Mahindra : सेमीकंडक्टर की कमी के कारण महिंद्रा अगस्त में 7 दिन मनाएगी 'नो प्रोडक्शन डे', 25 फीसदी कम होगा उत्पादन

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अमर शर्मा Updated Thu, 02 Sep 2021 09:23 PM IST

सार

देश की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा ने गुरुवार को घोषणा की है कि वह सेमीकंडक्टर की कमी के कारण अपने मैन्युफेक्चरिंग प्लांट में इस महीने सात दिनों तक 'नो प्रोडक्शन डे' मनाएगी। 
Mahindra Car Plant
Mahindra Car Plant - फोटो : File Photo (Twitter)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

Semiconductor Chip Shortage in Automotive Industry : देश और विदेश में ज्यादातर वाहन निर्माता कंपनियां सेमीकंडक्टर की कमी के कारण उत्पादन के संकट से जूझ रही हैं। भारत की बात करें तो अगस्त के महीने में भले ही कई कंपनियों ने सालाना और मासिक आधार पर बिक्री में बढ़ोतरी दर्ज की है। लेकिन उनका कहना है कि सेमीकंडक्टर के संकट की वजह से उनकी ग्रोथ कम रही। रिपोर्ट के मुताबिक सेमीकंडक्टर की कमी का असर सितंबर के महीने में भी कई कंपनियों पर दिखेगा। 
विज्ञापन


देश की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी Mahindra and Mahindra (महिंद्रा एंड महिंद्रा) ने गुरुवार को घोषणा की है कि वह सेमीकंडक्टर की कमी के कारण ऑटोमोटिव डिवीजन के उत्पादन में 25 फीसदी तक की कटौती करेगी। घरेलू ऑटो निर्माता ने अपने मैन्युफेक्चरिंग प्लांट में सात दिनों का 'नो प्रोडक्शन डे' करने फैसला किया है। इसका असर यह होगा कि वाहन निर्माता के उत्पादन में 25 फीसदी की कटौती होगी। 

Mahindra XUV700
Mahindra XUV700 - फोटो : Mahindra
महिंद्रा के ऑटोमोटिव डिवीजन के मैन्युफेक्चरिंग प्लांट इस समय चाकन, नासिक, कांदिवली, जहीराबाद और हरिद्वार में हैं। हालांकि, कंपनी ने कहा है कि उसकी नई एसयूवी XUV700 के उत्पादन और लॉन्च योजनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

महिंद्रा एंड महिंद्रा भारत में एकमात्र कार निर्माता नहीं है जो सेमीकंडक्टर संकट के कारण आपूर्ति में व्यवधान का सामना कर रही है। टाटा मोटर्स, मारुति सुजुकी, निसान ने भी इसी तरह की समस्याओं की जानकारी दी है। मारुति सुजुकी ने भी उत्पादन में कटौती के संकेत दिए हैं।

विश्व स्तर पर, फोर्ड, जनरल मोटर्स, टोयोटा, निसान जैसे कई वाहन निर्माता पहले ही सेमिकंडक्टर संकट के कारण उत्पादन में कटौती या प्लांट बंद करने की घोषणा कर चुके हैं। 

Mahindra Bolero Neo
Mahindra Bolero Neo - फोटो : Mahindra
महिंद्रा ने अपनी नियामक फाइलिंग में कहा है कि कंपनी सितंबर 2021 के महीने में अपने ऑटोमोटिव डिवीजन प्लांट्स में लगभग 7 दिनों के 'नो प्रोडक्शन डे' मनाएगी। इस वजह से सितंबर में कंपनी के प्रोडक्शन वॉल्यूम पर 20 से 25 प्रतिशत की कमी आने का अनुमान है।

वाहन निर्माता ने अगस्त 2021 में घरेलू बाजार में 15,973 यात्री वाहनों की बिक्री की, पिछले साल इसी महीने में 13,651 यूनिट्स के मुकाबले, 17 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई। अब, आगामी त्योहारी सीजन से ठीक पहले उत्पादन में कटौती से आने वाले महीनों में इसकी बिक्री पर असर पड़ने की संभावना है। 

Mahindra Alfa
Mahindra Alfa - फोटो : Mahindra
उत्पादन में कटौती का मतलब है कि लोकप्रिय मॉडलों का वेटिंग पीरियड और बढ़ जाएगा। इसका असर यह हो सकता है कि कंपनी कुछ संभावित ग्राहकों को खो सकती है। महिंद्रा सिर्फ यात्री वाहन ही नहीं बेचती है, बल्कि इसका ऑटोमोटिव कारोबार कमर्शियल तिपहिया बसों, ट्रकों, ट्रैक्टरों जैसे क्षेत्रों में भी फैला हुआ है। वाहन निर्माता ने जानकारी दी है कि उसके यात्री वाहन व्यवसाय के अलावा अन्य ऑटोमोटिव व्यवसाय उत्पादन में कटौती के फैसले से प्रभावित नहीं होंगे।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00