लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Bareilly News ›   Disclosure of murder of 10 year old innocent, five members together killed their own girl child

Bareilly News: 10 साल की मासूम की हत्या का खुलासा, पांच सदस्यों ने मिलकर अपनी ही बच्ची की हत्या की

अमर उजाला नेटवर्क, बरेली Published by: बरेली ब्यूरो Updated Tue, 06 Dec 2022 06:30 AM IST
सार

माधोपुर गांव में शनिवार को दस वर्षीय बालिका अनम की नृशंस हत्या में उसका कोई करीबी शामिल हो सकता है। यह शक पुलिस को उसी वक्त हो गया था, जब उसे परिवार के लोगों के बजाय किसी और ने सूचना दी कि एक बालिका हत्या हो गई है। मरणासन्न मासूम का वीडियो बनाकर चाचा उससे पूछ रहा था कि तुम्हें किसने मारा...

अनम फाइल फोटो।
अनम फाइल फोटो। - फोटो : PILIBHIT
विज्ञापन

विस्तार

पीलीभीत। दुश्मनी में एक परिवार इतना बर्बर हो सकता है कि पांच सदस्य मिलकर अपनी ही बच्ची की हत्या कर डालें। बिटिया को मारते समय उनके हाथ भी न कांपे। यह अकल्पनीय है। लेकिन समाज की क्रूर सच्चाई है। अमरिया तहसील के माधोपुर गांव में ऐसा ही हुआ। हफ्तों पहले ही साजिश रच ली गई। मौका मिलते ही कत्ल कर दिया गया।


माधोपुर गांव में शनिवार को दस वर्षीय बालिका अनम की नृशंस हत्या में उसका कोई करीबी शामिल हो सकता है। यह शक पुलिस को उसी वक्त हो गया था, जब उसे परिवार के लोगों के बजाय किसी और ने सूचना दी कि एक बालिका हत्या हो गई है। मरणासन्न मासूम का वीडियो बनाकर चाचा उससे पूछ रहा था कि तुम्हें किसने मारा...। यह वीडियो सामने आने पर पुलिस का शक पुख्ता हो गया। क्योंकि मौत से लड़ रही बच्ची की पहली जरूरत इलाज थी।


वीडियो ही खुलासे की अहम कड़ी बनी। हत्या के बाद साजिशकर्ता योजना के तहत पुलिस को तहरीर देने पहुंचे तो पुलिस ने अनम के पिता, चाचा और दादा से उनका मोबाइल नंबर मांगा तो सभी सकपका गए। पुलिस से बोले कि नामजद तहरीर देने के बाद कार्रवाई के बजाय आप लोग हम पर ही शक कर रहे हैं। उनके हावभाव से शक और पुख्ता हो गया।

शाम को मासूम के शव का दफन होते ही पुलिस उसके घर पहुंच गई। परिवार के लोगों को घर से बाहर निकालकर तलाशी ली तो एक खून से सनी पैंट पुलिस के हाथ लग गई। पुलिस अनम के चाचा शादाब को थाने ले आई। पूछताछ में पहले वह टालमटोल करता रहा। पुलिस ने जब सख्ती की तो वह टूट गया। बोला कि पड़ोसी को फंसाने के लिए भतीजी को मारने का साजिश पहले रच ली थी। लेकिन उसे अंजाम तक पहुंचाने का मौका नहीं मिल रहा था। पड़ोस में जब मेला लगा तो भतीजी को गायब कर मार डाला।

शादाब के बयानों के आधार पर पुलिस ने सुबह अनम के दादा शहजादे, पिता अनीस, चाचा नसीम और सलीम को हिरासत में ले लिया। सभी से अलग-अलग पूछताछ की। दादा ने पुलिस को बताया कि पिछले कई सालों से पड़ोसी उसके पुत्रों के खिलाफ मुकदमा लिखवाकर परेशान कर रहा था। पुलिस उसकी सुनवाई नहीं कर रही थी। इसीलिए पोती को मारने की उसने योजना बनाई। इसके बाद पुत्रों को भी योजना में शामिल किया। पिता अनीस ने बताया कि दुष्कर्म के मुकदमे में वारंट भी निकल चुका है। इसीलिए योजनानुसार भाइयों के साथ मिलकर पुत्री को मार डाला ताकि पड़ोसी को फंसा सकें।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00