विज्ञापन
विज्ञापन
शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021
Myjyotish

शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

मेरठ में दिनदहाड़े वारदात: घर में घुसकर महिला को मारी गोली, कमरे में सफाई कर रही थी आलिया

मेरठ में ब्रह्मपुरी के शिवशक्तिनगर में एक महिला को घर के अंदर ही अज्ञात हमलावर ने गोली मार दी। महिला को केएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एसपी सिटी विनीत भटनाकर, लिसाड़ीगेट व ब्रह्मपुरी थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली। वहीं पुलिस अधिकारी अस्पताल में महिला से बातचीत करने का प्रयास कर रहे हैं।

शिवशक्ति नगर निवासी सलमान की मकान के नीचे ही बाइक रिपेयरिंग की दुकान है। सलमान शुक्रवार दोपहर दुकान पर काम कर रहा था। सलमान की पत्नी आलिया ऊपर कमरे में साफ सफाई कर रही थी। इसी दौरान अचानक गोली चलने की आवाज आई तो सलमान ऊपर कमरे में पहुंचा। देखा कि आलिया के सीने में गोली लगी हुई है। 

यह भी पढ़ें: 
वर्दी का नशा: सपना चौधरी के गाने पर दरोगा का डांस, फिर कनपटी पर पिस्तौल लगाकर महिला से दुष्कर्म, देखें तस्वीरें

इसके बाद आलिया को केएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में फिलहाल महिला की हालत चिंताजनक बताई गई है। पुलिस को जांच के लिए मौके पर भेजा गया है। फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर जांच के लिए बुलाया गया है।

यह भी पढ़ें: बिजनौर में बड़ा हादसा: तालाब में पलटी कार, चार युवकों की मौत, शादी समारोह से लौट रहे थे घर
... और पढ़ें

धर्म परिवर्तन मामला: नाम बदलकर प्रेमजाल में फंसाया, फिर किया दुष्कर्म, अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर हड़पे 50 हजार

मुजफ्फरनगर शहर से सटे गांव निवासी युवती ने गांव संधावली निवासी दूसरे वर्ग के युवक पर प्रेमजाल में फंसाकर दुष्कर्म कर वीडियो बनाने और फिर धर्मांतरण का दबाव बनाते हुए अश्लील वीडियो वायरल करने का आरोप लगाया है। मामले को लेकर हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने थाने में हंगामा किया। जिस पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की।

नई मंडी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती ने तहरीर देकर बताया कि कुछ समय पूर्व एक युवक से उसका परिचय हुआ था, जिसने अपना नाम आकाश बताया था। आरोप है कि आकाश ने युवती को प्रेमजाल में फंसाकर उसे नशीली कोल्ड ड्रिंक पिला दी। उसके बाद दुष्कर्म किया और मोबाइल से अश्लील वीडियो बना ली।

इसके बाद आरोपी ने खुद को संधावली निवासी वसीम सक्का बताते हुए युवती पर धर्मांतरण करने का दबाव बनाया। उसने वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर उससे 50 हजार रुपये भी ले लिए।

यह भी पढ़ें: 
कवायद: यूपी में हॉट एयर बैलून से रोमांचक हवाई सफर का मजा ले सकेंगे पर्यटक, यहां चल रहीं तैयारियां

आरोप है कि युवती गर्भवती हो गई, तो उसने फर्जी शादी कर उससे मारपीट शुरू कर दी, जिससे गर्भपात भी हो गया। किसी तरह पीड़िता आरोपी के चंगुल से निकली और परिजनों को घटना की जानकारी दी। जिस पर परिजन उसे लेकर थाने पहुंचे और आरोपी के खिलाफ तहरीर दी।

यह भी पढ़ें: कैसे हो डेंगू से मुकाबला: जांच किट ही नहीं, बागपत के जिला अस्पताल में इलाज के लिए भटक रहे मरीज

उधर, हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ता भी थाने जा पहुंचे और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर थाने में हंगामा किया। पुलिस ने बुधवार शाम आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। आरोपी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है। उधर, सीओ मंडी हिमांशु गौरव का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

यूपी: बसपा एमएलसी और तत्कालीन एसडीएम सहित 12 लोगों पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

सहारनपुर में बेहट तहसील के तीन गांवों की 750 बीघा भूमि आवंटित पट्टों का कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर बैनामा कराने के मामले में बसपा एमएलसी (विधान परिषद का सदस्य) महमूद अली, पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल का पुत्र जावेद, तत्कालीन एसडीएम सहित 12 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में बेहट कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। 

यह रिपोर्ट रजिस्ट्रार कानूनगो दिनेश कुमार की ओर से दर्ज कराई गई है। आरोप है कि कूटरचना कर भूमि की श्रेणी परिवर्तन करने और उसका पट्टा आवंटित कर भूमि अब्दुल वहीद एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई। 

यह भी पढ़ें: 
वर्दी का नशा: सपना चौधरी के गाने पर दरोगा का डांस, फिर कनपटी पर पिस्तौल लगाकर महिला से दुष्कर्म, देखें तस्वीरें

गत नौ सितंबर को अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) की न्यायालय ने इस भूमि के 115 पट्टों का आवंटन निरस्त किया था और बेहट तहसील प्रशासन को भूमि पर कब्जा लेने का आदेश दिया था। इस आदेश के खिलाफ अब्दुल वहीद एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर से राजस्व परिषद से स्थगन आदेश लिया गया था।

यह भी पढ़ें: बिजनौर में बड़ा हादसा: तालाब में पलटी कार, चार युवकों की मौत, शादी समारोह से लौट रहे थे घर
... और पढ़ें

किल्लत: मेरठवासियों को आज से नहीं मिलेगा गंगाजल, इन स्थानों पर रहेगी पानी की भारी दिक्कत

गंगनहर और रजबहों की सफाई के लिए शुक्रवार मध्यरात्रि हरिद्वार से गंगनहर का पानी रोक दिया गया है। इससे मेरठ महानगर को मिलने वाला 38 हजार एमलडी गंगाजल भी आज से प्रभावित हो जाएगा। 

लगातार 22 दिन तक शहर की जनता को ट्यूबवेल, टैंकर और निजी संसाधनों से ही जलापूर्ति मिलेगी। अधिकारियों का दावा है कि शहर में पानी की कमी नहीं होने दी जाएगी।

यहां रहेगी पानी की भारी किल्लत 
विकासपुरी जलाशय से पूर्वी इस्लामाबाद, गोला कुंआ, स्टेट बैंक कालोनी, बुनकर नगर, रामनगर, आजाद रोड, विकासपुरी, आजाद नगर, लोहारपुरा, श्यामनगर, खुशहाल कालोनी, लक्खीपुरा,  किदवईनगर, उमरनगर, तारापुरी मुमताज नगर, ईदगाह कालोनी, समर कालोनी आदि क्षेत्रों में गंगाजल की आपूर्ति होती है। 

घंटाघर टाउन हॉल जलाशय :
इस जलाशय से घंटाघर, पत्थरवालान, सरायलालदास, लाला का बाजार, नील गली, शीशमहल, डालमपाड़ा, कागजी बाजार, जलीकोठी, केसरगंज, छतरी वाला पीर, खैरनगर, शहर सराफा, कबाड़ी बाजार, ब्रह्मपुरी सहित बड़े इलाकों में गंगाजल की आपूर्ति होती है। अब रविवार से इन इलाकों को ट्यूबवेल का पानी मिलेगा।

यह भी पढ़ें: 
आखिरी मोड़: राह भटकते ही एक साथ मौत के सफर पर निकल गए चार दोस्त, तालाब बना काल 
... और पढ़ें
गंगनहर गंगनहर

बड़ी तैयारी में रालोद: सहारनपुर में मंच से बरसे जयंत चौधरी, कहा-लखनऊ में बैठे बाबा को नहीं जनता की चिंता

रालोद सुप्रीमो जयंत चौधरी के आशीर्वाद कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए रालोद नेताओं ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। जोनल अधिकारी चौधरी यशवीर सिंह व प्रभारी चौ. फहीमूद्दीन शुक्रवार को नेताओं सहित दिनभर रैली की तैयारियों में लगे रहे। वहीं शनिवार को सुबह से ही जनसभा स्थल पर भारी संख्या में लोगों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई। बताया गया कि जुलूस के रूप में जयंत चौधरी को मंच तक लाया जाएगा। 

सहारनपुर में आशीर्वाद यात्रा जनसभा के मंच से रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि लखनऊ में बैठे बाबा को प्रदेश की जनता की कोई चिंता नहीं है। यह लोग सिर्फ समाज में झगड़ा-फसाद कराने का काम करते हैं, फर्जी कैराना पलायन, लव जेहाद, आतंकवाद जैसी बातें उछालकर प्रदेश को बदनाम करते हैं, जबकि उत्तर प्रदेश की पहचान इन सब मुद्दों से नहीं हैं, बल्कि इस प्रदेश के मेहनतकश किसान, मजदूर, व्यापारी और युवाओं की वैज्ञानिक सोच है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश का हर नागरिक तरक्की चाहता है विकास चाहता है, लेकिन भाजपा ने समाज को बांटने के अलावा कुछ नहीं किया है। जयंत चौधरी ने अपने दादा पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की नीतियों को भी याद दिलाया और कहा कि यूपी से लेकर उड़ीसा तक हर  राज्य में किसानों की ताकत एकजुट थी, क्योंकि उस समय पर जाति और धर्म के नाम पर लोग बंटे हुए नहीं थे। 

उन्होंने आह्वान किया कि सत्ता में बैठे, समाज को झगड़े-फसाद में झोंकने वालों को हटाने के लिए फिर से अपनी ताकत एकजुट होकर बढ़ानी है।

यह भी पढ़ें: 
पीएम-सीएम के पुतले जलाने पर अड़े किसान: भाकियू कार्यकर्ताओं की पुलिस से नोंकझोंक, कई नजरबंद, टकराव के आसार

इससे पहले जनसभा स्थल पर मौजूद अवसर पर नोमान मसूद, हमजा मसूद ने कहा कि मोदी, योगी सरकार का विकल्प रालोद गठबंधन ही है। कहा कि गुस्से में बैठी जनता सरकार से बदला लेने को तैयार है। वहीं जनसभा में भारी संख्या में भीड़ रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी को सुनने पहुंची।
... और पढ़ें

बड़ी कार्रवाई: सोतीगंज के शातिर हाजी गल्ला की करोड़ों की संपत्ति कुर्क, रिमांड से बचने को किया था बेहोशी का ड्रामा

मेरठ के सोतीगंज में चोरी-लूट की गाड़ियां काटने वाले शातिर कबाड़ी हाजी नईम उर्फ गल्ला की करोड़ों की संपति को कुर्क करने की कार्रवाई पुलिस ने शनिवार दोपहर को कर दी। पुलिस ने हाजी गल्ला के देहली गेट थानाक्षेत्र के पटेल नगर स्थित करोंडों की कोठी पर पहुंचकर कुर्की की कार्रवाई की। गुरुवार को कोर्ट में पुलिस रिमांड की सुनवाई से पहले हाजी गल्ला बेहोश हो गया था। पुलिस कस्टडी में हालत बिगड़ते ही गल्ला को आनन-फानन में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। करीब एक घंटा चेकअप चला और फिर उसे जेल भेज दिया गया। पुलिस का कहना है कि गल्ला ने बेहोशी का महज ड्रामा किया था। वहीं आज पुलिस ने जिला मजिस्ट्रेट के आदेश पर कुर्की की कार्रवाई की है। 

50 हजार का इनामी और कुर्की वारंट जारी होते ही गल्ला ने अपने चारों बेटों के साथ सात अक्तूबर को कोर्ट में सरेंडर कर दिया था, उसे जेल भेज दिया गया था। गल्ला के ठिकाने कहां-कहां हैं और उसका नेटवर्क कितना बड़ा है, इसका पता लगाने के लिए रिमांड को लेकर तीन दिन तक कोर्ट में जिरह चली। 

गुरुवार को पुलिस रिमांड पर कोर्ट निर्णय ले सकती थी। गल्ला व उसके बेटों को दोपहर में जिला जेल से पुलिस कस्टडी में कोर्ट ले लाया जा रहा था। कचहरी में गल्ला बेहोश होकर सड़क पर गिर गया। सिविल लाइन और सदर थाने की पुलिस ने गल्ला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। उसका ब्लड प्रेशर, शुगर आदि चेकअप हुआ, जो कि सामान्य मिला। वहीं कोर्ट में सुनवाई नहीं हो सकी।  

यह भी पढ़ें: 
किल्लत: मेरठवासियों को कल से नहीं मिलेगा गंगाजल, इन स्थानों पर रहेगी पानी की भारी दिक्कत
... और पढ़ें

पीएम-सीएम के पुतले जलाने पर अड़े किसान: भाकियू कार्यकर्ताओं की पुलिस से नोकझोंक, कई नजरबंद, टकराव के आसार

लखीमपुर खीरी प्रकरण में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी को मंत्रिमंडल से नहीं हटाने से नाराज किसानों ने आज पीएम मोदी, सीएम योगी आदित्यनाथ, गृह मंत्री अमित शाह, गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के पुतले जलाने का एलान किया है। इसे देखते हुए पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पुलिस-प्रशासन भी अलर्ट है।  

मेरठ से सटे हस्तिनापुर में भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने शनिवार को केंद्र सरकार का पुतला फूंकने प्रयास किया जिस पर पुलिस ने मौक पर पहुंचकर भाकियू कार्यकर्ताओं से पुतला छीनकर अलग किया। इस दौरान भाकियू कार्यकर्ताओं की पुलिस से तीखी नोकझोंक भी हुई। सूचना पर थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची और किसान संगठन से जुड़े कार्यकर्ताओं को नजरबंद कर दिया। वहीं टकराव की आशंका को देखते हुए विभिन्न स्थानों पर पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।

हस्तिनापुर क्षेत्र के कई गांव में भारतीय किसान यूनियन से जुड़े किसानों और पदाधिकारियों द्वारा क्षेत्र में पीएम का पुतला फूंकने की तैयारी थी। जिसकी सूचना मिलते ही थाना पुलिस ने पुतला फूंकने से पहले ही उन्हें भारी पुलिस बल के साथ उनके घरों पर ही नजरबंद कर दिया।
... और पढ़ें

आखिरी मोड़: राह भटकते ही एक साथ मौत के सफर पर निकल गए चार दोस्त, तालाब बना काल

meerut police
उत्तर प्रदेश के बिजनौर में शुक्रवार को कार सवार चार दोस्तों की एक साथ तालाब में डूबने से मौत हो गई। बरात के जश्न में डूबे कार सवार चारों दोस्तों को शायद ही इस बात का अंदाजा था कि वे इस जश्न में डूबने नहीं, बल्कि तालाब में डूबने जा रहे हैं। जहां उनकी जिंदगी का सफर हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा। एक गलत मोड़ उनकी जिंदगी का आखिरी मोड़ साबित हुआ। 

इन चार यारों को राह का एक गलत मोड़ मौत के सफर तक ले गया। जरा सा रास्ता क्या भटके कि मौत के तालाब में जा डूबे। दरअसल, ये चारों ही दोस्त दाएं और बाएं मोड़ में इस कदर उलझे कि पलक झपकते ही मौत के मुहं में समा गए। दायीं तरफ मुड़ने के बजाए बायीं ओर मुड़ते ही कार आगे बढ़ा दी, जो तालाब में जा गिरी। अगर गांव के बाहर निकलने के सही रास्ते का आभास रहा होता, तो शायद चारों दोस्तों की जान बच जाती और पांचवा भी जिंदगी और मौत से न जूझ रहा होता।
... और पढ़ें

रैपिड रेल: सुरंग बनाने के टेस्ट में पास हुई सुदर्शन, कॉरिडोर पर सीधे जोड़ी  जा रहीं पटरियां 

दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल की छह किलोमीटर लंबी सुरंग बनाने के लिए विदेश से सुदर्शन नाम की खास मशीन मंगाई जाएगी। यह मशीन टेस्ट में पास हो गई है। शहर में टीपीनगर तिराहे से जीरो माइल तक जनवरी में 6 सुदर्शन मशीनें लगाई जाएंगी। एनसीआरटीसी ने एक चार मिनट का वीडियो जारी कर बताया है कि स्टेशनों के लिए लिफ्ट, एस्केलेटर और पटरियां टेस्टिंग के चरण में पहुंच गई हैं।  

गांधी बाग से ट्रांसपोर्ट नगर तिराहे तक 5.8 किलोमीटर लंबी सुरंग केसरगंज, जलीकोठी जैसे पुराने इलाकों के हजारों मकानों के नीचे तैयार की जाएगी। शहर में रैपिड रेल करीब 15 से 20 मीटर गहराई में चलेगी। सुरंग बनाने के दौरान ऐसी आधुनिक मशीनें लगाई जाएंगी जो कहीं भी मकानों या सड़क आदि में आने वाली दरारों का संकेत दे देंगी। 

यह भी पढ़ें: 
बिजनौर : यहां राम के वियोग में चली गई 'दशरथ' की जान, अभिनय करते जमीन पर गिरे, फिर नहीं उठे
 
कॉरिडोर पर सीधे जोड़ी  जा रहीं पटरियां 
एनसीआरटीसी ने मेरठ स्थित शताब्दीनगर कॉस्टिंग यार्ड में ट्रैक स्लैब फैक्ट्ररी बनाई है। यहां पटरियों के स्लैब तैयार हो रहे हैं। साहिबाबाद से दुहाई के बीच 17 किलोमीटर लंबे पहले चरण के लिए इसी फैक्टरी से स्लैब पहुंचाए जा रहे हैं। वहां पटरियों को जोड़कर ट्रैक बनाया जा रहा है। इस ट्रैक पर काफी तेज गति से कार्य चल रहा है। सब ठीक रहा तो समय पर रैपिड दौड़ती नजर आएगी। 

रैपिड के सफर में दिखेंगे खूबसूरत नजारे 
2023 में रैपिड रेल का सफर करते वक्त आपके खूबसूरत नजारे भी दिखेंगे। रैपिड रेल यमुना और हिंडन को पार करेगी। इन दोनों नदियों को पार करने के लिए पुल बनाया जा रहा है। हिंडन एलिवेटेड रोड, ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे, डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर को भी रैपिड रेल कॉरिडोर पार करेगा।
... और पढ़ें

मेरठ: 28 अक्तूबर से जीआईसी मैदान में नगर निगम लगाएगा दीपावली मेला, तैयारियां शुरू

मेरठ नगर निगम आगामी 28 अक्टूबर से 4 नवंबर तक जीआईसी मैदान में दीपावली मेला लगाने जा रहा है। शहर के रेहडी पटरी वाले गरीब छोटे दुकानदारों को रोजगार और उचित स्थान उपलब्ध कराने के लिए यह मेला आयोजित किया जाएगा। शासन के निर्देश पर इसको लेकर शनिवार को नगर आयुक्त मनीष बंसल ने नगर निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की और मेले को भव्य बनाने के लिए प्रारूप तैयार किया। सभी अधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी।

मनीष बंसल ने कहा कि मेले में जहां छोटे दुकानदारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए दुकानें सजाई जाएंगी। वहीं मेले को आकर्षक बनाने और मेले में अधिक भीड़ पहुंचने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। दीपावली मेले में सभी विभागों योजनाओं से जुड़ी स्टॉल लगाई जाएंगी। 

यह भी पढ़ें: 
किल्लत: मेरठवासियों को कल से नहीं मिलेगा गंगाजल, इन स्थानों पर रहेगी पानी की भारी दिक्कत
 
मेले में सरकारी योजनाओं का भी प्रचार प्रसार किया जाएगा। इसके साथ-साथ नगर निगम स्वच्छ भारत मिशन के तहत जागरूकता कार्यक्रम से जुड़ी स्टॉल भी लगाएंगे नगर आयुक्त ने कहा कि छोटे सभी दुकानदारों को मेले में निशुल्क दुकान का स्थान दिया जाएगा साथी कुछ बड़े 20% दुकानदारों पर कुछ शुल्क भी निर्धारित करने का निर्णय लिया गया है। 

नगर आयुक्त ने नगर निगम निर्माण विभाग के अधिकारियों की कमेटी गठित कर के मेले का प्रारूप तैयार करने के निर्देश दिए हैं। मेले में सुंदर लाइटिंग झूले मिकी माउस खेल खिलौने आदि की दुकानें भी सजाई जाएंगी। बैठक में सहायक नगर आयुक्त बृजपाल सिंह इंद्र विजय सिंह चीफ इंजीनियर यशवंत कुमार अधिशासी अभियंता अमित शर्मा सहित समस्त अधिकारी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

हवा हुई खतरनाक: मेरठ में सांस लेना दूभर, 236 पहुंचा एक्यूआई, ग्रैप के बावजूद बुरा हाल

मेरठ शहर का वायु प्रदूषण स्तर अक्तूबर महीने में ही खराब श्रेणी में पहुंच गया है। शुक्रवार को पीएम 2.5-236 आ गया है, जबकि शहर का एक्यूआई 236 पहुंच गया। हर वर्ष की तरह इस बार भी बंद कमरे में 17 विभाग 22 अक्तूबर को कमिश्नर की अध्यक्षता में बैठक करेंगे। एनसीआरटीसी दावा कर रहा है कि स्मॉग गन तैयार कर ली है, लेकिन शहर में चल रहे प्रोजेक्ट के किनारे सड़क संकरी होने के कारण धूल उड़ रही है। इससे लोग परेशान हैं। 

यह भी पढ़ें:  
आखिरी मोड़: राह भटकते ही एक साथ मौत के सफर पर निकल गए चार दोस्त, तालाब बना काल

ग्रैप के बाद भी यह हाल
पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण की ओर से 15 अक्तूबर से ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) लागू कर दिया जाता है। इसके तहत यह ध्यान दिया जाता है कि सड़क पर धूल न उड़े, निर्माण सामग्री पर पानी का लगातार छिड़काव हो, कूड़ा जलाने पर रोक रहे, कोल्हू से निकलने वाले धुएं पर रोक रहे आदि।

इसके बाद भी शुक्रवार को शहर में सैकड़ों स्थानों पर रखी गई निर्माण सामग्री पर न तो पानी छिड़काव किया गया और न ही उन्हें ढंका गया। जगह-जगह दिनभर धूल उड़ती रही।

नगर निगम के पास नहीं स्मॉग गन 
वहीं, शहर की आबादी को प्रदूषण से निजात दिलाने के लिए स्मॉग गन का उपयोग किया जाना जरूरी है। इसके लिए नगर निगम की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए। लेकिन अभी तक निगम के पास स्मॉग गन की कोई तैयारी नहीं है।
... और पढ़ें

अमर उजाला खास:  एनओसी के फेर में आरसी से नहीं कट रहा वाहन लोन, दूसरी एनओसी के लिए करनी पड़ रही जेब ढीली 

बैंक और फाइनेंस कंपनियों के जारी की गई एनओसी का सत्यापन समय से नहीं करने के कारण वाहन स्वामियों को दूसरी एनओसी लेने के लिए जेब ढीली करनी पड़ रही है। इस वहज से वाहन स्वामी दूसरी एनओसी के लिए बैंक और फाइनेंस कंपनियों के चक्कर काट रहे हैं। 
 
केस एक: कंकरखेड़ा निवासी अंशु गोयल ने अपनी महेंद्रा एक्सयूवी 500 गाड़ी महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लिमिटेड से फाइनेंस कराई थी। गाड़ी का लोन चुकता होने के बाद अंशु ने तीन महीने पहले गाड़ी की आरसी से वाहन ऋण (हाइपोथिकेशन) खत्म कराने के लिए फाइनेंस कंपनी से एनओसी लेकर आरटीओ में जमा की थी। एनओसी वैधता के निर्धारित 90 दिन पूरे होने और सत्यापन के अभाव में एनओसी निरस्त हो गई। इसके बाद अंशु को एक हजार रुपये देकर दोबारा एनओसी लेनी पड़ी है। 
... और पढ़ें

वर्दी का नशा: सपना चौधरी के गाने पर दरोगा का डांस, फिर कनपटी पर पिस्तौल लगाकर महिला से दुष्कर्म, निलंबित

मेरठ के हस्तिनापुर थाने में तैनात दरोगा अरुण कुमार पर एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है। गुरुवार को एसएसपी दफ्तर पहुंची महिला ने शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया कि दरोगा उसके साथ तीन साल से दुष्कर्म कर रहा है। दरोगा उसकी मासूम बेटी को गन प्वाइंट पर ले लेता था और कभी अश्लील वीडियो वायरल करने की तो कभी गोली मारने की धमकी देता था। एसएसपी ने मामले की जांच एसपी देहात को सौंप दी है। दरोगा को निलंबित कर दिया गया है। 

ब्रह्मपुरी थाने की एक कॉलोनी में रहने वाली महिला ने एसएसपी दफ्तर पर बताया कि तीन साल पहले उसकी सहेली की स्कूटी चोरी हो गई थी। तब दोनों सहेलियों ने माधवपुरम पुलिस चौकी में शिकायत की थी। उस समय वहां चौकी इंचार्ज अरुण कुमार थे। दरोगा ने उनका नंबर ले लिया और बातचीत करनी शुरू दी। जांच के बहाने ही दरोगा 15 अगस्त 2018 को उनके घर पहुंचा। आरोप है कि दरोगा ने महिला की मासूम बच्ची की कनपटी पर पिस्तौल लगाकर जान से मारने की धमकी दी। दुष्कर्म कर अश्लील वीडियो बना ली और वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करता रहा। दरोगा अरुण हस्तिनापुर की भद्रकाली पुलिस चौकी पर तैनात है। छह दिसंबर 2020 को दरोगा ने फोन कर उसको हस्तिनापुर आने को कहा। महिला ने अपनी सहेली के यहां गंगानगर में होने की बात कह दी।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00