भारत के अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी क्षेत्र में सहयोग से बहरीन बनेगा स्ट्रांग

भाषा, मनामा Updated Mon, 19 Nov 2018 03:40 PM IST
space
space
विज्ञापन
ख़बर सुनें
खाड़ी क्षेत्र के देश बहरीन और भारत के बीच अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी क्षेत्र में सहयोग के लिए अगले वर्ष के शुरू में करार हो सकता है। यह बात बहरीन के एक मंत्री ने कही है।
विज्ञापन


बहरीन के परिवहन और दूरसंचार मंत्री कमाल बिन अहमद मोहम्मद ने कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के साथ यह करार अगले वर्ष फरवरी तक होने के उम्मीद है। यह समझौता प्रशिक्षण और अनुसंधान में सहयोग के उद्येश्य से किया जा रहा है। 


मंत्री ने कहा, ‘बहरीन की राष्ट्रीय विज्ञान एवं अंतरिक्ष एजेंसी और इसरो के बीच एक करार पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। बहरीन की सरकार ने इसके लिए मंजूरी दी है और यह अब अंतिम चरण में है। उम्मीद है मैं हस्ताक्षर के लिए जल्दी ही, हो सकता है फरवरी में, अगली विमान प्रदर्शनी के समय भारत में होऊंगा।’ 

उन्होंने कहा कि यह समझौता मुख्यत: प्रशिक्षण के लिए होगा तथा दोनों देश अनुसंधान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि यह शुरूआत है। बहरीन सरकार अपने यहां कुछ लोगों को भारत भेजेगी जहां वे उपग्रह के डिजाइन और निर्माण के काम का आठ सप्ताह का प्रशिक्षण हासिल करेंगे।’ 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00