विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

मूर्ति विसर्जन के दौरान गंगा में बहे फिरोजाबाद के चार लोग नहीं मिले, सर्च ऑपरेशन जारी

कासगंज। दशहरा के दिन दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के लिए पहुंचे फिरोजाबाद जिले के चार लोग कछला गंगा में बहकर लापता हो गए। चौबीस घंटे के बाद भी तलाश में जुटी टीम को कोई सफलता नहीं मिल सकी है। शनिवार के दिन प्रशासनिक अधिकारी गंगा में बहे चार लोगों के सर्च ऑपरेशन की पल-पल की जानकारी करते रहे।
शुक्रवार के दिन जिला फिरोजाबाद के नारखी थाना क्षेत्र के बछगांव से श्रद्घालुओं का टोला दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के लिए कछला घाट पर पहुंचा। संध्याकाल में प्रतिमा विसर्जन करते हुए चार लोग गहरे पानी में उतर गए। इसके बाद गंगा की तेजधार उन्हें अपने साथ बहा ले गई। दीपक गुप्ता (45), रामू (35), कुणाल (17), भोला (15) के गंगा में बहने की सूचना पर गोताखोरों की टीम सर्च ऑपरेशन में जुट गई। शनिवार क ो दिनभर युवकों की तलाश की गई। अभियान में मोटरबोट का सहारा भी लिया गया, लेकिन चारों लोगों का कोई सुराग शाम तक नहीं लगा। परिवार के लोग कछला गंगाघाट पर डटे रहे। प्रशासनिक और पुलिस टीम भी अपडेट लेती रही। श्रद्घालुओं के परिवार में कोहराम मचा हुआ है। इस दुर्घटना में दो अन्य श्रद्घालु भी गंगा में डूबे थे, जिन्हें गोताखोरों की मदद से बचा लिया गया।
पक्के घाट न होने से आए दिन होते हैं हादसे
कासगंज। कछला गंगाघाट पर प्रतिदिन ही सैंकड़ों की संख्या में श्रद्घालु गंगास्नान के लिए पहुंचते रहे। स्नान पर्वों और धार्मिक पर्वों पर तो यहां संख्या हजारों में पहुंच जाती है, लेकिन गंगाघाट पर पक्के घाट न होने के कारण आए दिन श्रद्घालुओं के डूबने के हादसे होते हैं। इस ओर शासन प्रशासन और जनप्रतिनिधियों का कतई ध्यान नहीं है। कछला के वाशिंदे राजू कश्यप का कहना है कि गंगा पर पक्के घाट का निर्माण होना जरूरी है।
... और पढ़ें

जिला पंचायत अध्यक्ष बोलीं- कार्य योजना बनाकर प्रधान गांवों मे कराएं विकास कार्य

कासगंज। विकास खंड अमांपुर में प्रधानों को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। ग्राम प्रधानों को ग्राम पंचायतों में विकास कार्यों से संबंधित जानकारियां दी गईं। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि ग्राम प्रधान अपने क्षेत्र में विकास कार्य प्राथमिकता से कराएं।
मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष रत्नेश कश्यप ने कहा कि प्रधान गांव के विकास की मजबूत कड़ी है। गांव का विकास होगा तभी प्रदेश व देश का विकास होगा। ग्राम प्रधान अपने गांव के विकास की कार्य योजना तैयार कर गांव में विकास कार्यों को प्राथमिकता से कराएं।। पात्र ग्रामीणों को सरकार की योजनाओं से लाभान्वित कराएं। डीपीआरओ देवेंद्र सिंह ने कहा कि संचारी रोगों की रोकथाम के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई कर कीट नाशक दवाओं का छिड़काव कराएं।
गांव में कहीं भी जल भराव की स्थिति पैदा न होने दें। लखनऊ से आए मास्टर ट्रेनर रामप्रकाश चौहान, सीमा चौधरी, अशोक कुमार सिंह ने ग्रामीणों को लाभ दिलाने वाली योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। साथ ही केंद्रीय वित्त, राज्य वित्त, स्वच्छ भारत मिशन सहित अन्य जानकारियां भी ग्राम प्रधानों को दी। प्रशिक्षण लेने वाले ग्राम प्रधानों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए।
इस दौरान सहायक विकास अधिकारी रामनिवास वर्मा, प्रधान शिव कुमार, आराम सिंह, देव सिंह, सरिता देवी, पुष्पलता, कृष्णा देवी सहित अन्य प्रधान मौजूद रहे।
... और पढ़ें

कासगंज-बरेली रेलमार्ग छह घंटे रहेगा ब्लॉक, यात्र करने से पहले ये पढ़ें

कासगंज। बरेली की ओर यात्रा करने वाले यात्रियों का आज परेशानियों से दो-चार होना पड़ सकता है। बरेली में अंडरपास के निर्माण को लेकर 6 घंटे का ब्लॉक लिया गया है। जिससे काशीपुर की ओर से आने वाली एक ट्रेन कासगंज नहीं आएगी और कासगंज से लालकुआं की ओर जाने वाली एक ट्रेन बरेली से आगे नहीं जाएगी।
अंडरपास निर्माण के कारण जिन ट्रेनों में समय संशोधन किया है उनमें ट्रेन संख्या 05335 जो काशीपुर से सुबह 5:40 बजे चलकर दोपहर 12:50 बजे कासगंज जंक्शन स्टेशन पहुंचती है, यह ट्रेन इज्जतनगर स्टेशन तक ही आएगी। इसके अलावा ट्रेन संख्या 05369 जो कासगंज से सुबह 6:10 बजे चलकर 11:30 बजे लालकुआं पहुंती है, यह ट्रेन सिर्फ बरेली सिटी तक ही जाएगी। ऐसे में यात्रा के लिए यात्री पहले से ही योजना बना लें। जिससे कि उन्हें यात्रा में समस्याओं का सामना न करना पड़े।
ये रहेगा ट्रेन संचालन में बदलाव
ट्रेन संख्या 05335 जो सुबह 5:40 बजे काशीपुर से चलकर कासगंज आती है यह ट्रेन काशीपुर के स्थान पर बरेली से ट्रेन संख्या 05369 बनकर चलेगी। इसी तरह कासगंज से लालकुआं जाने वाली ट्रेन संख्या 05369 कासगंज से न चलकर इज्जतनगर स्टेशन से ट्रेन संख्या 05335 बनकर चलेगी।
बरेली में कुदेशिया फाटक पर सीमित ऊंचाई वाले सब-वे का निर्माण होगा। इस कारण 6 घंटे तक ब्लॉक लिया गया है। इसलिए ट्रेनों के संचालन में संशोधन किया गया है। - राजेंद्र सिंह, पीआरओ, इज्जतनगर रेल मंडल
... और पढ़ें

उत्तराखंड में भारी बारिश से बाढ़ का खतरा: गंगा में छोड़ा गया 3.58 लाख क्यूसेक पानी, कासगंज में हाई अलर्ट

बीते तीन दिनों से पहाड़ों और मैदानी इलाकों में हुई बारिश का असर नहर-नदियों में दिखने लगा है। हरिद्वार बैराज से 3.58 लाख क्यूसेक पानी गंगा में छोड़ा गया है। यह पानी बिजनौर, नरौरा बैराज से होते हुए कासगंज में गंगा में पहुंचेगा। संभावित बाढ़ के मद्देनजर प्रशासन ने हाई अलर्ट कर दिया है। राजस्व और सिंचाई विभाग की टीमों को सक्रिय किया गया है।

पहाड़ी इलाकों में तेज बारिश हो रही है। जिससे पानी नदियों में छोड़ा जा रहा है। मंगलवार सुबह 8 बजे हरिद्वार बैराज से 291735 क्यूसेक पानी छोड़ा गया था। बिजनौर से 120740 क्यूसेक और नरौरा से 31988 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। दोपहर 12 बजे हरिद्वार बैराज से 372045 क्यूसेक, बिजनौर से 156357 क्यूसेक और नरौरा से 31988 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। 

अगले दो दिनों में आ जाएगा पानी 
दोपहर 2 बजे हरिद्वार बैराज से 358045 क्यूसेक, बिजनौर से 188198 क्यूसेक और नरौरा से 31988 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। यह पानी अगले दो से तीन दिनों में कछला गंगा में पहुंचेगा, जिससे कासगंज जिले में बाढ़ की आशंका बढ़ गई है। इसे लेकर जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है। एडीएम अजय कुमार श्रीवास्तव ने सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता और सभी उपजिलाधिकारियों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।
... और पढ़ें
कछला में बहती गंगा नदी कछला में बहती गंगा नदी

शरद पूर्णिमा 2021: सोलह कलाओं से परिपूर्ण चंद्रदेव की पूजा करने से बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा

बुधवार का अश्विन मास की पूर्णिमा है। इसे शरद पूर्णिमा कहा जाता है। इस दिन चंद्रदेव की पूजा-अर्चना करने का विशेष महत्व है। इस पूर्णिमा को कौमुदी, कोजागिरी या रास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। ज्योतिषाचार्य के अनुसार इस दिन चंद्रदेव की पूजा विधिविधान पूर्वक की जाए तो मां लक्ष्मी की विशेष कृपा बरसती है। सोलह कलाओं से परिपूर्ण चंद्रदेव इस दिन धरती के सबसे निकट होते हैं। 

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक भगवान श्रीकृष्ण चंद्रमा की सभी सोलह कलाओं से युक्त हैं। इस पूर्णिमा के दिन चंद्रमा से निकलने वाली किरणें चमत्कारिक गुणों से परिपूर्ण होती हैं। नवविवाहिता महिलाओं द्वारा किए जाने वाले पूर्व व्रत की शुरुआत शरद पूर्णिमा के त्यौहार से ही होती है, जिसे शुभ माना जाता है। 

इस दिन धन की देवी माता लक्ष्मी की पूजा भी की जाती है। मान्यताओं के अनुसार शरद पूर्णिमा का व्रत रखने के बाद पूर्ण रात्रि देवी लक्ष्मी की पूजा करने से व्यक्ति के जीवन से धन समस्याओं का अंत होता है और धन तथा वैभव की प्राप्ति होती है।
... और पढ़ें

रेल रोको आंदोलन : किसानों ने किया प्रदर्शन, रेलवे स्टेशन पर जाने के लिए पुलिस से नोकझोंक

कासगंज। सोमवार को जिले में किसान आंदोलन का अलर्ट था। किसान संगठनों का रेल रोको आंदोलन प्रस्तावित था, लेकिन पुलिस प्रशासन की सख्ती के चलते रेल रोकने में किसान सफल नहीं हुए, लेकिन किसानों ने जमकर नारेबाजी की। रेलवे स्टेशन में प्रवेश करने के लिए प्रशासन के द्वारा लगाए बैरिकेड किसानों ने हटा दिए। पुलिसबल से नोंकझोंक भी हुई। वहीं रेलवे स्टेशन परिसर में भी रेलवे सुरक्षा बल और पीएसी ने किसानों को अंदर प्रवेश नहीं करने दिया। यहां भी नोंकझोंक का आलम दिखाई दिया।
दोपहर तक काफी बारिश का माहौल बना हुआ था, लेकिन बारिश के बावजूद पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी अलर्ट पर थे। भारतीय किसान यूनियन स्वराज, भाकियू टिकैत के पदाधिकारी और कार्यकर्ता दोपहर के बाद किसानों की भीड़ के साथ जुलूस निकालते हुए निकले। किसान जमकर सरकार के विरोध में नारेबाजी कर रहे थे। गांधी मूर्ति पर जैसे ही किसानों का जुलूस पहुंचा तो जुलूस का नेतृत्व कर रहे किसान यूनियन स्वराज के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुलदीप पांडे ने अपने पदाधिकारियों के साथ रेलवे रोड मार्ग पर प्रवेश करना चाहा, लेकिन वहां बैरिकेड लगे थे। पुलिस और पीएसी के लोग बैरिकेड के दूसरी ओर खड़े थे। किसानों को रोकने के लिए समझाते नजर आए, लेकिन किसान नहीं माने, लेकिन बैरिकेड हटाकर रेलवे स्टेशन की ओर दौड़ पड़े। रेलवे स्टेशन परिसर में किसानों को नहीं घुसने दिया गया। वहां भी रेलवे सुरक्षाबल, जीआरपी पीएसी, पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी बैरिकेड पर मौजूद रहे।
इस दौरान किसान नेताओं और किसानों से पुलिस बल के बीच नोंकझोंक हुई। बाद में प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने किसानों को समझा बुझाकर शांत किया। किसानों ने अपने ज्ञापन सौंपे। किसान यूनियन स्वराज मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। इस दौरान यूनियन के जिलाध्यक्ष आशीष पांडे, राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव श्यामवीर सिंह, मोहित कुमार, उपेंद्र यादव, जयनंदन यादव, तोताराम, रामखिलाड़ी, संतोष कुमार आदि मौजूद रहे।
ये थीं किसानों की चार मांगें
- तीनों कृषि कानूनों को अतिशीघ्र वापस कराया जाए।
- एमएसपी रेट और खरीद दोनों पर बाध्यकारी कानून बनाया जाए।
- विद्युत बिल अधिनियम 2020 तत्काल रद्द किया जाए।
- संपूर्ण किसानों का केसीसी कर्जा माफ किया जाए।
कासगंज में रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार से घुस रहे भाकियू स्वराज के कार्यकर्ताओं को रोकती पुलिस ।
कासगंज में रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार से घुस रहे भाकियू स्वराज के कार्यकर्ताओं को रोकती पुलिस ।- फोटो : KASGANJ
... और पढ़ें

डेंगू से चिकित्सक सहित तीन की मौत, 101 मौतों के बाद भी प्रशासन कर रहा हवाई दावे

कासगंज/ गंजडुंडवारा। जनपद में जानलेवा बुखार व डेंगू का कहर लगातार बढ़ रहा है। सोमवार को एक ग्रामीण चिकित्सक सहित तीन लोगों की डेंगू से मौत हो गई। जिससे जिला में मौत का शतक पार हो गया। आंकड़ा बढ़कर 101 पर पहुंच गया। मौत के बाद से परिवारों में कोहराम मचा हुआ है। जिला में लगातार हो रही मौतों से लोगों में दहशत है।
ढोलना के जहांगीरपुर में ग्रामीण चिकित्सक डा. महेश को सात दिन पहले बुखार आया। वे इलाज के लिए अलीगढ़ चले गए। जहां चिकित्सकों ने उनको डेंगू पोजेटिव बताया। जहां उनकी अलीगढ़ में उपचार के दौरान मौत हो गई। उनकी मौत होते ही परिवार में कोहराम मच गया।
सोरों के सलेमुपर बीबी निवासी विशनुपांडे पुत्र कालीचरन को चार दिन पहले बुखार आया। परिजन उनको निजी चिकित्सक के पास ले गए। जहां चिकित्सक ने उनको डेंगू पोजेटिव बताया। इसके बाद परिजन उनको बरेली ले गए जहां उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई। इस गांव में अब तक आठ जानें डेंगू से जा चुकी है।
गंजडुंडवारा के चौडियाई निवासी सुरेश तिवारी (57) पुत्र कृष्ण मुरारी एवं उनकी पत्नी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सर्वेश कुुमारी को 10 दिन पहले बुखार आया। इसके बाद उनको निजी चिकित्सक को दिखाया गया। चिकित्सकों ने उनको डेंगू पोजेटिव बताया। इसके बाद दोनों को आगरा ले जाया गया। जहां सुरेश तिवारी की मौत हो गई। जबकि उनकी पत्नी का इलाज चल रहा है। मौत के बाद से परिवार में कोहराम मचा हुआ है।
स्वास्थ्य विभाग के दावे को झुठला रहे जनप्रतिनिधि
कासगंज। जिला में डेंगू व जानलेवा बुखार से लगातार मौतें हो रही है। अब तक 101 जानें बुखार व डेंगू से हो चुकी हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग जनपद में बुखार व डेंगू से किसी की भी मौत न होने का दावा कर रहा है। विभाग के द्वारा प्रतिदिन जिला में डेंगू, मलेरिया, एवं वायरल संक्रमितों की रिपोर्ट जारी की जा रही है, लेकिन इस रिपोर्ट में मौत का आंकडा शून्य ही दर्शाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के इन दावों को जनप्रतिनिधि झुठला रहे है। जिला में होने वाली मौतों की सूचना के बाद जनप्रतिनिधि पीड़ित परिवारों के पास पहुंचकर सांत्वना दे रहे हैं। रविवार को मोहनुपरा में बुखार से एक युवक की मौत होने के बाद सदर विधायक देवेंद्र राजपूत पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचे। उन्होंने पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया।
... और पढ़ें

शासन ने शिक्षकों के 6 करोड़ रुपये दबाए, नई पेंशन व्यवस्था के तहत प्रत्येक माह मानदेय से होती है 10 प्रतिशत की कटौती

कासगंज के जिला चिकित्सालय के डेंगू बार्ड में भर्ती डेंगू बुखार के मरीज ।
कासगंज। बेसिक शिक्षा विभाग में एक बड़ी अनियमितता सामने आ रही है। सरकार के शिक्षा विभाग के अधीन कार्यरत न्यू पेंशन स्कीम के तहत आने वाले शिक्षकों के वेतन से लगातार कटौती की जा रही है, लेकिन उनके खातों में धनराशि नहीं भेजी जा रही। पिछले नौ महीने से प्रति महीने हो रही कटौती के आधार पर लगभग 6 करोड़ रुपये सभी शिक्षकों के खातों में पहुंचने थे। रुपये न पहुंचने से मूल धन के अलावा 6 लाख रुपये तक की ब्याज का घाटा शिक्षकों को हुआ है।
वर्ष 2005 के बाद बेसिक शिक्षा में नियुक्त हुए शिक्षकों को पेंशन स्कीम से बाहर रखा गया है। जब शिक्षकों ने लंबे समय तक आंदोलन किया तो सरकार ने वर्ष 2018 में नई पेंशन व्यवस्था लागू की। इसके तहत शिक्षकों के वेतन से प्रति महीने 10 फीसद की कटौती के आदेश दिए गए और यह राशि शिक्षकों के न्यू पेंशन स्कीम खातों में जमा होनी थी, लेकिन जिले में बेसिक शिक्षा के लेखा विभाग ने नई पेंशन व्यवस्था के तहत शामिल हुए शिक्षकों के सामने समस्या खड़ी कर दी है। इन शिक्षकों के वेतन से प्रतिमाह धन राशि की कटौती तो की जा रही है, लेकिन खातों में धनराशि नहीं भेजी जा रही।
एनपीएस के खातों में धनराशि न भेजे जाने से शिक्षकों को ब्याज के लाभांश का घाटा हुआ है। वर्तमान समय में 10 फीसद तक का घाटा शिक्षकों को हो रहा है। जिससे शिक्षकों में आक्रोश बना हुआ है। नई पेंशन व्यवस्था के तहत शामिल शिक्षक राजवीर सिंह गौतम कहते हैं कि कई बार बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों से इस समस्या के समाधान की मांग की गई, लेकिन अधिकारियों ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया है।
आंकड़े की नजर से
- 3000 शिक्षक न्यू पेंशन स्कीम के तहत जिले में हैं कार्यरत
- 600 शिक्षकों की न्यू पेंशन स्कीम के तहत वेतन से होती है कटौती
नई पेंशन व्यवस्था के तहत शिक्षकों के खातों में धनराशि भेजी जा रही है। किसी ने अभी तक शिकायत दर्ज नहीं कराई है। यदि तकनीकि खामी से धनराशि पहुंचना बंद हुई है तो इसकी जानकारी करेंगे। शिक्षकों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा। - सुरेश यादव, लेखाधिकारी बेसिक
... और पढ़ें

मतदाता जागरुकता कार्यक्रम प्रतियोगिता में श्रीराम मंदिर व जामा मस्जिद का मॉडल रहा अव्वल

कासगंज। मतदाता जागरूकता के तहत सेंट जोसफ पब्लिक स्कूल में में ऐतिहासिक स्थलों की मॉडल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में छात्र छात्राओं ने आकर्षक मॉडल तैयार किए। आयोजक विद्यालय के मॉडल सर्वश्रेष्ठ रहे।
प्रतियोगिता का शुभारंभ जिला विद्यालय निरीक्षक एसपी सिंह ने फीता काटकर किया। उन्होंने कहा कि छात्र छात्राओं के द्वारा प्रतियोगिता में अपनी प्रतिभा का बेहतर प्रदर्शन किया है। उन्होंने विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किया। विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ. राबर्ट वरगिस ने बताया कि प्रतियोगिता में उनके विद्यालय के अलावा माउंट लिट्राजी, मायादेवी सहित अन्य स्कूलों के 218 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।
प्रतियोगिता में आयोजक विद्यालय के बच्चों द्वारा तैयार किए गए राम मंदिर और जामा मस्जिद के मॉडल ने प्रथम, लाल चौक के मॉडल ने द्वितीय, मैसूर पैलेस व संसद भवन का मॉडल तृतीय स्थान के लिए चुने गए। निर्णायक मंडल में एसजेएस पब्लिक स्कूल के शिक्षक अनिल तथा आसमा शामिल रहे। इस दौरान विज्ञान क्लब के जिला समन्वयक जयंत गुप्ता, सह समन्वयक अभिषेक पांडेय, आशीष सक्सैना, अखलेश राज आदि मौजूद रहे।
ये मॉडल तैयार किए बच्चों ने
राम मंदिर, जामा मस्जिद, लाल चौक, मैसूर पैलेस, संसद भवन,अक्षरधाम मंदिर, लोटस टेंपल, इंडिया गेट, लाल किला, हवा महल, हाबड़ा ब्रिज, चार मीनार, सांची स्तूप, बुलंद दरवाजा, जलियांवाला बाग, मतदान स्थल, केदारनाथ मंदिर, कुतुबमीनार के मॉडल प्रतियोगिता में रखे।
... और पढ़ें

बाइक सवार ने वृद्धा में मारी टक्कर, मौत

बाइक सवार ने वृद्धा में मारी टक्कर, मौत
सोरोंजी। कासगंज सोरों मार्ग पर होडलपुर के समीप एक बाइक सवार ने सड़क किनारे खड़ी वृद्धा को टक्कर मार दी। हादसे में बाइक सवार और वृद्धा गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें स्वास्थ्य केंद्र से जिला अस्पताल रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में ही वृद्धा की मौत हो गई।
होडलपुर निवासी करन सिंह अस्पताल के सामने दुकान लगाकर काम करते हैैं। रात्रि साढ़े आठ बजे उनकी पत्नी पीतम देवी (65) दुकान के पास सड़क किनारे खड़ी थीं। तभी फतेहपुरकलां निवासी अनुज कुमार अपनी बाइक से कासगंज की ओर से आ रहा था। उसने सड़क किनारे खड़ी पीतम देवी में टक्कर मार दी। इससे दोनों घायल हो गए। लोगों ने दोनों को स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, जहां से पीतम देवी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। रास्ते में ही पीतम देवी की मौत हो गई। घायल बाइक सवार का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। मृतका के बेटे मनोज कुमार ने बाइक सवार के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया।
... और पढ़ें

डेंगू-बुखार से किशोरी सहित 22 की मौत: एटा में लगातार बिगड़ रहे हालात, मैनपुरी में भी स्थिति खराब

ब्रज के जिलों में वायरल और डेंगू से लोगों की मौत का सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है। रविवार को 22 और लोगों की मौत हो गई। इनमें एटा के 10, मैनपुरी के 8 और फिरोजाबाद के दो, आगरा और कासगंज के एक-एक मरीज शामिल हैं। सबसे ज्यादा स्थिति एटा जिले में खराब है। यहां के निजी अस्पतालों में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। 

एटा के जलेसर के गांव लोहचा नाहरपुर निवासी खुर्शीद अली के पुत्र रसूल खां की बुखार से रविवार को मौत हो गई। गांव गढ़ी सलूकापुर निवासी विपिन पुत्र मुकेश कुमार, नाहरपुर निवासी शकुंतला, मोहल्ला शेरगंज निवासी हंसमुख की पुत्री आफमीन, मारहरा के मोहल्ला कायस्थान निवासी अखिलेश की पुत्री शीतल, नौबतराम की पुत्री तारादेवी ने दम तोड़ दिया। 

एटा के जलेसर के डेंगू से पीड़ित गांव गनेशपुर निवासी ओमप्रकाश पुत्र राजवीर की आगरा ले जाते समय मौत हो गई। इसी मोहल्ले के सुरेश (40) की मौत आगरा में उपचार के दौरान हो गई। जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती आयुष पुत्री शिवशंकर निवासी भोगांव जिला मैनपुरी और राममूर्ति पत्नी बिजेंद्र निवासी गांव करतला ने भी दम तोड़ दिया। 
... और पढ़ें

पराली जलाने पर लगाया पांच हजार का जुर्माना

पराली जलाने पर लगाया पांच हजार का जुर्माना
कासगंज। पराली जलाने वाले दो किसानों पर 2500-2500 रुपये का जुर्माना लगाया गया। सेटेलाइट से पराली जलाने की घटनाओं की जानकारी हुई। उसी पर यह कार्रवाई की गई है।
पराली जलाने से वायु प्रदूषण का खतरा बढ़ता है। इसी के चलते राष्ट्रीय विधिक हरित प्राधिकरण द्वारा पराली जलाने पर रोक लगा दी गई है। पराली जलाने की घटनाओं की लगातार सेटेलाइट से निगरानी की जा रही है। जिसमें सहावर क्षेत्र के सरसई नरू एवं मीरापुर फार्म पर पराली जलाने की जानकारी मिली। जिला कृषि अधिकारी ने मामले की सूचना तहसीलदार को दी। इसमें जांच में सरसई नरू निवासी राजभान सिंह द्वारा एवं मीरापुर फार्म में लखविंदर द्वारा पराली जलाने की घटनाएं सहीं पाई गईं। दोनों पर जुर्माना लगाया गया। यह जुर्माना प्राधिकरण के प्रावधानों के अंतर्गत किया गया है। जिला कृषि अधिकारी ने कहा कि पराली जाने पर जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

गंगा में बहे चार युवकों में से एक का शव मिला

गंगा में बहे चार युवकों में से एक का शव मिला
कासगंज। दशहरा के दिन दुर्गा मूर्ति विसर्जन के लिए पहुंचे फिरोजाबाद जिले के चार श्रद्धालु कछला गंगा में बह गए थे। रविवार को लगातार तलाशी के बाद पीएसी और गोताखोरों की टीम को एक युवक का शव मिला। वहीं तीन श्रद्धालु अभी भी लापता हैं।
रविवार को कछला गंगा में लापता हुए श्रद्धालुओं के परिजनों की नजर सर्च ऑपरेशन पर लगी रहीं। पूर्वाह्न के समय युवक कुणाल शर्मा(17) निवासी बचगांव नारखी जनपद फिरोजाबाद का शव बरामद हुआ। अन्य लापता दीपक गुप्ता(45), रामू (35) एवं भोला (15) की तलाश लगातार जारी है। परिवार के लोगों का गंगाघाट पर डेरा जमा हुआ है। सभी का रो रोकर बुरा हाल है। वहीं बदायूं की डीएम दीपा रंजन, एसएसपी डॉ. ओपी सिंह सहित अन्य अधिकारी गंगाघाट पर पहुंचे और पीड़ित परिजनों को ढांढस बंधाया। परिजनों ने सर्च ऑपरेशन तेज करने की मांग की।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00