कारण कपड़ा बाजार की चमक लौटने लगी है। सबसे अधिक सिल्क एवं डिजाइनर साड़ी की मांग है। ऑर्गेंजा साड़ी भी खूब पसंद किया जा रहा है। रेट में मामूली वृद्धि हुई है। काफी संख्या में ग्राहक आ रहे हैं।
- आकाश अरोड़ा, शो रूम संचालक
आभूषणों की बुकिंग शुरू
अलीगढ़। करवाचौथ को लेकर आभूषण का कारोबार ऊंचाई पर पहुंच गया है। त्योहार के दिन के साथ ही धनतेरस एवं दीपावली के दिन आभूषण प्राप्त करने के लिए लोग बुकिंग करा रहे हैं।
करवाचौथ पर पति की लंबी आयु, स्वास्थ्य एवं खुशहाल जीवन के लिए महिलाएं व्रत रखती हैं। पति भी सामर्थ्य के अनुसार पत्नी को उपहार देते हैं। आभूषण भेंट करने का चलन दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। इसकी वजह से सराफा बाजार की चमक बढ़ गई है। त्योहार को ध्यान में रखकर सराफा कारोबारी भी तैयारी किए हैं।
करवाचौथ, धनतेरस एवं दीपावली को लेकर ग्राहकों में जबर्दस्त उत्साह है। ग्राहक करवाचौथ, धनतेरस एवं दीपावली के लिए आभूषण की बुकिंग भी कर रहे हैं।
- देवेश वी राजन, ज्वेलरी शोरूम संचालक, मैरिस रोड।
करवाचौथ के साथ ही अन्य त्योहार एवं सहालग हैं। काफी संख्या में ग्राहक पहुंच रहे हैं। हल्के आभूषण से लेकर शादी-ब्याह तक के लिए लोग खरीदारी कर रहे हैं।
- किशन कुमार, स्टोर मैनेजर, समद रोड।
साड़ी शोरूम में करवा चौथ को लेकर साड़ियां पसंद करतीं महिलाएं।
साड़ी शोरूम में करवा चौथ को लेकर साड़ियां पसंद करतीं महिलाएं। - फोटो : CITY OFFICE
... और पढ़ें

अलीगढ़ः सड़क हादसे में घायल की जान बचाने वाले को मिलेगा पुरस्कार

हादसे में गंभीर घायलों की जान बचाने वाले नेक आदमी को पांच हजार रुपये से पुरस्कृत किया जाएगा। इस संबंध में परिवहन आयुक्त धीरज साहू के आदेश के बाद परिवहन विभाग ने दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं।
आरटीओ प्रवर्तन फरीदउद्दीन ने बताया कि भारत सरकार द्वारा नेक आदमी को पुरस्कृत किए जाने की योजना लागू हो रही है।
सड़क दुर्घटना में गंभीर घायलों की जान बचाने वाले को पांच हजार रुपये मिलेंगे। एक व्यक्ति अधिकतम पांच बार इस पुरस्कार राशि को प्राप्त कर सकता है। उन्होंने बताया कि योजना का उद्देश्य सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की जान बचाने और मरने वाले व्यक्तियों की संख्या में कमी लाना है। राष्ट्रीय स्तर पर चयनित दस व्यक्तियों को एक-एक लाख रुपये से सम्मानित किया जाएगा। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित मूल्यांकन समिति द्वारा गुड सेमेरिटन (नेक आदमी) का चयन किया जाएगा।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00