लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Bihar ›   Apna Dal (Kamerawadi) founder Krishna Patel meets Nitish Kumar

सियासी हलचल: अपना दल की कृष्णा पटेल ने की नीतीश कुमार से मुलाकात, विपक्षी मोर्चा मजबूत करने की कवायद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना Published by: Amit Mandal Updated Mon, 26 Sep 2022 04:04 PM IST
सार

कृष्णा पटेल की बेटी पल्लवी पटेल ने इस साल उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उपमुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता केशव प्रसाद मौर्य को हराया था।

बिहार सीएम नीतीश कुमार
बिहार सीएम नीतीश कुमार - फोटो : सोशल मीडिया।
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अपना दल (कमेरावाड़ी) की संस्थापक कृष्णा पटेल ने सोमवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की और अपने मृत पति सोन लाल पटेल के साथ उनके लंबे संबंध को याद किया। कृष्णा पटेल की बेटी पल्लवी ने इस साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा के दिग्गज और उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को हराया था। कृष्णा ने नीतीश कुमार से उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की। उन्होंने बाद में संवाददाताओं से कहा कि मेरे पति की नीतीश जी के साथ लंबी दोस्ती थी। विपक्षी एकता बनाने के उनके प्रयास सराहनीय हैं, हालांकि यह हमारी बैठक के एजेंडे में नहीं था। 



कृष्णा पटेल की बेटी ने केशव प्रसाद मौर्या को हराया था 
कृष्णा पटेल की बेटी पल्लवी पटेल ने इस साल उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उपमुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता केशव प्रसाद मौर्य को हराया था। हालांकि उनसे अलग रह रहीं उनकी दूसरी बेटी अनुप्रिया पटेल राजग की सहयोगी और केंद्रीय मंत्री हैं। करीब तीन दशक पहले सोनेलाल पटेल ने अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के तहत सशक्त समूह कुर्मियों को पृथक मंच प्रदान करने के मकसद से अपना दल की स्थापना की थी।


उनकी मृत्यु के बाद अनुप्रिया पटेल ने कुछ समय तक पार्टी की अगुवाई की लेकिन उपचुनाव में अपने पति को टिकट देने पर परिवार में मतभेद पैदा हो गया और अपना दल का विभाजन हो गया। नीतीश कुमार के साथ कृष्णा पटेल की बैठक ऐसे समय हुई है जब चर्चा है कि राष्ट्रीय राजनीति में भूमिका निभाने के आकांक्षी नीतीश कुमार उत्तर प्रदेश से अगला लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं।

उत्तर प्रदेश में जनता दल (यू) नेताओं का मानना है कि लंबे समय से बिहार के मुख्यमंत्री पद पर आसीन कुमार को कुर्मी बहुल फूलपुर और मिर्जापुर से चुनाव लड़ना चाहिए। जवाहरलाल नेहरू ने फूलपुर संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00