लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Agra News ›   Firozabad: Fierce fire broke out in jewelry shop in Jasrana, five burnt alive, CM expressed grief

Firozabad: दो मंजिला मकान में लगी भीषण आग, एक ही परिवार के छह लोग जिंदा जले, तीन बच्चे भी शामिल

अमर उजाला ब्यूरो, फिरोजाबाद Published by: अनुराग सक्सेना Updated Wed, 30 Nov 2022 06:36 AM IST
सार

फिरोजाबाद के कस्बा पाढ़म स्थित एक मकान में शॉट सर्किट से भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आकर दंपत्ति समेत छह लोगों की मौत हो गई। घटना पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त किया है। घर में इनवर्टर बनाने का काम होता था। आग शॉर्ट सर्किट होने से लगी थी।

घर में लगी आग
घर में लगी आग - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

फिरोजाबाद के जसराना क्षेत्र के पाढ़म स्थित दो मंजिला मकान में मंगलवार रात करीब आठ बजे भीषण आग लगने से तीन बच्चों सहित छह लोगों की दम घुटने और जलने से मौत हो गई। आग इतनी तेजी से फैली की पहली मंजिल पर रह रहा पूरा परिवार फंस गया। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि मकान में इन्वर्टर की बैटरी चार्ज करने का पैनल लगा था, जिस पर करीब 80 बैटरियां चार्ज हो रही थी। 



आग इन्हीं बैटरियों में शॉर्ट सर्किट से लगने की आशंका जताई गई है। अग्निकांड से इलाके में दहशत फैल गई थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरी घटना की जानकारी लेकर अधिकारियों को राहत एवं बचाव कार्य में तेजी के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही दो-दो लाख की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। 

पहली मंजिल पर था परिवार 

पाढ़म निवासी रमन प्रकाश का बाजार में ही दो मंजिला घर है। ग्राउंड फ्लोर पर उनकी इलेक्ट्रॉनिक्स, फर्नीचर और जूलरी की दुकानें हैं, जबकि पहली मंजिल पर वह परिवार के सदस्यों के साथ रहते हैं। आठ बजे के करीब मकान से धुआं उठने लगा। देखते ही देखते दोनों तल आग की लपटों में घिर गए। इससे परिवार के किसी भी सदस्य को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला। आग लगने की जानकारी मिलते ही लोग बचाव के लिए दौड़े और पुलिस व फायर विभाग को सूचना दी। कुछ लोगों ने अपने स्तर पर बचाव के प्रयास किए, लेकिन आग बहुत तेजी से तीनों दुकानों में फैल चुकी थी।


 

मौके पर दमकल कर्मी और पुलिस फोर्स
मौके पर दमकल कर्मी और पुलिस फोर्स - फोटो : अमर उजाला

देरी से पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियां 

पुलिस और प्रशासन कुछ ही देर में मौके पर पहुंच गया, लेकिन फायर ब्रिगेड की गाड़ियां घंटे भर देरी से पहुंची। फायर कर्मियों के आने के बाद आग बुझाने की कार्रवाई शुरू हो सकी। आग मंद पड़ने पर मकान में तलाशी अभियान चलाया गया। रात करीब सवा दस बजे तक एक-एक कर छह शव निकाले गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मकान में रमन प्रकाश के अलावा पुत्र मनोज और उनकी पत्नी नीरज, छोटे पुत्र नितिन व उनकी पत्नी शिवानी और तीन बच्चे रहे रहे थे। 

पिता और छोटा बेटा बचा

नितिन कस्बे में ही किसी कार्यक्रम में गया हुआ था, जबकि पिता रमन प्रकाश अपने गांव नगला इमलिया गए हुए थे। इससे दोनों का बचाव हो गया। आग की सूचना मिलते ही नितिन घर पहुंचा तो भयावह माहौल देखकर बेसुध हो गया। 

मौके भीड़ और जाम 

आग लगने की जानकारी मिलते ही मौके पर भारी भीड़ इकट्ठा हो गई। पुलिसकर्मियों सहित डीएम रविरंजन और एसएसपी आशीष तिवारी भी भीड़ को हटाने में जुटे रहे। उधर, मौके पर मौजूद लोगों का कहना था कि समय रहते फायर ब्रिगेड की गाड़ियां आ जाती तो इतना बड़ा हादसा नहीं होता। 
 

मृतकों के नाम

- मनोज कुमार
- नीरज (35) पत्नी मनोज कुमार
- शिवानी(32) पत्नी नितिन
- तेजस्वी(3 माह) पुत्री नितिन
- हर्ष (12) पुत्र मनोज 
- भारत(8) पुत्र मनोज

देर रात तक चला बचाव कार्य

आगरा जोन के एडीजी राजीव कृष्ण ने बताया कि जसराना क्षेत्र के पाढ़म में आग की सूचना मिलते ही आगरा, एटा और मैनपुरी से अग्निशमन गाड़ियां भिजवाई गईं हैं। हादसे में छह लोगों की मौत हो गई है। राहत एवं बचाव कार्य देर रात तक जारी रही।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर हादसे पर गहरा दुख व्यक्त किया है। ट्वीट में लिखा, अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर तेजी से राहत कार्य कराने के निर्देश दिए हैं। हादसे में मृतकों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00