लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   China relaxes covid norms after people protest and security tightened before former president funeral

China: विरोध के बाद चीन ने कोरोना प्रतिबंधों में दी ढील, पूर्व राष्ट्रपति के अंतिम संस्कार के लिए सुरक्षा सख्त

पीटीआई, बीजिंग Published by: Jeet Kumar Updated Thu, 01 Dec 2022 08:14 PM IST
सार

चीन के कुछ व्यावसायिक क्षेत्रों में अस्थायी प्रतिबंध हटा दिए और जो लोग कोरोना संक्रमितों के संपर्क में आएंगे उनको अस्थायी आश्रयों के बजाय घर पर क्वारंटाइन करने की अनुमति दी है।

चीन में कोरोना वायरस
चीन में कोरोना वायरस - फोटो : PTI
विज्ञापन

विस्तार

चीन के पूर्व राष्ट्रपति जियांग जेमिन का निधन बुधवार को हो गया। उन्होंने 96 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। उनका अंतिम संस्कार अगले हफ्ते होगा। वहीं कोरोना को देखते हुए चीनी सरकार ने अंतिम संस्कार में आम लोगों के शामिल होने पर रोक लगा दी थी। लोगों के विरोध प्रदर्शन के बाद सरकार ने कई शहरों में कोविड प्रतिबंधों में ढील दी और देश भर में सुरक्षा बढ़ा दी है।



आधिकारिक मीडिया ने बताया कि कड़े लॉकडाउन के विरोध के बाद, चीन के शीर्ष औद्योगिक और व्यावसायिक केंद्र ग्वांगझू के कुछ क्षेत्रों में अस्थायी प्रतिबंध हटा दिए और जो लोग कोरोना संक्रमितों के संपर्क में आए हैं उनको अस्थायी आश्रयों के बजाय घर पर क्वारंटाइन करने की अनुमति दी है।


बीजिंग, शिजियाझुआंग, ताइयुआन में दी गई ढील
आधिकारिक मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि बीजिंग, शिजियाझुआंग, ताइयुआन के अलावा कई अन्य शहरों में कोविड पाबंदियों में ढील देने की घोषणा की गई। बीजिंग में कम लोग ही लॉकडाउन नीतियों का पालन करते दिखे। वहीं गुरुवार को कुछ इमारतों को बंद कर दिया गया, पूरे शहर में लोगों ने शिकायत की कि लंबी लाइनों में खड़े लोग भी कोरोना संक्रमित हो गए। शिकायतों के बाद कई कोविड परीक्षण केंद्रों को बंद कर दिया गया है।

जनता के सामने झुकी चीनी सरकार
जिनपिंग सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए शून्य कोविड लॉकडाउन नीति लागू की है। चीनी सरकार के फैसले के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया और लोग सड़कों पर उतर आए। राजधानी बीजिंग के बाद कई शहरों में विरोध प्रदर्शन तेज हो गए। शंघाई में कई जगहों पर विरोध प्रदर्शन हुए। लोगों ने कहा कि उन्हें अपने कामों और आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए लॉकडाउन से मुक्ति चाहिए। वहीं अब चीनी सरकार पहली बार अपनी जनता के सामने झुकती नजर आ रही है।

अगले हफ्ते पूर्व चीनी राष्ट्रपति जियांग का अंतिम संस्कार
बुधवार को चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के विशेषज्ञों ने कहा कि ऑमिक्रोन काफी तेजी से संक्रमित करता लेकिन घातक नहीं है। इसमें परिवर्तन काफी तेजी से होता है। हालांकि उन्होंने कहा कि ऑमिक्रोन अभी भी चीन में अधिक मौतों का कारण बन सकता है। पूर्व चीनी राष्ट्रपति जियांग का अगले हफ्ते मंगलवार को अंतिम संस्कार होना है। इस बीच, बीजिंग, शंघाई और कई अन्य शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00