Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kanpur ›   BJP made the absconding thug an officer Removed after controversy

भाजपा ने फरार ठग को बनाया पदाधिकारी: विवाद के बाद हटाया, संघ का पदाधिकारी बन नेताओं से करता था ठगी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Published by: प्रभापुंज मिश्रा Updated Fri, 10 Sep 2021 07:24 PM IST

सार

विष्णु बाबू बड़ा ठग है। गोरखपुर की एक शिक्षिका ने जमीन दिलाने के नाम 60 लाख रुपये ठगने का आरोप लगाया था। कल्याणपुर निवासी कमला देवी को विधानसभा का टिकट दिलाने के नाम पर 45 लाख रुपये ठगे थे।  
ठग विष्णू दिवाकर
ठग विष्णू दिवाकर - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

करोड़ों की ठगी को अंजाम देने के आरोपी ठग विष्णु बाबू दिवाकर को भाजपा ने उप्र अनुसूचित जाति मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी का सदस्य बना दिया। फरार आरोपी को पद देने पर भाजपा में विरोध के साथ कलह शुरू हुई तो शुक्रवार को नई सूची जारी हुई। जिसमें विष्णु का नाम शामिल नहीं था। 
विज्ञापन


भारतीय जनता पार्टी की तरफ से छह सितंबर को उप्र अनुसूचित जाति मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्यों की घोषणा की गई। जिसमें 27 लोगों के नाम हैं। सूची के आखिर में विष्णु दिवाकर का नाम भी शामिल था। जिसको कानपुर देहात से सदस्य बनाया गया था। 


 

सबसे पहले पूजा बंसल ने की थी शिकायत
सबसे पहले पूजा बंसल ने की थी शिकायत - फोटो : amar ujala
विष्णु सचेंडी के सीढ़ी इटारा गांव का रहने वाला है। पिछले महीने मेरठ की भाजपा नेत्री पूजा बंसल ने विष्णु पर 50 लाख रुपये की ठगी का मुकदमा दर्ज कराया था। जांच शुरू होते ही आरोपी फरार हो गया था। पूजा बंसल समेत अन्य पार्टी के नेताओं ने आलाकमान से शिकायत की। मांग की गई कि विष्णु से तत्काल पद छीना जाए। शिकायत को संज्ञान में लेकर पार्टी के पदाधिकारियों ने शुक्रवार को नई सूची जारी की। जिसमें से विष्णु का नाम काट दिया गया।

राम मंदिर के नाम पर भी ठग चुका है
विष्णु बाबू बड़ा ठग है। आरोपी राम मंदिर निर्माण के चंदे के नाम पर भी लोगों से लाखों रुपये वसूल चुका है। गोरखपुर की एक शिक्षिका ने जमीन दिलाने के नाम 60 लाख रुपये ठगने का आरोप लगाया था। कल्याणपुर निवासी कमला देवी को विधानसभा का टिकट दिलाने के नाम पर 45 लाख रुपये ठगे थे।  मेरठ समेत प्रदेश के तमाम शहरों में पार्टी में पद दिलाने के नाम पर लाखों रुपये वसूले थे।

एडीजी जोन के पास ऐसी छह से अधिक शिकायतें आई हैं। सीओ सदर शिकायतों की जांच कर रहे हैं। आरोपी पर मेरठ में भी मुकदमा दर्ज है। विष्णु कई लोगों को सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा देकर उनसे भी ठगी कर चुका है। विष्णु खुद को संघ का राष्ट्रीय पदाधिकारी बताता था। नेताओं और अफसरों के संग रहता था इसलिए लोग उसके झांसे में आ जातेे थे।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00