टोंस नदी में अवैध रूप से जाल डालने वाले दो शख्स पर मुकदमा दर्ज

Varanasi Bureau वाराणसी ब्यूरो
Updated Wed, 20 Oct 2021 11:21 PM IST
Case filed against two people who illegally cast traps in Tons river
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मुहम्मदाबाद। नदियों में अवैध रूप से जाल लगाकर नदी का पानी रोकने वाले दो लोगों के खिलाफ बुधवार को करीमुद्दीनपुर थाने में प्रशासन ने प्राथमिकी दर्ज कराई। तहसीलदार मुहम्मदाबाद विराग पांडेय ने थानाध्यक्ष के साथ गड़ार गांव में जाकर टोंस नदी में मछली मारने के लिए लगाए गए जाल को कटवा कर हटवाया और थानाध्यक्ष करीमुद्दीनपुर को गड़ार निवासी मुन्ना राजभर और शैलेंद्र राजभर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।
विज्ञापन

दरअसल, मगई, टोंस, बेसो आदि नदियों मे बाढ़ और बारिश से खेतो में जलजमाव के चलते किसान रबी की बुआई को लेकर चिंतित हैं। प्रकृति की मार से किसान अभी उबर नहीं पा रहे हैं कि मछली का अवैध कारोबार करने वाले नदियों में जाल लगाकर नदियों के बहाव को अवरुद्ध कर दे रहे हैं। इससे पानी आगे बढ़ने के बजाए रुक कर खेतों में फैल रहा है, जिससे फसल बर्बाद होने के साथ रबी की बुआई में परेशानी हो रही है।

वहीं, प्रशासन की ओर से मगई नदी में भी कई गांवों सियाड़ी, जोगामुसाहिब सहित कई गांवों से मछली मारने के लिए जाल हटवाए गए हैं। लेकिन, बलिया जनपद के दौलतपुर में लगाई गई जाल के कारण मगई के पानी का बहाव रुक जाने से करइल की सैकड़ों एकड़ भूमि में पानी भरा हुआ है। उपजिलाधिकारी आशुतोष कुमार मिश्र ने कहा कि यहां के किसानों की यह बड़ी समस्या है। जिलाधिकारी के माध्यम से बलिया जनपद के जिलाधिकारी को पत्र लिखवाकर इस समस्या का समाधान कराने का प्रयास किया जाएगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00