लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Barabanki News ›   Barat returns after two days, groom joins marriage in barabanki.

Barabanki: आखिरकार दुल्हन की हुई जीत... दो दिन बाद लौटा दूल्हा, उसी मंडप के नीचे लिए सात फेरे

संवाद न्यूज एजेंसी, बाराबंकी Published by: लखनऊ ब्यूरो Updated Mon, 05 Dec 2022 04:54 PM IST
सार

बरात लौटने के बाद दुल्हन छोटू से ही शादी करने की जिद लेकर बैठ गई। दोनों पक्षों की बात हुई और दूल्हा वापस लौटा। अपनी जीत पर दुल्हन की आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े।

शादी के बाद दुल्हन की विदाई कर ले जाता दूल्हा।
शादी के बाद दुल्हन की विदाई कर ले जाता दूल्हा।
विज्ञापन

विस्तार

दो दिन पहले डीजे पर नाचने के विवाद में बरात वापस होने के बाद भी दुल्हन उसी युवक से शादी करने की जिद पर अड़ी रही, जो बरात लेकर उसके घर पहुंचा था। आखिरकार दुल्हन की जिद रंग लाई, रविवार को दूल्हा फिर पहुंचा और उसी मंडप के नीचे सात फेरे लिए। इस दौरान दुल्हन की आंखों में खुशी के आंसू आ गए।



जहांगीराबाद थाना क्षेत्र के कुटी गांव निवासी अवधराम की पुत्री रोशनी की शादी अयोध्या जिले के श्यामलाल के पुत्र छोटू के साथ तय हुई थी। बीते शुक्रवार को बरात आई थी। लेकिन डीजे पर गाना बजाने को लेकर जनाती व बराती आपस में भिड़ गए थे। जिसके बाद बरात वापस लौट गई थी। शनिवार को दुल्हन के पिता की तहरीर पर दूल्हे के पिता के खिलाफ दहेज के लिए शादी तोड़ने का केस दर्ज हुआ था।


इस दौरान दुल्हन रोशनी ने छोटू से शादी की जिद पकड़ ली। जहर खाकर जान देने की बात भी कही। बातचीत समझौते के दौर के बीच रविवार को दूल्हे व उसके परिजनों का हृदय परिवर्तन हुआ। दोपहर में करीब 5-6 परिजनों के साथ छोटू कुटी गांव पहुंचा।

दोनों पक्षों ने गिले शिकवे दूर किए और पंडित जी को बुलाकर विधि विधान से दोनों की शादी कराई गई। उसके बाद दुल्हन की विदाई हुई। थाना प्रभारी विनोद यादव ने बताया कि युवती के पिता ने मुकदमे में कोई कर्रवाई नहीं करने की बात लिखकर दे दी है।

ए राजा हमके बनारस... पर हुआ था बवाल
बरात वाले दिन शुक्रवार की रात डीजे पर ‘ए राजा हमके बनारस घुमाई दा’ गाना बजाने को लेकर विवाद हुआ था। बरात पक्ष के कुछ युवक यह गाना बजाने को लेकर वहां मौजूद जनातियों और गांव के लोगों से भिड़ गए थे। जबकि उस समय कोई दूसरा गाना बज रहा था। रविवार दोपहर विवाह होने के बाद दुल्हन का पूरा घर खुश था। काफी गरीबी के हालातों में जीवन बिता रहे इस परिवार में पांच बेटियां हैं। बड़ी बेटी पिंकी, रिंकी व प्रीति विवाहित है और तीनों ने ही रोशनी के विवाह के लिए पैसा जुटाया था। सबसे छोटी बहन शिवकांती की शादी होना अभी शेष है। प्रीति ने बताया कि अब हम शिवकांती की शादी के लिए प्रयासरत होंगे।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00