Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kanpur ›   Kanpur: girl kept on screaming, he kept on doing wrong things, she used to call him brother

हैवानियत की हदें पार: बच्ची बोली मैं चीखती रही वो गलत काम करता रहा, आरोपी को भइया बुलाती थी मासूम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Published by: प्रभापुंज मिश्रा Updated Thu, 20 Jan 2022 07:03 PM IST

सार

कानपुर पुलिस को दिए बयान में  बच्ची ने आरोपी की बर्बरता की दास्तां सुनाई है। बच्ची ने बताया कि मैं चीखती रही वह गलत काम करता रहा। यह भी कहा था कि मेरा नाम न लेना वरना मार देंगे। दुष्कर्म के बाद बच्ची बेहद गंभीर थी। शरीर भर में नोचे जाने के निशान थे। बुधवार को डॉ. श्रद्धा ने सर्जरी की। उन्होंने बताया कि बच्ची की हालत बेहतर है। सर्जरी भी सफल हुई है। इलाज जारी है।
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : Social media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कानपुर पुलिस ने दुष्कर्म पीड़ित बच्ची के बयान दर्ज कर लिए हैं। बच्ची ने आरोपी की बर्बरता की दास्तां सुनाई। उसने बताया कि वह आकाश को भइया कहती थी। उसने दुकान से पान मसाला मंगाया था। जब वह मसाला खरीदकर उसके पास पहुंची थी तो वह उसे उठा ले गया और गलत काम किया। मुझे पीटा भी। मैं चीखती रही वह गलत काम करता रहा। यह भी कहा था कि मेरा नाम न लेना वरना मार देंगे। उसके बाद वह चला गया था। हम उनको जानते थे इसलिए उसके कहने पर मसाला खरीदकर देने चले गए थे। 
विज्ञापन

 

पुलिस ने आरोपी पर दुष्कर्म व पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की है। वहीं मुठभेड़ के मामले में हत्या के प्रयास व आर्म्स के तहत एक और एफआईआर आकाश पर दर्ज की है। दुष्कर्म के केस में पुलिस अपहरण की धारा भी बढ़ाएगी।

 

जब पुलिस ने 161 सीआरपीसी के तहत पीड़िता के बयान दर्ज किए तो उसने पूरी बात बताई। एसीपी कल्याणपुर दिनेश कुमार शुक्ला ने बताया कि बच्ची अभी अस्पताल में भर्ती है। इसलिए कोर्ट में उसे बयान नहीं किराए जा सके हैं। 

दुष्कर्म पीड़ित बच्ची की सर्जरी सफल, हालत खतरे से बाहर
दुष्कर्म के बाद बच्ची बेहद गंभीर थी। आरोपी आकाश ने बर्बरता की सारीं हदें पार कर दी थीं। शरीर भर में नोचे जाने के निशान थे। कई जगह दातों से काटा भी था। प्राइवेट पार्ट में गहरे जख्म थे। इस वजह से ब्लीडिंग बंद नहीं हो रही थी। मंगलवार को उसे भर्ती कराया गया था। बुधवार को डॉ. श्रद्धा ने सर्जरी की। उन्होंने बताया कि बच्ची की हालत बेहतर है। सर्जरी भी सफल हुई है। इलाज जारी है। 

डीएनए जांच होगी, फास्ट ट्रैक कोर्ट में चल सकता है केस
एसीपी ने बताया कि मामले में आरोपी के खिलाफ बेहद पुख्ता वैज्ञानिक साक्ष्य जुटाए गए हैं। डीएनए जांच भी कराई जाएगी। कम से कम समय में इसमें चार्जशीट दाखिल कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस की सुनवाई के लिए अर्जी दी जाएगी। जिससे जल्द से जल्द सुनवाई पूरी हो सके और आरोपी को सख्त सजा मिले।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00