पीएलआई योजना: टाटा समेत 19 कंपनियां सौर विनिर्माण में करेंगी निवेश, पारदर्शी प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया से होगा चयन

एजेंसी, नई दिल्ली। Published by: Jeet Kumar Updated Fri, 24 Sep 2021 12:40 AM IST

सार

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अप्रैल, 2021 में सौर पीवी मॉड्यूल की घरेलू विनिर्माण क्षमता बढ़ाने के लिए 4,500 करोड़ रुपये की पीएलआई योजना को मंजूरी दी थी।
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : pixabay
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

रिलायंस इंडस्ट्रीज, अदाणी समूह और टाटा समेत 19 कंपनियों ने उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना के तहत सौर विनिर्माण इकाई स्थापित करने में रुचि दिखाई है। योजना के तहत सोलर पीवी निर्माताओं का चयन पारदर्शी प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया से होगा। 
विज्ञापन


सूत्रों ने बताया कि रिलायंस इंडस्ट्रीज, अदाणी समूह, फर्स्ट सोलर, शिरडी साई और जिंदल पॉली ने पॉलीसिलिकॉन (चरण-1), वेफर (चरण-2), और सेल्स एंव मॉड्यूल (चरण-3 व 4) के विनिर्माण के लिए आवेदन किया है।


एलएंडटी, कोल इंडिया, रिन्यू और क्यूबिक ने चरण-2, 3 एवं 4 के लिए बोली लगाई है। नौ कंपनियों एक्मे, अवादा, मेघा इंजीनियरिंग, विक्रम सोलर, टाटा, वारी, प्रीमियर, एमवी और जुपिटर ने तीसरे एवं चौथे चरण (सेल, मॉड्यूल्स) के लिए रुचि दिखाई है।

मौजूदा समय में सौर क्षमता में वृद्धि काफी हद तक आयातित सौर पीवी सेल और मॉड्यूल पर निर्भर है। इसका मकसद एकीकृत सौर पीवी मॉड्यूल की 10,000 मेगावाट विनिर्माण क्षमता को जोड़ना है। इसमें 17,200 करोड़ रुपये का प्रत्यक्ष निवेश होगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00