लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Ballia News ›   Pothole free roads on paper but in reality people have to suffer hiccups

Ballia News: कागजों पर सड़कें गड्ढामुक्त पर हकीकत में लोगों को खाने पड़ रहे हिचकोले

Varanasi Bureau वाराणसी ब्यूरो
Updated Thu, 01 Dec 2022 04:30 AM IST
विशुनपुरा क्षेत्र के जेठवार-चांडी जर्जर मार्ग से होकर गुजरता बाइक सवार युवक।
विशुनपुरा क्षेत्र के जेठवार-चांडी जर्जर मार्ग से होकर गुजरता बाइक सवार युवक। - फोटो : BALLIA
विज्ञापन
हर बार की तरह इस बार भी जिले में शत प्रतिशत 318 किमी लंबाई की 129 सड़कों को गड्ढा मुक्त कर दिया गया है। इसकी रिपोर्ट भी बुधवार को लोक निर्माण विभाग की ओर से शासन को भेज दी गई। लेकिन धरातल पर अधिकांश सड़कों पर गड्ढे लोगों की मुश्किलें बढ़ा रहे हैं। हालांकि जिले को केवल चार करोड़ ही मिले थे जबकि एक हजार से अधिक सड़कें बदहाल स्थिति में थी।

विभागीय अधिकारियों के अनुसार सड़कों को तीन श्रेणी में बांटा गया है। सवा माह पहले भी शासन की ओर से राजमार्ग व ग्रामीण इलाके की सड़कों को अभियान चलाकर गड्ढामुक्त करने का निर्देश दिया गया। इस बार जिले की 318 किमी लंबी कुल 129 सड़कों को गड्ढामुक्त करने के लिए चिह्नित किया गया था। सड़कों को गड्ढामुक्त करने के लिए लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड को बतौर नोडल विभाग नामित किया गया। विभाग के अधिशासी अभियंता ने बताया कि जिले में कुल 1071 सड़कें खराब थीं। इसमें सड़कों को तीन श्रेणी में बांटा गया है। 129 सड़कों को गड्ढामुक्त के लिए चिह्नित किया गया था। इसके लिए कुल चार करोड़ की धनराशि प्राप्त हुई थी। इससे चिह्नित सड़कों को गड्ढामुक्त कर दिया गया है।

वहीं पूरी तरह उखड़ चुकी व जलभराव वाले स्थानों की सड़कों को पुनर्निर्माण के दायरे में रखा गया है। इसके पुनर्निर्माण के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। प्रस्ताव स्वीकृत होने के बाद इन सड़कों के पुनर्निर्माण कराया जाएगा। उधर, धरातल पर आज भी जिधर जाएं उधर सड़क पर गड्ढा से सामना हो जाएगा। लोगों का कहना है कि हर बार की तरह इस बार भी गड्ढा मुक्त के नाम पर केवल कोरम ही किया गया है।
इन सड़कों की स्थिति खराब
जिले के मालीपुर-बिहरा - हरपुर सिकंदरपुर जर्जर सड़क मार्ग को देखा जा सकता है। इस मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे ही हैं। इसके अलावा जयप्रकाश नगर क्षेत्र के कर्ण छपरा से दलन छपरा मार्ग, विशुनपुरा क्षेत्र के जेठवार- चांडी मार्ग, मालीपुर खटंगी मार्ग आदि सड़कें आज भी गड्ढा मुक्त अभियान की पोल खोल रही हैं।
पिछले वर्ष 247 किमी 199 सड़कों को किया गया था गड्ढामुक्त
बलिया। गड्ढा मुक्त अभियान के तहत पिछले वर्ष भी विभाग की ओर से 247 किमी लंबी 199 सड़कों को गड्ढामुक्त किया गया था। इसमें पीडब्ल्यूडी प्रांतीय खंड की 42.96 किमी की 13 सड़कें व निर्माण खंड की ओर से 121.532 किमी की 64 सड़कें रहीं। इसके अलावा ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की 5.80 किमी की तीन सड़कें, जिला पंचायत की 34.735 किमी की 28 सड़कें व नगरीय नगरीय क्षेत्र के 42.55 किमी लंबी 91 सड़कें थीं।
गड्ढा वाली सड़कों को चिह्नित कर गड्ढा मुक्त कर दिया गया है। पूरी तरह से जर्जर व जलभराव से क्षतिग्रस्त सड़कों के पुनर्निर्माण का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है।
विज्ञापन
- अरुण कुमार, अधिशासी अभियंता, लोक निर्माण विभाग, प्रांतीय खंड, बलिया।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00